Hindi News »Rajasthan »Kota» Dengue Snatched The Light Of The Lamp

डेंगू ने छीन ली दीपक की आंख की रोशनी, पहले भी 2 मरीजों का हो चुका ये हाल

केशवरायपाटन के रहने वाले 17 वर्षीय दीपक सुमन को 31 अक्टूबर को बुखार आने पर कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 11, 2017, 08:08 AM IST

  • डेंगू ने छीन ली दीपक की आंख की रोशनी, पहले भी 2 मरीजों का हो चुका ये हाल
    दीपक सुमन।
    कोटा।गूने एक और मरीज की आंखों की रोशनी छीन ली। केशवरायपाटन के रहने वाले 17 वर्षीय दीपक सुमन को 31 अक्टूबर को बुखार आने पर कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जांच में उसे डेंगू पॉजिटिव पाया गया। उस समय दीपक की प्लेटलेट्स 30 हजार तक रही थी। धीरे-धीरे उसकी हालत बिगड़ती गई और शुक्रवार को दीपक को बाईं आंख से दिखना बंद हो गया।
    - इलाज कर रहे डॉक्टरों की सलाह पर मरीज को नेत्र सर्जन डॉ. सुरेश पांडेय के पास लाया गया। डॉ. पांडेय ने बताया कि दीपक को आंख में सूजन थी और दर्द महसूस हो रहा था। जांच से पता चला कि उसकी आंख में खून भरा था, जिससे दिखाई देना बंद हो गया।
    - आंखों की अल्ट्रा सोनोग्राफी एवं सीटी स्कैन जांच कराई गई। इस स्थिति को मेडिकल टर्म में रिट्रोबल्बर हीमोरेज एवं विट्ररियस हेमरेज कहा जाता है। कोटा में इस डेंगू सीजन में ऐसे 2 केस पहले भी चुके। इस मरीज की आंख का प्रेशर 70 मिमी आॅफ मर्करी पाया गया, जिसके कारण उसकी दृष्टि तंत्रिका प्रभावित हुई और आंख की रोशनी हमेशा के लिए चली गई।
    तुरंत नेत्र चिकित्सक को दिखाएं
    - डाॅ.पांडेय ने बताया कि डेंगू से पीड़ित व्यक्ति की आंख में दर्द या रोशनी कम हो तो तुरंत नेत्र चिकित्सक से संपर्क करें। डेंगू से पीड़ित व्यक्ति को आंखों में रक्तस्राव हो सकता है, इसके अतिरिक्त आंख की नस पर सूजन विट्रीयस हेमरेज अथवा रिट्रोबल्बर हीमोरेज हो सकता है।
    - रिट्रोबल्बर हीमोरेज के कारण आंख की दृष्टि तंत्रिका पर दबाव पड़ता है, जिसके कुछ समय बाद आंख की देखने की क्षमता समाप्त हो जाती है। ऐसे में मरीजों में लेटरल केंथोटोमी नामक ऑपरेशन तुरंत करने पर आंख के दबाव को कम किया जा सकता है एवं दृष्टि तंत्रिका पर बढ़ते दबाव को रोका जा सकता है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×