Hindi News »Rajasthan »Kota» Padmavati Protest In Kota

पद्मावती विरोध :एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के पोस्टर पर मारी चप्पलें फिर जलाया

शहर में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 22, 2017, 08:28 AM IST

पद्मावती विरोध :एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के पोस्टर पर मारी चप्पलें फिर जलाया

कोटा. शहर में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को जहां करणी सेना ने लोगों को जोड़ने के लिए हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की, वहीं दूसरी ओर सर्व समाज की ओर से एरोड्रम सर्किल पर एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के पोस्टर पर चप्पलें मारी और पोस्टर में दीपिका की नाक काटकर पोस्टर को जलाया गया। सर्व समाज ने हिम्मत सिंह के नेतृत्व में एरोड्रम आकाश मॉल के बाहर आतिशबाजी की और दीपिका पादुकोण द्वारा प्रचारित किसी भी प्रोडक्ट का उपयोग नहीं करने को कहा गया। राष्ट्रीय नवनिर्माण संस्थान के अध्यक्ष हिम्मत सिंह ने कहा कि सभी राज्यों की सरकारें इसे प्रतिबंधित करें।
दीपिका के पोस्टर पर महिलाओं ने पहले चप्पलें मारी और उसके बाद पोस्टर की नाक काटी गई। उसके बाद पोस्टर को पेट्रोल डाल आग के हवाले किया गया। प्रदर्शन में लेखक जावेद अख्तर के बयान पर कड़ा एतराज जताया और उनसे देश में सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की मांग की, अन्यथा उन्हें देश छोड़ कर जाने के लिए कहा गया।


फिल्म पद्मावती पर प्रतिबंध को शहरवासियों ने दिया समर्थन
- श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की ओर से पद्मावती फिल्म को बैन की मांग को लेकर मंगलवार को शहर में हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। इसमें शहरवासियों ने राजस्थान के इतिहास को मनोरंजन के नाम पर तोड़-मरोड़कर पेश करने के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया। दोपहर 12 बजे से जेडीबी कॉलेज से हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की गई। इसमें छात्राओं ने इसे समर्थन देते हुए वाहन पर लगे बैनर पर हस्ताक्षर किए।

- छात्र शक्ति ने कहा कि जिस फिल्म में भारतीय संस्कृति व इतिहास के तथ्यों को तोड़मोड़ कर प्रदर्शित किया जाएगा व फिल्म नहीं चलने देंगे। इसके बाद ये अभियान राजकीय महाविद्यालय, कलेक्ट्रेट चौराहा, नयापुरा चौराहा, छावनी, चौपाटी व अंत में गोदावरी धाम वाहन पहुंचा। सब जगहों पर लोगों ने आगे बढ़कर बैनर पर हस्ताक्षर किए और फिल्म को नहीं चलने देने के लिए कहा। राष्ट्रीय करणी सेना प्रदेश उपाध्यक्ष मंजीत सिंह नाथावत ने कहा कि फिल्म में इतिहास को गलत तरीके से दिखाना बिल्कुल गलत है।

विधायक राजावत बोले-सीएम ने प्रदेश को जलने से बचा लिया

- विधायक भवानी सिंह राजावत ने कहा है कि विवादास्पद फिल्म पद्मावती को लेकर न केवल राजपूत समाज बल्कि संपूर्ण हिंदू समाज में जिस तरह का आक्रोश भड़क उठा था, उद्वेलित और उत्तेजित लोग पथराव व आगजनी पर उतारू थे, ऐसे हालातों में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाकर पूरे प्रदेश को आंदोलन की आग में जलने से बचा लिया। विधायक ने मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करते हुए कहा कि उन्होंने जनभावनाओं का आदर करके सूझबूझ का परिचय दिया।

- और इससे भी दो कदम आगे बढ़ते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने भोपाल में राजस्थान की वीरांगना रानी पद्मिनी का स्मारक बनाने की घोषणा की, वहीं उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केवल फिल्म पर प्रतिबंध ही नहीं लगाया बल्कि फिल्मकार संजय लीला भंसाली एवं अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को इस अनैतिक कृत्य के लिए कठोर सजा दिलाने की भी मांग की है।

- ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ पर जिस तरह आज पूरा देश एकजुट होकर खड़ा हो गया, इससे सिद्ध हो गया कि अब आने वाले समय में कोई फिल्म निर्माता, इतिहासकार, साहित्यकार ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करने का दुस्साहस नहीं जुटा पाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kota News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pdmaavti virodh :actress dipika paadukon ke poster par maari chpplen fir jlaayaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×