कोटा / घड़ियाल अभ्यारण्य में बजरी खुदाई व परिवहन की एवज में मांगी रिश्वत, वनरक्षक व केटल गार्ड गिरफ्तार

एसीबी कोटा की गिरफ्त में रिश्वत लेते पकड़े गए दोनों आरोपी एसीबी कोटा की गिरफ्त में रिश्वत लेते पकड़े गए दोनों आरोपी
X
एसीबी कोटा की गिरफ्त में रिश्वत लेते पकड़े गए दोनों आरोपीएसीबी कोटा की गिरफ्त में रिश्वत लेते पकड़े गए दोनों आरोपी

  • एसीबी कोटा की टीम ने की कार्रवाई, 10 हजार रुपए की मांगी थी रिश्वत
  • एसीबी ने चार हजार रुपए लेते रंगे हाथ किया दोनों आरोपियों को गिरफ्तार

दैनिक भास्कर

Feb 12, 2020, 05:37 PM IST

कोटा. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने बुधवार को एक वन रक्षक व केटल गार्ड को चार हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। रिश्वत की यह रकम राष्ट्रीय चंबल घड़ियाल अभ्यारण्य रेंज, ईटावा में प्रतिबंधित क्षेत्र में अवैध बजरी खनन करने और बजरी से भरी गाड़ियों को निकलवाने की एवज में मांगी गई थी। दोनों आरोपियों ने 10 हजार रुपए मांगे थे। फिर चार हजार रुपए लेने पर राजी हो गए और ट्रेप हो गए। उनसे रिश्वत की रकम बरामद कर ली है। यह कार्रवाई एसीबी कोटा के प्रभारी एडिशनल एसपी ठाकुर चंद्रशील कुमार के निर्देशन में की गई।

एएसपी ठाकुर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी दिनेश सिंह (55) गांव कुंदनपुर, सांगोद जिला कोटा हाल केटल गार्ड (वृक्षपालक) नाका घघटाना, क्षेत्रीय वन अधिकारी कार्यालय में पदस्थापित है। वहीं, सवाईमाधोपुर निवासी दूसरा आरोपी मुकेश चंद जाटव (33) हाल वन रक्षक, घघटाना चौकी है। इनके खिलाफ लाडपुरा, कोटा निवासी नीरज मीणा ने एसीबी में 10 फरवरी को केस दर्ज करवाया था। जिसमें बताया कि वह अपने निजी गांव के लिए मानसगांव, घघटाना की चंबल नदी से ट्रेक्टर ट्रॉली में बजरी भरकर ले जा रहा था।

तब आरोपी दिनेश सिंह ने उसे फोन कर ट्रेक्टर बंद करने की धमकी दी और उसे 10 हजार रुपए रिश्वत लेकर बुलाया। इस पर नीरज मीणा ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई। जिसमें बताया कि चंबल नदी से बजरी भरकर रोजाना सैंकड़ों ट्रेक्टर ट्रॉली घघटाना चौकी के सामने से गुजरते है। लेकिन चौकी पर तैनात कर्मचारी इन अवैध बजरी खनन से जुड़े बजरी माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय रिश्वत वसूलते है और उनके खिलाफ अवैध खनन करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं करते है।

तब 10 फरवरी को शिकायत का सत्यापन करवाया गया। आरोपी दिनेश सिंह ने परिवादी नीरज मीणा से 1 हजार रुपए ले लिए। बाकी रुपए बाद में देने को कहा। इस पर एसीबी कोटा में पुलिस इंस्पेकटर दलबीर सिंह फौजदार व अजीत बुगडोलिया के नेतृत्व में टीम गठित की ट्रेप रचा। जिन्होंने बुधवार को परिवादी से रिश्वत वसूल रहे दोनों वन विभाग के कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना