--Advertisement--

बेखौफ अपराधी / इलाज कराने आए ग्रामीण से मारपीट चाकू दिखा बदमाशों ने लूटे 1500 रुपए



Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 11:27 AM IST

रावतभाटा. मंडेसरा बस स्टैंड पर लूटपाट करने का मामला सामने आया है। आश्चर्य की बात यह है कि यह घटना दिन के 11 बजे की है। यहां एक निजी क्लिनिक में इलाज कराने आए रूद्धाखेड़ा के एक ग्रामीण को स्मैकची नहर के पीछे ले गए। वहां उसके साथ मारपीट की और बदमाशों ने 1500 रुपए लूट लिए। ग्रामीण सूरजमल मेघवाल का कहना है कि वह अपना इलाज कराने के लिए रावतभाटा आया था।

 

मना किया तो लात-घूसों से पीटा

 

इसी दौरान वह शौच के लिए नहर के पीछे जा रहा था। वहां कुछ लोग आए और मुझे रोक लिया। उन्होंने मुझसे जेब में रखे सारे पैसे देने को कहा। जब मैंने मना किया तो उन्होंने जमकर लात-घूसों से मारपीट शुरू कर दी। बाद में चाकू दिखाकर मुझे धमकाया और मेरे पास रखे 1500 रुपए छीन लिए।

 

इस दौरान ग्रामीण का शोर सुनकर घर से एडवोकेट टीकम सिंह, कैलाशचंद भोमलिया एवं अन्य लोग वहां पहुंचे। ये लोग ग्रामीण को बचाने के लिए एकजुट होकर वहां पहुंचे। स्थानीय लोगों को देखकर स्मैकची वहां से भाग गए। घटना की जानकारी एएसपी भवानीशंकर मीणा को मिली तो उन्होंने रावतभाटा थाने और स्वयं की गाड़ी मौके पर भेजी।

 

पुलिस ने इसके बाद शहर में नाकाबंदी भी करवाई, लेकिन आरोपी गिरफ्त में नहीं आ सके। लोगों ने बताया कि यह स्मैकची आए दिन ग्रामीणों से डरा-धमका कर लूट और मारपीट करते हैं, लेकिन कई लोग थाने तक शिकायत नहीं पहुंचाते। इसलिए स्मैकची ऐसी घटना को लगातार अंजाम दे रहे हैं। अगर पुलिस इस जगह पर कुछ सख्ती दिखाए तो अवैध काम और लूट-चोरी जैसी घटनाएं कम हो सकती हैं।

 

नहर किनारे का स्कूल बना स्मैकचियों का डेरा

 

स्थिति यह है कि नहर किनारे एक ऐसा स्कूल है, जिसका शुभारंभ नहीं हुआ। इसका लोकार्पण हो चुका है, लेकिन इसका उपयोग नहीं हुआ। यह स्कूल भवन स्मैकचियों का अड्‌डा है। यहां अक्सर स्मैकची नशा करने आते हैं। यहीं से घटनाओं को भी अंजाम दिया जाता है। आसपास के लोग भी इनसे परेशान हैं। लेकिन पुलिस की प्रभावी कार्रवाई नहीं हुई, इस कारण स्मैकचियों का आतंक बना हुआ है। बताया जाता है कि रावतभाटा में दो से तीन परिवार ऐसे हैं जो अभी भी स्मैक खुलेआम बेच रहे हैं। उन पर कार्रवाई नहीं होने से शहरवासी नाराज हैं।

 

बदमाशों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की जाएगी

 

स्मैकचियों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की जाएगी। नहर किनारे गश्त भी बढ़ाई जाएगी। लोग अपने साथ होने वाले अपराध की जानकारी पुलिस को जरूर दें ताकि कार्रवाई की जा सके। -दलपतसिंह राठौड़, सीआई, रावतभाटा

--Advertisement--