पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जेडीबी आर्ट्स की अध्यक्ष समेत छात्राओं की भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी, रातभर धरने पर बैठी रही छात्राएं

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धरने पर बैठी जेडीबी आर्ट्स कॉलेज अध्यक्ष प्रेरणा जायसवाल समेत छात्राएं।
  • छात्रसंघ का कॉलेज प्रशासन पर शपथग्रहण में कांग्रेसियों को बुलवाने का आरोप
  • कॉलेज प्रशासन का कहना, हमने अतिथियों की लिस्ट मांगी थी, छात्रसंघ ने नहीं दी

कोटा। जेडीबी आर्ट्स कॉलेज छात्रसंघ अध्यक्ष प्रेरणा जायसवाल सहित दो पदाधिकारियों की भूख हड़ताल बुधवारको दूसरे दिन भी जारी रही। छात्रसंघ अध्यक्ष सहित दो पदाधिकारियों ने छात्रसंघ शपथ ग्रहण समारोह में अतिथियों को बुलवाने के अधिकार उन्हें दिए जाने के मामले को लेकर मंगलवार शाम को भूख हड़ताल शुरू कर दी थी।


मंगलवार दोपहर तीन बजे से देर रात्रि तक कॉलेज गेट के बाहर छात्रसंघ अध्यक्ष प्रेरणा जायसवाल, उपाध्यक्ष आकांक्षा और संयुक्त सचिव गुंजन पारेता सहित एबीवीपी के पदाधिकारी टेंट लगाकर भूख हड़ताल पर बैठ गए। शाम सात बजे कॉलेज प्रशासन और देर रात तक पुलिस ने समझाइश की लेकिन, वे नहीं मानीं और भूख हड़ताल पर बैठी रहीं।


टैंट लगाकर छात्राएं सर्दी से बचने के लिए रजाई-गद्दे लेकर हड़ताल पर बैठी रहीं और नारेबाजी करने लगीं। एबीवीपी से जुड़े पदाधिकारी भी धरना स्थल पर पहुंचे। प्रेरणा ने बताया कि कॉलेज प्रशासन समारोह में कांग्रेस से जुड़े पदाधिकारियों को बुलवाना चाहता है जबकि कॉलेज प्रशासन अतिथियोंं को बुलवाने का अधिकार उन्हें दे। लेकिन, ऐसा नहीं हो रहा है। कॉलेज प्रशासन को कांग्रेसियों का प्रेशर और तबादले का डर है। उन्होंने कहा कि नियमानुसार छात्रसंघ शपथ एवं उद्घाटन समारोह छात्रसंघ पदाधिकारियों द्वारा तय अतिथियों से हो। ऐसे में हम कॉलेज प्रशासन से शपथ एवं उद्घाटन समारोह की अनुमति चाहते हैं। 
हमने दो महीने पहले ही अतिथियो को बुलवाने को लेकर बता दिया था। लेकिन, कॉलेज प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दिया। अब कॉलेज प्रशासन की मंशा साफ नजर नहीं आ रही है। हमारे सभी पदाधिकारी एबीवीपी
के हैं, लेकिन कॉलेज प्रशासन हमारी बात नहीं मान रहा है। वे दबाव में हैं।

प्रिंसिपल और कार्यवाहक प्रिंसिपल छुट्टी पर, नहीं हो रहा है समाधान


जेडीबी आर्ट आर्ट कॉलेज में प्रिंसिपल डा. अनिता गुप्ता अवकाश पर है। कार्यवाहक प्रिंसिपल डा. कल्पना बोहरा भी मंगलवार से अवकाश पर हैं। ऐसे में सीनियर फैकल्टी डा. अरूणा कौशिक के पास कार्यवाहक प्रिंसिपल का चार्ज आ गया है। छात्राओं ने कहा कि सभी लोग छुट्टियों पर जा रहे हैं। ऐसे में उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हो रहा है। ऐसे में समारोह की अंतिम तिथि 15 दिसंबर निकल जाएगी। लेकिन, वो अब ऐसा नहीं होने देंगे। कार्यक्रम की अनुमति लेकर रहेंगे। जिनमें उनके अतिथि आएंगे।

हमने नाम मांगे थे, लेकिन पदाधिकारियों ने नहीं दिए


कार्यवाहक प्रिंसिपल डा. अरूणा कौशिक ने बताया कि हमने छात्रसंघ अध्यक्ष प्रेरणा जायसवाल एवं पदाधिकारियों से अतिथियों के शाम 7 बजे तक नाम मांगे थे लेकिन, नहीं दिए हैं। यदि अतिथियों के नाम ये देते तो हम इनकी मांग आयुक्तालय को भिजवा देते। रात्रि को भी इनसे समझाइश की है। इस संबंध में जिला प्रशासन और पुलिस को भी सूचित कर दिया है।

भाजपा सरकार के समय जारी हुआ था आदेश, उसकी पालना करवा रहे हैं- कॉलेज प्रशासन


कॉलेज प्रशासन ने भाजपा सरकार के समय कॉलेज शिक्षा आयुक्तालय की ओर से जारी आदेश में जनप्रतनिधियों को बुलवाने का हवाला दिया है। इसमें निर्देश है कि गवर्नमेंट कॉलेजों में आयोजित होने वाले समारोह में जन-प्रतिनिधियों को उचित सम्मान देकर आमंत्रित किया जाए। इसके अलावा जिक्र है कि राज्य सरकार के प्रतिनिधियों मंत्रीगण की उपलब्धता के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किए जाएं।

न्यूज व फोटो- वीडियो : प्रवीण जैन
 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें