• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kota
  • 300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
--Advertisement--

300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन

तापमान बढ़ने के साथ ही जिले के 300 से अधिक गांवों में पानी का संकट शुरू हो गया है। पीएचईडी को प्रतिदिन टैंकर वाले...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 04:40 AM IST
300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
तापमान बढ़ने के साथ ही जिले के 300 से अधिक गांवों में पानी का संकट शुरू हो गया है। पीएचईडी को प्रतिदिन टैंकर वाले गांवों की संख्या बढ़ानी पड़ रही है। अभी करीब 200 से अधिक गांवों में टैंकरों से पानी की सप्लाई हो रही है। शहर में भी कई मोहल्ले पानी की किल्लत से जूझ रहे हैं। धनवाड़ा क्षेत्र, कालिदास कॉलोनी, नला मोहल्ला, मंगलपुरा टेक, पुराना पोस्ट ऑफिस के पीछे का क्षेत्र सहित अन्य हिस्सों में पानी की समस्या बनी हुई है। लोग दो से तीन किमी दूरी से पानी लाने को मजबूर हैं।

जिले में जगह-जगह बांधों का निर्माण हो चुका है। जलस्त्रोतों में अभी पर्याप्त पानी है। इसके बावजूद लोगों को पेयजल के लिए भटक रहे हैं। इसके पीछे पीएचईडी की ओर से बेहतर मैनेजमेंट नहीं होना सामने आ रहा है। शहर में पानी की समस्या हल करने के लिए कालीसिंध बांध से पानी छोड़ा गया, लेकिन अभी तक लोगों की परेशानी दूर नहीं हो पाई है। समस्या का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि झालावाड़ शहर में 50 से अधिक शिकायतें पानी की समस्या को लेकर सामने आ रही हैं। इसी तरह जिले के पनवाड़ क्षेत्र में दहीखेड़ा, हरिगढ़, बकानी क्षेत्र में कुशलपुरा, आगरिया सहित अन्य ग्राम पंचायतों को पानी का संकट बना हुआ है। यहां लोगों को टैंकरों से भी राहत नहीं मिल पा रही है।

गंदे पानी की हो रही सप्लाई

शहर के कई हिस्सों में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है। शहर के पुरानी जेल रोड, इमाम सागर, पीलखाना सहित अन्य क्षेत्रों में गंदा और मटमैला पानी आ रहा है। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोगों ने बताया कि कई बार अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन इसका कोई हल नहीं निकल पा रहा है।

सार्वजनिक नलों और नलकूपों पर सुबह से ही लगती है भीड़

बकानी. पानी की टंकी पर लगी भीड़।

युकां कार्यकर्ताओं का चार घंटे प्रदर्शन, मटके फोड़े

पेयजल समस्या को लेकर युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को चार घंटे प्रदर्शन किया। युकां कार्यकर्ता सुबह 10 बजे से ही पीएचईडी कार्यालय पहुंचे और मुख्य द्वार पर प्रदर्शन किया। लोगों का कहना था कि भीषण गर्मी में पानी जुटाने के लिए लोगों को दिनभर मशक्कत करनी पड़ रही है। 10 से 15 मिनट भी नल में पानी नहीं आता है जबकि, अधिकारी कह रहे हैं कि पर्याप्त पानी दिया जा रहा है। वहीं गंदा और बदबूदार पानी आने से लोगों को पेटदर्द, उल्टी की शिकायतें होने लगी है। कार्यकर्ताओं ने बताया कि जिले में बड़ी संख्या में बांध और चैक डेम का निर्माण हो चुका है। इसके बावजूद पानी की कमी बताई जा रही है। टैंकरों से भी लोगों के घरों में पानी नहीं पहुंच पा रहा है। प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं ने खाली मटकियां भी फोड़ी। पीएचईडी एसई मौके पर पहुंचे तो कार्यकर्ताओं ने उनका घेराव कर नारेबाजी की। एसई ने एईएन को बुलाकर दो दिन में इस समस्या का निस्तारण करने की बात कही। इस अवसर पर युवक कांग्रेस के प्रदेश सचिव इमरान अली, जिला कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष रमजान खान, जिला उपाध्यक्ष अहफाज अली, पार्षद अंजना बैरवा, राजेंद्र कुमार बंसल, अकरम मंसूरी, पवन जैन, इरफान अली सहित अन्य मौजूद रहे।


झालावाड़. पानी की समस्या को लेकर पीएचईडी के बाहर धरना देते कांग्रेसी।

पनवाड़. बर्दगुवालिया गांव में एक नलकूप पर लगी भीड़।

300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
X
300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
300 गांवों में पेयजल संकट, शहर में 50 शिकायतें रोज, पानी जुटाने में बीत रहा दिन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..