Hindi News »Rajasthan »Kota» नियमों के बहाने िदल्ली की उड़ान रोकने वाले एएआई ने लिया यू-टर्न, इजाजत दी; अब कंपनी तैयार नहीं

नियमों के बहाने िदल्ली की उड़ान रोकने वाले एएआई ने लिया यू-टर्न, इजाजत दी; अब कंपनी तैयार नहीं

विमान सेवा बंद होने के बाद सुप्रीम एयरलाइंस ने सोमवार को एसपी सिटी को दी शिकायत में एयरपोर्ट अधिकारी लोकेश...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 05:00 AM IST

विमान सेवा बंद होने के बाद सुप्रीम एयरलाइंस ने सोमवार को एसपी सिटी को दी शिकायत में एयरपोर्ट अधिकारी लोकेश निर्वाण पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाते हुए एफआईअार की मांग की है। सीईओ अमित के अग्रवाल की शिकायत में कहा गया है कि निर्वाण ने 11 अप्रैल को कंपनी के भगवत प्रसाद से फ्लाइट संचालित करने के एवज में 10 लाख रुपए मांगे। निर्वाण ने अगले दिन दोपहर 3:13 बजे फोन पर कहा-5 लाख रुपए एएआई के जीएम एटीएम एसके पुरवार तथा 5 लाख मेरे लिए मांग रहा हूं। 30 मिनट में पैसा नहीं दिया तो उड़ान की अनुमति नहीं देंगे। 3:56 बजे भी निर्वाण ने यही कहा। पैसे नहीं दिए तो अनुमति निरस्त कर दी।

सुप्रीम एयरलाइंस ने कहा- 10 लाख की रिश्वत मांगी थी एयरपोर्ट अधिकारी ने, एसपी से शिकायत

लोकेश निर्वाण ने आरोप गलत बताए, कहा-मेरी और एएआई की छवि खराब करने की कोशिश

क्लियरेंस के नाम पर रोकी थी फ्लाइट

चार दिन पहले कोटा से सुप्रीम एयरलाइंस की फ्लाइट बंद करने के बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी (एएआई) के अधिकारी रविवार को ही बैकफुट पर आ गए। एएआई के जीएम एटीएम एसके पुरवार ने रविवार रात कोटा एयरपोर्ट प्रभारी को मेल किया और कहा कि सुप्रीम एयरलाइंस की क्लीयरेंस को लेकर सीएचक्यू (ऑपरेशन्स) के स्तर पर प्रक्रिया चल रही है, तब तक उन्हें उड़ान की अनुमति दे दी जाए। यही मेल एयरपोर्ट अधिकारी ने कंपनी को भी भेज दिया। लेकिन इसके बावजूद सोमवार को कोटा एयरपोर्ट पर फ्लाइट नहीं आई।

उड्डयन सचिव से मिले सांसद

सांसद ओम बिरला ने सोमवार को दिल्ली में नागरिक उड्डयन सचिव राजीव नयन चौबे से मुलाकात कर कोटा से फ्लाइट बंद करने पर आपत्ति जताते हुए दोबारा शुरू करने की मांग रखी। सांसद ने कहा कि काफी प्रयासों के बाद कोटा-दिल्ली हवाई सेवा शुरू हुई, लेकिन नियमों में उलझाकर इसे रोकने का प्रयास किया जा रहा है। इस सेवा को फिर से चालू किया जाए। सांसद ने बताया कि केंद्रीय उड्डयन मंत्री के दिल्ली से बाहर होने के कारण उनसे मुलाकात नहीं हो पाई है। एक-दो दिन में मंत्री के दिल्ली आने पर उनसे मिलूंगा।

आरोप साबित करे कंपनी, नहीं तो लीगल एक्शन लूंगा : निर्वाण

एयरपोर्ट अधिकारी लोकेश निर्वाण ने कहा कि यह मेरी और एएआई की छवि खराब करने का प्रयास है। यदि आरोप लगाया है तो उसे साबित करें, नहीं तो लीगल ऑप्शन मेरे लिए भी खुले हुए हैं। मेरी दो बार भगवत से बात हुई थी और मैंने सिर्फ इतना ही कहा था कि फ्लाइट बिफोर हो तो हमें सूचना जरूर दें। यदि पैसा मांगा है तो उनसे रिकॉर्डिंग मांग लीजिए। वहीं, फ्लाइट बंद करना या दोबारा अनुमति देना मेरे स्तर का मामला है ही नहीं। जीएम के स्तर से पहले मेल आया कि बंद कर दीजिए तो मैंने उस मेल को कंपनी को भेजा, फिर से रविवार को जीएम ने मेल किया कि क्लीयरेंस का मामला सीएचक्यू स्तर पर चल रहा है, तब तक इन्हें अनुमति दी जाए। उधर, जीएम एटीएम पुरवार को भास्कर ने पूरे मामले पर पक्ष रखने के लिए मैसेज किया, लेकिन उनका कोई जवाब नहीं आया।

अधिकारियों पर कार्रवाई के बाद ही शुरू करेंगे कोटा से फ्लाइट : कंपनी

कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट आकाश अग्रवाल ने कहा कि जब से दिल्ली की फ्लाइट शुरू हुई, तब से एयरपोर्ट अधिकारी पैसा मांग रहे थे। पहले हम इसे गंभीरता से नहीं ले रहे थे, लेकिन बाद में जब कॉल करके ये ऑपरेशन बंद कराने की धमकियां देने लगे तो हम गंभीर हुए। हम किस बात का पैसा दें, क्या कोई चोरी कर रहे हैं? रहा सवाल कोटा से फ्लाइट फिर से शुरू करने का तो हम करेंगे। लेकिन एक बात बताइए, दो दिन पहले इन्होंने उड़ान बंद कर दी, फिर अब अनुमति दे दी? इन लोगों का क्या भरोसा, ये कल फिर से बंद कर देंगे। इन्हें पता नहीं कि इससे हमारी कंपनी का कितना नाम खराब हुआ और आर्थिक नुकसान हुआ। जब तक इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं होती, हम कोटा से फ्लाइट शुरू नहीं कर पाएंगे। हां, एलन से हमारा कमिटमेंट है, उनके लिए 18 अप्रैल को स्पेशल फ्लाइट जरूर भिजवाएंगे।

V/s

सुप्रीम एयरलाइन ने एक शिकायत भेजी है, जो जांच के लिए जवाहर नगर थानाधिकारी को दी है। मामले की जांच होगी, उसके बाद ही एफआईआर दर्ज कर सकते हैं। शिकायत में एयरपोर्ट अधिकारी पर 10 लाख रुपए मांगने का आरोप लगाया गया है। - अंशुमन भौमिया, एसपी सिटी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kota

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×