• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kota
  • वार्डों से हटेंगे कचरा पाॅइंट, कंट्रोल रूम में दर्ज होंगी शिकायतें, बांटे जाएंगे डस्टबिन
--Advertisement--

वार्डों से हटेंगे कचरा पाॅइंट, कंट्रोल रूम में दर्ज होंगी शिकायतें, बांटे जाएंगे डस्टबिन

कोटा व्यापार महासंघ और नगर निगम अब कोटा शहर को स्वच्छता में आगे रखने के लिए शहरभर में हर दुकानदार को डस्टबिन...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 05:20 AM IST
वार्डों से हटेंगे कचरा पाॅइंट, कंट्रोल रूम में दर्ज होंगी शिकायतें, बांटे जाएंगे डस्टबिन
कोटा व्यापार महासंघ और नगर निगम अब कोटा शहर को स्वच्छता में आगे रखने के लिए शहरभर में हर दुकानदार को डस्टबिन बांटेगा और लोगों को जागरूक करेगा। वहीं, नगर निगम वार्डों में कचरा पाॅइंट हटाएंगे और नई भर्तियां करके शहर को साफ करेंगे। महासंघ ने शहर को स्वच्छता जन जाग्रति अभियान में देश में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर प्रसन्नता व्यक्त की है।

महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी ने बताया कि अब हमारा मूल उद्देश्य शहर को स्वच्छता में प्रथम स्थान दिलाने के साथ-साथ कोटा को ग्रीन सिटी, अतिक्रमण मुक्त समुचित पार्किंग एवं व्यवस्थित यातायात व्यवस्था स्थापित कर कोटा शहर को देश के अग्रणी स्वच्छ शहरों में शामिल करने की कार्य योजना बनाई जा रही है। कोटा व्यापार महासंघ अपने स्तर पर शहर को 15 जोन में बांटकर व्यापारी प्रतिनिधियों को उन क्षेत्रों की स्वच्छता एवं अन्य व्यवस्थाओं में सहयोग करने का प्रयास करेगा। महापौर महेश विजय ने कहा कि लोगों के सहयोग से यह संभव हो पाया है। अब कॉलोनी व वार्डों से कचरा पाइंट हटाए जाएंगे। आधुनिक कचरा पाॅइंट बनाने के लिए भी कुछ स्थान चिह्नित किए हैं। वहीं, नई भर्तियां करवाकर समान रूप से वार्डों में महिला व पुरुष सफाई कर्मी लगाएंगे। वार्डों में सफाईकर्मी बढ़ाए जाएंगे। एक कंट्रोल भी शुरू किया जाएगा। जो सुबह 10 से रात 12 बजे तक लोगों की सफाई संबंधी शिकायतें सुनेगा।

उप महापौर सुनीता व्यास ने बताया कि पहली दो उपलब्धियों के बाद स्वच्छता को लेकर यह तीसरी बड़ी उपलब्धी है हम इसे कायम रखते हुए कोटा व्यापार महासंघ के साथ मिलकर कोटा शहर को इंदौर, भोपाल, चंडीगढ़ की श्रेणी में लाने का भरपूर प्रयास करेंगे। उपायुक्त श्वेता फगेड़िया ने कहा कि नगर निगम ने कोटा व्यापार महासंघ के साथ मिलकर शहर के बाजारों एवं गलियों में जाकर स्वच्छता का संदेश दिया। सिटीजन फीडबैक में प्रथम आने के लिए नगर निगम ने जो कार्य योजना बनाई थी, उसे सुनियोजित करने में व्यापार महासंघ और यहां की जनता ने भरपूर सहयोग दिया। दी एसएसआई एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष प्रेम भाटिया एवं पूर्व सचिव राजकुमार जैन ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में भी स्वच्छता अभियान चलाया गया और डस्टबिन बांटे गए। भाटिया ने घोषणा कि करीब एक हजार डस्टबिन शहर के बाहरी क्षेत्रों के बाजारों एवं बस्तियों में उद्योग जगत की तरफ से बांटकर स्वच्छता का संदेश दिया जाएगा।

अब हमारी जिम्मेदारी है कि स्वच्छता में भी बाजी मारें

जानकारी देते मेयर और व्यापार महासंघ के पदािधकारी।

जनता ने स्मार्ट सिटी बनाने में महासंघ और नगर निगम को बहुत सहयोग दिया है। अब हमारी जिम्मेदारी है कि अब शहर को स्वच्छता में भी फर्स्ट लाएं। दैनिक भास्कर ने कोचिंग के बच्चों से एक साथ जो अभियान चलाया और एप डाउनलोड नतीजा है कि कोटा नंबर वन पहुंचा। महासंघ पूरे शहर में डस्टबिन बांटकर जागरूकता अभियान चलाएगा। -क्रांति जैन, अध्यक्ष कोटा व्यापार महासंघ



अब हम सबकी जिम्मेदारी है कि स्वच्छता में भी कोटा को अव्वल बनाना है। हम 1 हजार डस्टबिन शहरभर में बांटे और कच्ची बस्तियों में भी जाकर डस्टबिन देंगे, जिससे वहां जागरूकता आए। भास्कर ने कोचिंग के बच्चों के साथ जो सफाई अभियान चलाया था। वह काफी सराहनीय है।

प्रेम भाटिया, पूर्व अध्यक्ष दीएसएसआई



व्यापारी फिर से स्वच्छता अभियान में जुटेंगे और शहर को अव्वल बनाने के लिए सभी काम करेंगे। अभियान को फिर से शुरू करेंगे और जागरूकता के माध्यम से शहर को स्वच्छता बनाएंगे। हर दुकान पर डस्टबिन रखा मिलेगा। - काका हरविंदर सिंह, अध्यक्ष माणक भवन दुकानदार संघ

X
वार्डों से हटेंगे कचरा पाॅइंट, कंट्रोल रूम में दर्ज होंगी शिकायतें, बांटे जाएंगे डस्टबिन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..