दैनिक भास्कर में अब शोक संदेश की सूचनाएं निशुल्क / दैनिक भास्कर में अब शोक संदेश की सूचनाएं निशुल्क

Bhaskar News Network

Dec 09, 2018, 04:00 AM IST

Kota News - दुख दर्द बांटा जा सकता है, कम भले ही न कर पाएं। अपनों को खोने का गम भी बंट जाता है, जब परिजन, रिश्तेदार और दोस्त संकट की...

Kota News - now the message of the message of condolence is free in dainik bhaskar
दुख दर्द बांटा जा सकता है, कम भले ही न कर पाएं। अपनों को खोने का गम भी बंट जाता है, जब परिजन, रिश्तेदार और दोस्त संकट की घड़ी में कंधे पर हाथ रख देते हंै। यह जीवन की ऐसी घड़ी है जिसमें हर एक को संवेदनाओं की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। यह हमारे संस्कार ही हंै कि जिस घर में गम हो जाए, पड़ोसी ही नहीं दूर के लोग भी व्यवस्थाओं में जुट जाते हंै। जान-पहचान के हर इंसान को उसकी सूचना तुरंत पहुंचाई जाती है। सूचना में लिखते हैं, अत्यंत दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है ...। तो दुख भरी सूचना की कीमत भी क्यों हो? यह सोच दैनिक भास्कर की ही हो सकती है। दो कदम और आगे बढ़ते हुए, संवेदनाओं का साक्षी बनते हुए अब भास्कर ने तय किया है कि कोटा शहर में ‘शोक-सूचना’ (60 शब्दों में फोटो सहित) की कोई कीमत नहीं ली जाएगी। उन्हें उसी आदर से िनशुल्क प्रकाशित किया जाएगा, जैसा गम में डूबे परिवार के साथ प्रत्येक इन्सान अपना हर संभव सहयोग करता है। जो परिजन सूचना से अलग शोक-संदेश के विज्ञापन देना चाहेंगे, उनका शुल्क रहेगा। - दैनिक भास्कर

भास्कर

सामाजिक सरोकार

X
Kota News - now the message of the message of condolence is free in dainik bhaskar
COMMENT