राजस्थान / थाने में जहर खाने से मौत; थानाधिकारी समेत तीन पुलिसकर्मी निलंबित, परिजनों का शव लेने से इंकार



शव को जिला अस्पताल मोर्चरी के डीप फ्रीज़ में रखवाया शव को जिला अस्पताल मोर्चरी के डीप फ्रीज़ में रखवाया
X
शव को जिला अस्पताल मोर्चरी के डीप फ्रीज़ में रखवायाशव को जिला अस्पताल मोर्चरी के डीप फ्रीज़ में रखवाया

  • परिजन ने कहा- पुलिस ने युवक की मौत होने के बाद घटना की सूचना दी

Dainik Bhaskar

Sep 06, 2019, 01:13 PM IST

बारां (शुमभ निमोदिया). जिले के मांगरोल थाने में गुरुवार को जहर खाने के बाद मौत के मामले में थानाधिकारी समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही पूरे थाने को लाइन हाजिर किया गया है। एसपी ने देररात ये आदेश जारी किए। वहीं मृतक के परिजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया है। इस दौरान कई नेता भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे।

 

क्या है मामला

जानकारी अनुसार, मांगरोल थाना क्षेत्र के रावल जावाल गांव में एक विवाहिता और युवक प्रेम प्रसंग के चलते 15 दिन पहले गांव छोड़कर भाग गए थे। विवाहिता बुधवार को दोपहर में मांगरोल थाने पर प्रस्तुत हुई थी। इस दौरान युवक भी साथ में आया था। लड़के के परिजनों का कहना की उन्होंने महिला और लड़के को बुधवार दोपहर करीब 2 बजे मांगरोल थाने में पुलिस को सौप दिया। जहां पर युवक ने बुधवार रात करीब 11 बजे अज्ञात विषाक्त खा लिया। इससे युवक की तबियत बिगड़ गयी। आनन फानन में पुलिस युवक को थाने की जीप में मांगरोल अस्पताल लेकर गयी। हालत गंभीर होने पर देर रात को उसे बारां अस्पताल रेफर किया गया। बारां  में युवक को मृत घोषित कर दिया गया।

 

परिजनों का कहना है कि पुलिस ने युवक की मौत होने के बाद घटनाक्रम की सूचना दी। इससे पहले उन्हें कोई सुचना नही दी गई। बारां पहुंचे तब उन्हें मृत्यु की सूचना मिली। ऐसे में परिजन पुलिस पर लापरवाही  का आरोप लगा रहे हैं। वहीं घटना को लेकर लोगों ने मांगरोल थाने के बाहर सड़क पर जाम लगा कर विरोध प्रदर्शन किया। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना