लाॅकडाउन के दाैरान अकेले पड़ गए कोचिंग स्टूडेंट्स काे अपने परिवार की तरह संभाल रहे हैं शहरवासी

Kota News - लाॅकडाउन के दाैरान सबसे बड़ा संकट काेचिंग स्टूडेंट्स के सामने है। शहर में अभी भी बहुत से काेचिंग स्टूडेंट्स...

Mar 27, 2020, 08:41 AM IST
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown

लाॅकडाउन के दाैरान सबसे बड़ा संकट काेचिंग स्टूडेंट्स के सामने है। शहर में अभी भी बहुत से काेचिंग स्टूडेंट्स अकेले रह रहे हैं। एेसे में शहरवासी काेचिंग स्टूडेंट्स का ध्यान रखने के लिए अागे अाए हैं। शहरवासी इन स्टूडेंट्स के लिए हर जरूरी सुविधा जुटाने में लगे हैं। काेई अपनी बेटी की बर्थडे पार्टी कैंसिल करके बच्चाें काे खाना खिला रहा है ताे किसी ने काेचिंग स्टूडेंट्स की मदद के लिए हैल्पलाइन खाेल दी। काेचिंग इंस्टीट्यूट के साथ हाॅस्टल एसाेसिएशन भी स्टूडेंट्स की मदद कर रही है। दैनिक भास्कर में पढ़िए एेसे ही लाेगाें की कहानी जाे कोचिंग स्टूडेंट्स को अपने परिवार की तरह संभाल रहे हैं।

पेट्राेल पंपाें पर गाेले, इनमंे अाकर खड़ा हाेना हाेगा

सभी पेट्राेल पंप खुले हुए हैं, लेकिन अब यहां भी वायरस से बचने के लिए पूरे इंतजाम किए जा रहे हैं। यहां भी दाे-दाे फीट की दूरी पर गाेले बना दिए हैं। इन गाेलाें मंे वाहन चालकाें काे खड़ा किया जा रहा है अाैर उन्हंे एक के बाद ही उपभाेक्ताअाें काे पेट्राेल डीजल दिया जा रहा है। पेट्राेलियम डीलर्स एसाेसिएशन अध्यक्ष तरूमीत िसंह बेदी ने उपभोक्ताओं से अपील की है कि कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए पम्प पर मुंह पर मास्क या साफी लगाकर आएं। पम्प पर तेल भरने वाले सेल्समैन से फासला रखें। पम्प पर तेल लेने ‌के लिए सुरक्षित फासलों पर चिन्ह बनाएं गए हैं। वहीं अपना वाहन रुके। पम्पो‌ं पर करेंसी देते समय हाथ का सम्पर्क आता है। अत: कोशिश करें जिनके पास इलेक्ट्रॉनिक पैसा देने की सुविधा है, वे उससे ही अपना भुगतान करें।

अनावश्यक घूम रहे थे, 76 वाहन जब्त किए, 17 के चालान

कोटा | कोरोना के चलते शहर में लॉकडाउन है। कुछ लोग अनावश्यक रूप से सड़कों पर घूम रहे हैं। जबकि पुलिस सड़कों पर मुस्तैद है, लेकिन लोग नहीं मान रहे। अनावश्यक बाहर घूमने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस धारा 151 सीआरपीसी, 188 आईपीसी, डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005, राजस्थान एपिडेमिक एक्ट 1957 व 207 एमवी एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है। इसके तहत 207 एमवी एक्ट के तहत 76 वाहन जब्त किए गए, जबकि 17 वाहनों के चालान किए गए। एसपी गौरव यादव ने बताया कि शहर में 2 एएसपी, 9 डीएसपी, 20 सीआई, 132 एसआई-एएसआई, और 1 हजार 274 हैड कांस्टेबल व कांस्टेबल, एक कंपनी आरएसी सहित 564 होमगार्ड मिलाकर कुल 2076 पुलिसकर्मी लगातार ड्यूटी दे रहे हैं। पुलिस भी बार-बार अपील कर रही है कि जरूरी काम के लिए बाहर निकलें। इस समय वायरस से बचने के लिए घरों में आवश्यक है।

अगर कोई स्टूडेंट परेशान दिखे ताे यहां काॅल करें

{कोचिंग स्टूडेंट्स के लिए जिला प्रशासन की हैल्पलाइन { 9358486005 {9358486006 {9358486007 {9358486008, एलन स्टूडेंट्स वेलफेयर सोसाइटी हैल्पलाइन {संकल्प इन्द्र विहार, राजीव गांधी नगर, महावीर नगर एरिया, शशि पुरी : { 9116630910, {07442751141, {सत्यार्थ जवाहर नगर, बसंत विहार, दादाबाड़ी, तलवण्डी के आस-पास, दिनेश गुर्जर : 9460570600, 07442752434 {सम्यक कुन्हाड़ी एरिया, इदरीस खानः 7014724730, 07442752821 {सुपथ बारां रोड-ओम प्रकाश नामा: 7726079972, {रिलायबल इन्स्टीट्यूट (बंसल टावर) केके शर्मा : 8107632036, समन्वयक,मुकेश सारस्वत - 9414252237, रघुवीर सिंह -9829530718, {न्यू हाॅस्टल एसाेसिएशन-अशोक लोढ़ा, अध्यक्ष -9166130521, {हरे कृष्णा अपार्टमेंट व केशवपुरा क्षेत्र - श्याम पेशवानी- 8005563007


हमारे शहर में देश के हर शहर के काेचिंग स्टूडेंटस रह रहे हैं। इस संकट के समय में ये अपने घर भी नहीं जा सकते हैं। एेसे में इनकी मदद करनाशहरवासियों का नैतिक दायित्व है। दैनिक भास्कर शहरवासियाें से अपील करता है कि अापकाे काेई भी काेचिंग स्टूडेंट खाने या अन्य जरूरत के सामान के लिए परेशान दिखे ताे तत्काल उसकी मदद करें। खुद मदद नहीं कर सकते हाे ताे हैल्पलाइन नंबराें पर संपर्क कर उसके मददगार बनें।


हाॅस्टल एसाेसिएशन बनवा रही है छात्र-छात्राओं का खाना


शहर के कोचिंग इंस्टीट्यूट भी कर रहे स्टूडेंट्स की मदद

भोजन के अलावा स्टूडेंट्स को मास्क, सेनेटाइजर और जरूरी सामान भी वितरित कर रहे हैं

60 वर्षीय महिला अपनी रसाेई में खिला रही हैं स्टूडेंट्स काे खाना


बेटी की बर्थडे पार्टी कैंसिल कर 120 बच्चाें काे खाना खिला रहीं ऋचा

भास्कर अपील : स्टूडेंट्स की हर संभव मदद करें

लैंडमार्क काेचिंग क्षेत्र में रह रहे स्टूडेंट्स के लिए चंबल हाॅस्टल एसाेसिएशन द्वारा एक ही स्थान पर भाेजन बनवाया जा रहा है। अध्यक्ष शुभम अग्रवाल व सचिव सुनील विजय अपने पदाधिकारियाें की टीम के साथ भाेजन के पैकेट बनाकर एएसडब्ल्यूएस के माध्यम से बंटवा रहे हैं। नए काेटा क्षेत्र के राजीवगांधी नगर, न्यू राजीवगांधी नगर, इंद्रविहार, महावीरनगर अादि क्षेत्र के हाॅस्टल में रह रहे काेचिंग स्टूडेंट्स के लिए काेटा हाॅस्टल एसो. की ओर से भी रोज स्टूडेंट्स के िलए खाना बनाया जा रहा है। एसाेसिएशन के अध्यक्ष नवीन मित्तल के अनुसार बच्चाें की डिमांड अाती है, वहां पर भाेजन पहुंचा दिया जाता है।

स्टूडेंट्स की मदद के िलए कोचिंग संस्थान भी पूरा योगदान दे रहे है। शहर के सभी कोचिंग संस्थानों का कहना है कि हम स्टूडेंट्स की हर संभव मदद करेंगे। एलन स्टूडेंट्स वेलफेयर सोसायटी के सीपीओ भी सुरक्षा से सेवा तक के संकल्प को निभा रहे हैं। सोसाइटी की ओर से शहर के कोचिंग स्टूडेंट्स को हैल्पलाइन के माध्यम से भोजन वितरित किया जा रहा है। इन्द्रविहार में शुरू की गई इस किचन में रोजाना मांग के अनुरूप भोजन बनाकर पहुंचाया जा रहा है। इसमें मुख्य भूमिका सीपीओ निभा रहे हैं। सोसाइटी के अध्यक्ष मुकेश सारस्वत ने बताया कि 90 सीपीअाे व विजिलेंस स्टाफ सेवा में लगे हुए है।

बसंत विहार निवासी 60 वर्षीय लीलावती शर्मा के घर में स्टूडेंट्स किराए पर रहते हैं। लाॅकडाउन के दाैरान उन्हाेंने बच्चाें काे खाने के लिए परेशान हाेता देखा ताे खुद की रसाेई में ही उनके लिए खाना बनाकर खिलाना शुरू किया। उन बच्चाें काे खाना मिलने लगा ताे उनके अासपास रहने वाले स्टूडेंटस के लिए भी उन बच्चाें ने अाग्रह किया ताे लीलावती ने उनका खाना खिलाना शुरू कर दिया। उनके बेटे सुनील शर्मा बताते हैं मां 11 स्टूडेंट सहित 14 जनाें के लिए खाना बना रही हैं।

दादाबाड़ी निवासी ऋचा गुप्ता डेढ़ साल पहले तक मैस चलाती थी। 13 अप्रैल काे उनकी बेटी का बर्थडे है। पिछले कई महीनाें से उन्हाेंने बर्थडे की पार्टी प्लान कर रखी थी। इधर, लाॅकडाउन के बाद जब उन्हाेंने काेचिंग स्टूडेंट काे भाेजन के लिए परेशान हाेते देखा ताे बर्थडे पार्टी कैंसिल कर दी। मैस के पुराने बर्तन निकाले अाैर सास गायत्री जैन के साथ मिलकर 120 बच्चाें के लिए निशुल्क खाना तैयार कर एएसडब्ल्यूएस काे भेजा, ताकि वहां से बच्चाें तक पहुंचाया जा सके।

Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown
X
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown
Kota News - rajasthan news citizens are taking care of coaching students as their family fell apart during lockdown

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना