पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डोर-टु-डोर कचरा उठाने के लिए निगम ने मांगे बीएस-6 के टिपर ताे काेई कंपनी नहीं अाई

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोटा| बीएस-4 वाहनाें की िबक्री पर 31 मार्च के बाद से राेक लगने के कारण नगर निगम द्वारा डाेर-टु-डाेर सफाई के लिए 140 नए टिपर खरीदने की याेजना खटाई में पड़ गई। बीएस-6 के टिपर के लिए अभी तक काेई कंपनी एप्रूव्ड ही नहीं हुई। निगम ने इसके लिए टेंडर निकाले थे, लेकिन बीएस-6 वाहनाें की शर्त के कारण एक भी अाॅटामाेबाइल कंपनी ने इसके लिए टेंडर में भाग नहीं लिया। इस कारण टेंडर फेल हाे गए। अब दुबारा से टेंडर जारी किए जा रहे हैं। कुछ समय पहले जब बीएस-4 टिपर खरीदे गए थे, तब कई कंपनियाें ने भाग लिया था। समय पर टिपर नहीं मिलने के कारण कई नए वार्डाें में डाेर-टु-डाेर व्यवस्था शुरू नहीं की जा सकेगी।

काेटा में दाे नगर निगम अाैर 150 वार्ड बनने के बाद डाेर-टु-डाेर कचरा व्यवस्था के संसाधन कम पड़ेंगे। इसके लिए नगर निगम ने 11 कराेड़ रुपए की लागत से 140 अाॅटाे टिपर अाैर खरीदने के लिए टेंडर जारी किए थे। इसमें शर्त जाेड़ी थी कि ये टिपर बीएस-6 मानक वाले हाेने चाहिए। कुछ अाॅटाेमाेबाइल कंपनियाें ने इस संबंध में निगम में पूछताछ भी की, लेकिन जैसे बीएस-6 की शर्त काे पूरा करने की बात अाई ताे पीछे हट गए।
खबरें और भी हैं...