• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota News rajasthan news if the solution of the villagers is solved in the village then there will be no cata bharat singh

ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान अगर गांव में ही हाे जाए तो काेटा नहीं अाना पड़ेगा : भरत िसंह

Kota News - जिला स्तरीय जनसुनवाई गुरुवार को जिला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित राजीव गांधी...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 09:15 AM IST
Kota News - rajasthan news if the solution of the villagers is solved in the village then there will be no cata bharat singh
जिला स्तरीय जनसुनवाई गुरुवार को जिला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित राजीव गांधी सेवा केन्द्र में आयोजित की गई। जनसुनवाई में 115 प्रकरण अाए, जिनका मौके पर जनसुनवाई कर निस्तारण किया गया। जनसुनवाई में अधिकांश मामले ग्रामीण क्षेत्राें से अाए। इस पर विधायक भरत सिंह ने कहा कि अगर गांवाें में ही समस्या का समाधान हाेता ताे ग्रामीण काेटा क्याें अाते।

जिला कलेक्टर ने कहा कि जनसुनवाई के प्रकरणों को सभी अधिकारी गंभीरता से लेते हुए समस्या का समयबद्ध निस्तारण करना सुनिश्चित करें। प्राप्त शिकायतों के तह तक जाकर समस्याओं का कारण एवं उसके निराकरण करने के लिए तथ्यात्मक जानकारी एकत्रित कर परिवादी को राहत दें। उन्होंने जलदाय विभाग द्वारा डाली पाइप लाइनों के गड्ढाें को नहीं भरने पर नाराजगी व्यक्त कर अधिकारियों शीघ्र गड्ढों को भरवाने के निर्देश दिए। इस दौरान अतिरिक्त कलेक्टर वासुदेव मालावत, जिला आबकारी अधिकारी दीपेंद्र सिंह, आयुक्त निगम नरेन्द्र गुप्ता, यूआईटी सचिव भवानी सिंह पालावत, जिला रसद अधिकारी बालकृष्ण तिवारी आिद मौजूद रहे।

हर माह 10 से 20 प्रकरणों का निस्तारण करें : अतिरिक्त कलेक्टर प्रशासन वासुदेव मालावत ने कहा कि जनसुनवाई के दिवस पर सभी विभागों के अधिकारी प्रातः 10 बजे परिवाद दर्ज करते समय ही संबंधित परिवादी से व्यक्तिशः रूबरू होकर समस्या के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर लें। सांगोद विधायक के सुझाव पर जिला कलेक्टर ने सभी उपखण्ड अधिकारियों को इसी माह से उपखण्ड स्तर पर सतर्कता समिति के प्रकरणों को दर्ज कर उनका समयबद्धता से निस्तारण करने के निर्देश दिए।

छोटी-छाेटी समस्याओं के लिए ग्रामीण कोटा क्यों आएं

जनसुनवाई में उपस्थित विधायक भरत सिंह ने जिला कलेक्टर से कहा कि आखिरकार ग्रामीण क्षेत्रों के लोग शहर में आकर ही क्यों शिकायत कर रहे हैं। इस बारे में आपने कभी सोचा है। क्योंकि इन लोगों की गांव में सुनने वाला कोई नहीं है। इस पर कलेक्टर ने कहा कि इसके लिए उपखंड सतर्कता समिति बैठक होती है। सिंह ने कहा कि अगर वहां सब होता है तो ग्रामीण क्षेत्र के लोग यहां पर क्यों आते। आप सभी उपखंड अधिकारियों से एक बार पूछें कि उन्होंने आखिरी बैठक कब ली थी। इस पर कलक्टर ने सांगोद, इटावा, कनवास, लाडपुरा, सुल्तानपुर व खैराबाद में उपखंड अधिकारियों से इसके बारे में पूछा तो सब लोगों ने बैठक नहीं होने की जानकारी दी। इस पर कलेक्टर ने नाराजगी जताते हुए पुन: बैठक को सुचारु रूप से लेने के निर्देश दिए गए।

काश्तकार व पशुपालकों के लिए चलाएं कल्याणकारी योजनाएं

राज्य सरकार द्वारा काश्तकार एवं पशुपालक के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए बैंकों के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराने जानकारी नहीं मिलने पर उन्होंने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक के प्रतिनिधि को निर्देश दिए कि जिला स्तर एवं ग्रामीण स्तर पर बैंकों का चयन कर प्रशिक्षित कार्मिकों को नियोजित किया जाए। जिससे पात्र व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ मिल सके।

Kota News - rajasthan news if the solution of the villagers is solved in the village then there will be no cata bharat singh
X
Kota News - rajasthan news if the solution of the villagers is solved in the village then there will be no cata bharat singh
Kota News - rajasthan news if the solution of the villagers is solved in the village then there will be no cata bharat singh
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना