कोटा रेल मंडल से 150 में से 60 मालगाड़ियां ही चल रहीं

Kota News - कोटा|कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर चलने वाली मालगाड़ियों पर भी असर पड़ा है।...

Mar 27, 2020, 08:40 AM IST

कोटा|कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर चलने वाली मालगाड़ियों पर भी असर पड़ा है। मालगाड़ियों का संचालन पहले से कम हो गया है। कोटा रेल मंडल से होकर पूर्व में रोजाना लगभग 150 मालगाड़ियां पास होती थी, लेकिन अभी केवल 60 मालगाड़ियां रोजाना चल रही है। इसका कारण माल ढुलाई कम होना है। रेलवे को इससे करोड़ों रुपए के राजस्व का नुकसान हो रहा है।

कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए रेलवे ने सवारी गाड़ियों का संचालन बंद कर दिया है। क्योंकि ट्रेनों में लगातार यात्रियों की संख्या घट रही थी। ट्रेंने बंद होने से रेलवे को लगभग डेढ़ करोड़ का रोज अारक्षित व अनारक्षित टिकटों की बुकिंग नहीं होने से नुकसान हो रहा है। रेलवे केवल मालगाड़ियों को ही चला रहा है। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि कोटा रेल मंडल से पूर्व में रोजाना लगभग 150 ट्रेंने पास होती थी व चलती थी। लेकिन लदान केन्द्र कई स्थानों पर बंद होने से मालगाड़ियों का संख्या में कमी अाई है। अब केवल 60 मालगाड़ियां ही रोजाना पास हो रही है व चलाई जा रही है। इन दिनों कोटा रेल मंडल की साइडिंग से केवल डाढ़ देवी व अन्य साइडिंग से फर्टिलाइजर्स का लदान हो रहा है। अनाज का लदान शुरू नहीं हो सका है। यदि कोई फर्म रैक की डिमांड करती है तो उसे रैक उपलब्ध करवाया जा सकता है।

लाखेरी व मोड़क से लदान बंद: लाखेरी में एसीसी फैक्ट्री फिलहाल बंद है। वहां से मालगाड़ियों में सीमेंट का लदान होता था। रेलवे उन्हें सीमेंट ट्रांसपोर्ट के लिए रैक उपलब्ध करवाता था। मोड़क साइडिंग से भी सीमेंट का लदान होता था। वहां भी रेलवे रैक देता था। दोनों स्थानों से फिलहाल लदान नहीं हो रहा है। कोरोना के कारण एक्सपोर्ट माल लगभग बंद हो चुका है। रेलवे के कंटेनर व प्राइवेट कंटेनर वैगनों से बंदरगाहों तक माल पहुंचाया जाता है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना