पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छुट्टियाें व ड्यूटी काे लेकर शिक्षक संगठन दाेफाड़

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

इधर, प्राइवेट स्कूल वेलफेयर ने किया जनता कर्फ्यू का समर्थन : कोरोना वायरस महामारी प्रकोप से देश को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से पीएम माेदी द्वारा किए रविवार के जनता कर्फ्यू के आह्वान के संबंध में प्राइवेट स्कूल्स वेलफेयर सोसाइटी ने सभी संचालकों से जनता कर्फ्यू को सफल बनाने का अाह्वान किया है। प्राइवेट स्कूल्स वेलफेयर साेसायटी महामंत्री संजय शर्मा ने बताया कि स्कूलाें में स्टूडेंट्स की छुट्टी निर्धारित तिथि पर करने के अलावा शिक्षकाें के पूर्ण रुप से अवकाश किया है।

सरकार काे काेराेना वायरस के संक्रमण काे देखते हुए स्कूलाें में 31 मार्च तक स्टूडेंट्स के किए गए अवकाश की तरह शिक्षकाें काे भी 31 तक अवकाश घाेषित करें। इस संबंध में विधायक संदीप शर्मा काे भी समस्या बताई हैं। जल्द से सरकार छुट्टी के अादेश जारी करें।
-रासबिहारी यादव, जिला मंत्री शिक्षक संघ राष्ट्रीय

यह राष्ट्रीय आपदा का समय है। शिक्षक समाज के राष्ट्र निर्माता है। यदि सरकार उनसे अपेक्षा कर रही है तो उन्हें इस पर खरा उतरना चाहिए। हमारे रेसा पी के सभी संस्था प्रधान कोरोना को हराने की इस विश्वव्यापी लड़ाई में पूरा सहयोग करेंगे। सरकारी आदेश का पालन करने को सहर्ष तैयार हैं।
-डाॅ. अतुल चतुर्वेदी, प्रदेश प्रवक्ता रेसा पी संगठन

कोटा | काेराेना वायरस के चलते 31 मार्च तक गवर्नमेंट स्कूलाें में अवकाश के बाद अब स्कूलाें में ड्यूटी काे लेकर शिक्षक संगठनाें में दाे फाड़ हाे गई हैं। शिक्षक संघ राष्ट्रीय ने 31 मार्च तक स्कूलाें में स्टूडेंट्स की तरफ छुट्टी की मांग की है। वहीं, दूसरी अाेर शिक्षक शिक्षक संघ रेसा पी ने इस दाैरान पूरी तरह एहतियात बरतते हुए ड्यूटी करने अाैर सरकार के अादेशाें की पालना की बात कही है। साथ ही शिक्षक संघ कांग्रेस ने भी 50 प्रतिशत शिक्षकाें के राेटेशन के अनुसार ड्यूटी की बात कही है। जबकि इससे पहले डीईअाे माध्यमिक मुख्यालय की अाेर से शुक्रवार काे अादेश जारी कर समग्र शिक्षा अभियान में 50 फीसदी शिक्षकाें काे ड्यूटी के अादेश जारी किए थे।
खबरें और भी हैं...