--Advertisement--

कड़ा और कृपाण नहीं उतारने पर सिख युवक को सेंटर पर नहीं दिया प्रवेश

कांस्टेबल भर्ती के लिए सीकर में परीक्षा देने गए कोटा के एक सिख युवक को पगड़ी खोलने व कड़ा उतारने को कह दिया।

Danik Bhaskar | Jul 18, 2018, 02:18 PM IST

कोटा. कांस्टेबल भर्ती के लिए सीकर में परीक्षा देने गए कोटा के एक सिख युवक को पगड़ी खोलने व कड़ा उतारने को कह दिया। यह बात युवक को इतनी नागवार गुजरी कि उसने परीक्षा देना ही उचित नहीं समझा। पूरे मामले पर अब सिख समाज कड़ी आपत्ति जता रहा है।

- दादाबाड़ी गुरुद्वारे के ज्ञानी मोहन सिंह के बेटे देवेंद्र सिंह ने कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन किया था। उनका रोल नंबर (2238905) था और परीक्षा केंद्र (4235) श्री कृष्णा सत्संग बालिका महाविद्यालय, घंटाघर रोड, सीकर था। यहां उन्हें 14 जुलाई को सेकंड पारी में परीक्षा देनी थी। केंद्र पर मौजूद पुलिसकर्मियों, प्रिंसिपल व अन्य कार्मिकों ने उनसे कड़ा, कृपाण, दस्तार (पगड़ी) उतारने व बाल खोलकर पेपर देने को कहा। यह सुनकर देवेंद्र हैरान हो गए। आग्रह किया लेकिन कर्मचारियों ने साफ कह दिया कि धर्म-वर्म कुछ नहीं होता, परीक्षा देनी है तो इन्हें उतारो। दोबारा समझाने का प्रयास किया तो वे कार्रवाई की धमकी देने लगे। इसके बाद देवेंद्र बिना परीक्षा दिए चले आए।

महिलाओं से बालियां, मंगलसूत्र तक उतरवाए

- गौरतलब है कि दो दिन की नेटबंदी के बीच हुई परीक्षा में इस बार महिलाओं की कानों की बालियों, मंगलसूत्र, पायल और बिछिया तक उतरवाई गई थी। पूरी बांह की शर्ट पहनकर अनुमति नहीं देने पर कई अभ्यर्थियों को कैंचियों से शर्ट तक काटनी पड़ी थी।