• Home
  • Rajasthan News
  • Kotari News
  • बच्चों को अर्जुन नहीं बल्कि एकलव्य की तरह बनाएं: पारीक
--Advertisement--

बच्चों को अर्जुन नहीं बल्कि एकलव्य की तरह बनाएं: पारीक

सर्व शिक्षा अभियान के तहत शिक्षकों की क्षमता संवर्धन एवं अकादमी संबलन को लेकर कक्षा पहली से 5वीं तक के गणित,...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 05:40 AM IST
सर्व शिक्षा अभियान के तहत शिक्षकों की क्षमता संवर्धन एवं अकादमी संबलन को लेकर कक्षा पहली से 5वीं तक के गणित, अंग्रेजी, हिंदी व पर्यावरण विषयाध्यापकों की एक दिवसीय कार्यशाला गुरुवार को कोटड़ी, बीरधोल एवं पारोली में हुई। अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक रमसा योगेश पारीक ने कहा कि शिक्षक अपनी क्षमता का बालकों में उपयोग करें। उन्होंने कहा कि बालकों को अर्जुन की तरह नहीं बल्कि एकलव्य की तरह बनाएं ताकि बालकों के साथ अभिभावक भी शिक्षक को सम्मान की दृष्टि से देखें। कार्यशाला के दक्ष प्रशिक्षक से अनुपस्थित विद्यालयों की सूची ली। जिसमें पारोली में 16, कोटड़ी में 19 तथा बीरधोल में 16 विद्यालयों के अध्यापक कार्यशाला में नहीं आए। अनुपस्थित विद्यालयों के संस्था प्रधानों को नोटिस जारी किए। आरपी सत्यनारायण पटवारी ने कहा कि विद्यालय में नामांकित बालकों की एसआईक्यूई के तहत प्रोफाइल तैयार करें। एसएसए कार्यालय में दक्ष प्रशिक्षक दीपक जांगीड़ एवं राकेश जायसवाल, राउमावि पारोली में शिवचरण शर्मा व घनश्याम जारोलिया तथा राउमावि बीरधोल में सुनीता खटीक एवं आत्माराम ने प्रशिक्षण दिया।

एक दिवसीय कार्यशाला में 51 शिक्षकों के अनुपस्थित रहने पर संस्था प्रधानों को नोटिस थमाए

कोटड़ी. शिक्षक संवर्धन व अकादमी संबलन को लेकर एक दिवसीय कार्यशाला में मौजूद शिक्षक।

नंदराय व बड़लियास स्कूल में आज देंगे प्रशिक्षण

शुक्रवार को राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय नंदराय में धारासिंह मीणा व नमोनारायण मीणा ग्राम पंचायत जावल, नंदराय, किशनगढ़, ककरोलियाघाटी के शिक्षकों को प्रशिक्षण देंगे। वहीं राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बड़लियास में सोनिया सेन व हरकचंद जायसवाल बड़लियास, गेंदलिया, आमा, सुठेपा, जीवाकाखेड़ा, आकोला, गेगाकाखेड़ा के विषयाध्यापकों को प्रशिक्षण देंगे।