• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kotari News
  • बेटियों पर अत्याचार रोकने के लिए सरकार सजा का कठोर प्रावधान बनाएं: प्राची देवी
--Advertisement--

बेटियों पर अत्याचार रोकने के लिए सरकार सजा का कठोर प्रावधान बनाएं: प्राची देवी

भागवत, रामकथा और देवी कथा का वाचन करने वाली प्राची देवी ने कहा कि सात साल की छोटी सी उम्र में उन्होंने धर्म के मार्ग...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 05:30 AM IST
भागवत, रामकथा और देवी कथा का वाचन करने वाली प्राची देवी ने कहा कि सात साल की छोटी सी उम्र में उन्होंने धर्म के मार्ग को चुना। इसी कारण आज भागवत उनके खून में बस गई है।

वे अब तक देशभर में 270 कथाएं कर चुकी हैं। समाजशास्त्र से एमए कर चुकी प्राची देवी दो साल पहले आईएएस की स्टूडेंट रह चुकी हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें धर्म का मार्ग रास आया, क्योंकि आज का युवा धर्म से विमुख हो रहा है। मुझे देखकर युवा भी धर्म के मार्ग पर आगे आएंगे। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ पर सबको अमल करना चाहिए। क्योंकि बेटियों ने देश का गौरव बढा है। बेटियां हमेशा आगे रही हैं। बेटियों पर अत्याचार रोकने के लिए सरकार को सजा का कठोर प्रावधान करना होगा। लोग सोच बदलेंगे तो अत्याचार रुक जाएंगे। उन्होंने कहा कि भक्ति करनी चाहिए, लेकिन अंध भक्ति से बचाना होगा। गुण देखकर संतों की भक्ति करें। उन्होंने कहा कि धर्म से राजनीति और राजनीति से धर्म अलग नहीं है। धर्म के बिना राजनीति अपंग हो जाएगी। संत राजनीति में प्रवेश करते हैं तो इसमें बुराई नहीं है। यह गौरव की बात है। संत राजनीति में आएंगे तो भ्रष्टाचार रुकेगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..