Hindi News »Rajasthan »Kotputli» कोटपूतली में प्रतिष्ठानों को बंद कराने के दौरान झड़पें, पुलिस रही मुस्तैद

कोटपूतली में प्रतिष्ठानों को बंद कराने के दौरान झड़पें, पुलिस रही मुस्तैद

कार्यालय संवाददाता| कोटपूतली कस्बे में अधिकतर प्रतिष्ठानों को जबरदस्ती बन्द करवाया गया। इसको लेकर अनेक जगह...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 03, 2018, 02:50 AM IST

कोटपूतली में प्रतिष्ठानों को बंद कराने के दौरान झड़पें, पुलिस रही मुस्तैद
कार्यालय संवाददाता| कोटपूतली

कस्बे में अधिकतर प्रतिष्ठानों को जबरदस्ती बन्द करवाया गया। इसको लेकर अनेक जगह प्रदर्शनकारियों व व्यापारियों में झड़प भी हुई। पुलिस ने हजारों लोगों की उपस्थिति के चलते बीच बचाव करते हुए एक बार प्रतिष्ठान बंद करने के लिए व्यापारियों को कहते हुए स्थिति को सम्भाली। पालिका पार्क में सुबह से ही एससी/एसटी के लोगों का आना शुरू हो गया। 9 बजे पार्क से रैली के रूप में पालिका तिराहे होते हुए दिल्ली दरवाजा, लम्बा बाजार, आजाद चौक, इन्दिरा बाजार, पूतली रोड, वाटरबक्स होते हुए हाइवे में मुख्य चौराहे से पालिका पार्क पहुंचे। रास्ते में अनेक जगह दुकानदारों ने प्रतिष्ठान बन्द करने के लिए मना करने पर प्रदर्शनकारी जबरदस्ती बंद करने पर अड़ गए। पालिका तिराहे, लम्बा बाजार व आजाद चौक पर झड़प हो गई। डीएसपी महमूद खान, थाना प्रभारी रविन्द्र प्रताप सिंह ने स्थिति को सम्भालते हुए एक बार प्रतिष्ठान बन्द करने के लिए व्यापारियों को राजी कर हालात पर काबू पाया। प्रदर्शनकारी इतने जोश में थे कि खुली हुई दुकानों को बन्द करवाए बगैर आगे नहीं खिसके व डन्डे भी शटरों पर मारते हुए देखे गए। पालिका पार्क में एकत्र होकर राष्ट्रपति के नाम तहसीलदार व डीवाईएसपी को ज्ञापन सौंपा। पुलिस उपाधीक्षक महमूद खान, तहसीलदार भागीरथमल चौधरी, थाना प्रभारी रविन्द्र प्रताप सिंह, पनियाला थाना प्रभारी पवन कुमार भारी पुलिस जाब्ता सहित तैनात थे।

न्यायिक कार्य स्थगित रहे

स्थानीय अभिभाषक संघ ने भारत बंद के समर्थन में न्यायिक कार्य स्थगित रखे। सचिव सुबेसिंह मरोडिया ने बताया कि बार एसोसिएशन ने एससी/एसटी वकीलो की मांग को जायज मांगते हुए न्यायिक कार्यो को स्थगित रखा एवं आवश्यक कार्य काली पट्टी बांधकर किया।

पावटा में निकाली भारत बंद रैली, हाइवे पर जाम, प्रदर्शनकािरयों के लौटते ही बाजार खुला

पावटा |
सामाजिक कार्यकर्ता नित्येन्द्र मानव के नेतृत्व में कस्बे सहित गांवों के लोगों ने रैली में भाग लेकर तहसीलदार को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। रैली में शामिल लोगों ने दुकान बंद करवाने के लिए जोर जबरदस्ती करनी चाही मगर ही रैला देख दुकानदारों ने शटर नीचे कर दिए और उनके जाते ही रोजाना की तरह दुकानदारी शुरू कर दी। कुछ स्थानों पर दुकानदारों द्धारा दुकान का शटर नीचे नहीं करने पर हंगामा भी हुआ। प्रागपुरा थाना प्रभारी डाॅ.सुरेश कुमार यादव व कोटपूतली तहसीलदार भागीरथ चौधरी ने बीच बचाव कर मामला शांत कराया। प्रदर्शनकारियों ने कस्बों से गुजरते हुए नेशनल हाइवे होते हुए ज्ञापन देने के लिए तहसील कार्यालय गए तो हाइवे पर लगभग 2 किलोमीटर लम्बा जाम लग गया। तहसीलदार एवं कार्यपालक मजिस्ट्रेट भागीरथ चौधरी, पनियाला थानाधिकारी पवन चौधरी एवं थानाधिकारी डॉ. सुरेश यादव भारी पुलिस जाब्ते के साथ तैनात रहे।

धौला/.मनोहरपुर | दलित समाज ने रैली निकालकर राष्ट्रपति के नापम नायब तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। मनोहरपुर में पंचायत परिसर में स्थापित बाबा साहब की प्रतिमा के चबूतरे के टोल विस्तार में आधा चले जाने पर पुन: बाबा साहब की नई आदम कद प्रतिमा मय स्मारक बनाने का निर्णय किया गया। रोहिताश कुलदीप ने एक लाख, जगमाल असवाल ने 11 हजार, मुरारी असवाल ने 5100 रुपए देने की घोषणा की।

कोटपूतली. रैली निकालते हुए एससी-एसटी वर्ग के लोग।

पावटा. कस्बे में भारतबंद के दौरान खुला बाजार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kotputli News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: कोटपूतली में प्रतिष्ठानों को बंद कराने के दौरान झड़पें, पुलिस रही मुस्तैद
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kotputli

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×