Hindi News »Rajasthan »Kotputli» चौकी पर ड्यूटी देकर गए सिपाही का शव मिला, रस्सी से बंधे थे हाथ-पांव

चौकी पर ड्यूटी देकर गए सिपाही का शव मिला, रस्सी से बंधे थे हाथ-पांव

कोटपूतली पुलिस थाने में कार्यरत एक कांस्टेबल की शुक्रवार सुबह पावना अहीर गांव के पास ढाणी सीरसावाली रोड पर रस्सी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 10, 2018, 05:35 AM IST

कोटपूतली पुलिस थाने में कार्यरत एक कांस्टेबल की शुक्रवार सुबह पावना अहीर गांव के पास ढाणी सीरसावाली रोड पर रस्सी से बंधा हुआ शव मिला। कांस्टेबल की हत्या कर शव फेंक जाने की सूचना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। जयपुर से एफएसएल टीम व डाग स्क्वायड टीम ने भी घटना स्थल से जांच के लिए साक्ष्य जुटाए। दूसरी ओर साथी की मौत पर पुलिस जवानों में मायूसी छा गई।

थानाधिकारी रविंद्र प्रताप सिंह के अनुसार शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे सूचना मिली कि पवाना अहीर के ढाणी सीरसावाली रोड के पास कूंचों में एक शव पड़ा है। पुलिस को मौके पर एक व्यक्ति की लाश रस्सी से बंधी हुई मिली। मृतक की शिनाख्त कांस्टेबल ख्यालीराम (56) पुत्र गाडाराम यादव निवासी दताल के रूप में हुई। मृतक ख्यालीराम ने हाफ पेंट, सफेद बनियान के ऊपर इनर पहन रखी थी तथा नाईलोन की रस्सी से हाथ-पैर व शरीर पूरा बंधा हुआ था। इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दे दी गई।

कोटपूतलीथाने में तैनात था कांस्टेबल, पावटा जाने की कहकर निकला था, वर्दी पहन कर गया था, लेकिन जब शव मिला तो शरीर पर थे हाफ पेंट व बनियान

हत्या कहीं और की, लाश को पवाना में लाकर फेंका

कोटपूतली. पवाना अहीर में सड़क किनारे कांस्टेबल का शव मिलने के बाद मौके पर एकत्र भीड़ व पुलिस (ऊपर)। झाडियों में पड़ा शव (नीचे)।

कार्रवाईसंदिग्धों से पूछताछ, पुलिस को हाथ लगे सुराग

सिपाही की हत्या का मामला सामने आने के बाद एसपी सहित तमाम पुलिस अधिकारी अनुसंधान में लग गए। शाम तक पुलिस ने कई संदिग्ध, परिचितों व साथी सिपाहियों से पूछताछ की। सूत्र बताते है कि पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं।

थाने व चौकी में दहशत

सिपाही के बेटे ने दी रिपोर्ट-

दोस्त के साथ जाने को कहा था

मृ़तक के पुत्र भुवनेश ने कोटपूतली थाने में रिपोर्ट दी कि उसके पिता घर से अपने दोस्त के साथ पावटा जाने की कहकर निकले थे। घर नहीं लौटने पर फोन किया तो फोन बंद था।

सुबह 10 बजे चौकी पर था, कुछ देर बाद चला गया

मृतक ख्यालीराम गुरुवार सुबह 10 बजे पुलिस चौकी चतुर्भुज से किसी कार्य से पावटा जाने की साथी कांस्टेबल को बोलकर गया था जो वर्दी पहने हुए था। उसका शरीर नाइलोन की रस्सी से बंधा हुआ था।

देर शाम तक नहीं लौटा सिपाही, एसआई ने मोबाइल लगाया, बंद था

देर शाम तक वापस नहीं आने पर चौकी प्रभारी दिलीप कुमार ने फोन पर बात करनी चाही तो मोबाइल बंद आया। परिजनों से पूछा तो ख्यालीराम ने साथी गिरिराज के साथ जाना बताया। परिजनों ने गिरिराज से मोबाइल पर बात की तो मोबाइल नहीं उठाया।

मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम

मौके पर एएसपी रामस्वरूप शर्मा, डीएसपी मोहम्मद खान एवं जयपुर से एफएसएल व डाग स्क्वायड टीम को बुलाया। दोपहर बाद शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kotputli

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×