--Advertisement--

आरएसी की तीन कंपनियों सहित 300 जवानों का जाब्ता रहा तैनात

सामान्य व ओबीसी वर्ग के कथित सोशल मीडिया में किए गए भारत बन्द आह्वान पर कोटपूतली शहर आंशिक रूप से बंद रहा। शहर में...

Dainik Bhaskar

Apr 11, 2018, 03:05 AM IST
सामान्य व ओबीसी वर्ग के कथित सोशल मीडिया में किए गए भारत बन्द आह्वान पर कोटपूतली शहर आंशिक रूप से बंद रहा। शहर में अल सुबह से ही मुख्य बाजारों में पुलिस जवानों की तैनाती की गई। बडी संख्या में सादा कपडों में भी पुलिस के जवान हालात का जायजा लेते नजर आए। स्वयं डीएसपी महमूद खान व थानाधिकारी रविन्द्र प्रताप सिंह मय जाब्ता के कस्बे के मुख्य बजारो, मार्गो व मुख्य चौराहे पर गस्त करते नजर आए।

सुबह-सुबह बंद को लेकर बहुत सी दुकानें खुल ही नहीं। लेकिन जैसे-जैसे समय निकलता गया। किसी तरह की कोई बंद की सूचना नहीं मिलने पर व्यापारियों ने पूर्णत्या: अपने-अपने प्रतिष्ठान खोल लिए। इस दौरान आरएसी की तीनों कम्पनियों समेत स्थानीय थाना पुलिस व पनियाला थाना पुलिस मिलाकर 300 जवानों का जाप्ता तैनात रहा। उल्लेखनीय है कि विगत 2 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट द्वारा एससी/एसटी एक्ट में संषोधन के विरोध में देशभर के अनुसूचित जाति व जनजाति संगठनों द्वारा किए गए भारत बन्द के बाद से ही सोशल मीडिया में लगातार आरक्षण के विरोध व उसकी समीक्षा को लेकर जनरल व ओबीसी वर्ग के द्वारा मंगलवार को किए जाने वाले भारत बन्द की चर्चाए चल रही थी।

कोटपूतली में बन्द को लेकर किसी भी संगठन ने कोई जिम्मेदारी नहीं ली थी। कुल मिलाकर पुलिस प्रशासन की लगातार मॉनीटरिंग से कस्बे में भारत बन्द का असर बहुत कम देखने को मिला एवं किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना सामने नहीं आई। स्थानीय पुलिस प्रशासन ने शांतिपूर्वक मंगलवार का दिन निकल जाने पर चैन की सांस ली। वहीं कस्बे के पालिका पार्क स्थित बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा की भी सुरक्षा चाक चौबन्द रखी गई।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..