• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kotputli
  • दोपहर तक तेज गर्मी, शाम को हुई बूंदाबांदी किसानों के चेहरे पर खिंची चिंता की लकीरें
--Advertisement--

दोपहर तक तेज गर्मी, शाम को हुई बूंदाबांदी किसानों के चेहरे पर खिंची चिंता की लकीरें

कस्बा सहित बासना, नांगल तुलसीदास एवं टोड़ामीना सहित आसपास क्षेत्र में बुधवार शाम को हुई बूंदाबांदी से किसानों को...

Dainik Bhaskar

Apr 12, 2018, 04:05 AM IST
दोपहर तक तेज गर्मी, शाम को हुई बूंदाबांदी किसानों के चेहरे पर खिंची चिंता की लकीरें
कस्बा सहित बासना, नांगल तुलसीदास एवं टोड़ामीना सहित आसपास क्षेत्र में बुधवार शाम को हुई बूंदाबांदी से किसानों को खेत में खड़ी पकी फसल को बचाने की चिंता सताने लगी है। किसान आसमान में बरसात के काले बादलों को देख उनके चेहरे पर चिंता की लकीरे साफ दिखाई दे रही थी। किसान अजय शर्मा, बासना के रामवतार जायसवाल, निम्बी के कानाराम छाबड़ी एवं घाटा जलधारी के पप्पूराम गुर्जर आदि किसानों ने बताया कि खेत में गेहूं की फसल पककर तैयार खड़ी है। अगर बरसात तेज होती है तो पकी हुई फसल खराब हो जाएगी एवं किसानों के कड़ी मेहनत पर पानी फिर जाएगा। बुधवार को हुई बूंदाबांदी से फसल गीली हो गई।

उन्होंने बताया कि क्षेत्र में कई जगह किसानों की फसल खेत में पसरी हुई। तेज हवाओं के चलने से एवं बरसात से खेत में पकी हुई फसलों को नुकसान होने का भय सता रहा है।

तेज अंधड़ के साथ बरसात

गठवाड़ी|कस्बे सहित आसपास क्षेत्र में दोपहर बाद तेज अंधड़ के साथ बरसात हुई। मौसम के बिगड़े मिजाज ने किसानों की चिंता बढ़ा दी। इस समय फसल की कटाई चल रही है। बरसात से खलिहानों में काट कर एकत्र की गई फसल के भीग कर खराब होने का खतरा है। तेज धूलभरी आंधी के बाद हुई बरसात से तापमान गिरावट होने से गर्मी से निजात मिली।

मानसर खेडी. दिन में लाइटंे जलाकर गुजरते वाहन चालक।

पावटा|क्षेत्र में दोपहर से बिगड़े मौसम से तेज हवा के साथ हुई बारिश से किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीर दिखाई देने लगी। किसान गिरधारी जितरवाल, किसान नेता कैलाश ताखर ने बताया कि अचानक बदले मौसम के अंदाज से खेतों में पकी पकाई फसल काटने के दौरान अचानक हल्की बूंदाबांदी के साथ आए तेज अंधड से खेतों में पड़ा चारा व पक्की पकाई पड़ी फसल भी उड़ती दिखाई। ग्राम सेवा सहकारी समिति पावटा उपाध्यक्ष गिरीराज ओला ने कहा कि एक सप्ताह में दो मौसम खराब हो गया जिसमें तेज हवा के साथ बारिश हुई जिससे किसानों की खेतों में पड़ी फसल के भारी भरसक नुकसान हो गया।

बस्सी/मानसर खेडी। दिनभर चली मौसम की आंख मिचौली के बाद बुधवार शाम अचानक हुई बारिश और तेज हवाओं ने मौसम में एकदम से पलटी कर दी। बारिश के कारण तापमान में खासी गिरावट हो गई। वहीं आंधी के कारण एकदम से अंधेरा हो जाने के कारण वाहन चालकों को दिन में ही लाइटे जलाकर गुजरना पड़ा। बारिश होने के जहां गरमी से त्रस्त लोगों को राहत मिली वहीं किसानों की चिन्ता बढ़ गई है।

बांसखो। कस्बे समेत क्षेत्र में दो दिनों की तपिश के बाद बुधवार को अचानक मौसम बदला और आसमान में बादल छाने लगे। शाम 4 बजे बाद धूल भरी आंधी के साथ बारिश शुरू हुई। करीब 15 मिनट की बारिश से सड़कों पर पानी बह निकला। बारिश से गर्मी से तप रहे लोगों को थोड़ी राहत मिली लेकिन खेतों में कटी पड़ी गेहूं की फसलों को लेकर धरतीपुत्रों की चिंता बढ़ गई। वही जो किसान गेहूं मशीनों से निकाल रहे थे वह बारिश का मौसम होते ही तिरपाल लेकर खेतों में पहुंच गए। अचानक बारिश आने से कई किसानों की गेहूं की फसल भीग गई।

जमवारामगढ़ ग्रामीण। कस्बे में सुबह से ही तेज गर्मी रही परन्तु शाम होते- होते तेज अंधकार ओर बिजली की कड़की व तेज बरसात ने गर्मी से राहत दिलाई। शाम करीब 4 बजे ही घनघोर अंधेरा छा गया। किसानों के चेहरे पर अभी भी मायूसी छाई हुई है क्योंकि बालियों से गेहूं निकलना जारी है। जहां लोग गर्मी से बचने के लिए इंद्र को प्रसन्न करने में लगे है वहीं किसान बारिश न होने की प्रार्थना कर रहे है।

जमवारामगढ़। कस्बे सहित आसपास क्षेत्र में तेज हवाओं के साथ लगातार दूसरे दिन बुधवार शाम को बारिश हुई। बारिश से गर्मी में तो राहत मिली लेकिन किसानों की चिंताएं बढ़ गई। खेतों में गेहूं की फसल कट रही है। कटा हुआ धान व चारा अभी खेतों में ही रखा हुआ है। बारिश से पहले धूल भरी आंधी चली। बारिश से मौसम ठंडा हो गया।

शाहपुरा . आसमान में छाएं बादल।

बिजली गिरने से आठ बकरियां मरी

कोटपूतली|क्षेत्र के छारदडा में बुधवार दोपहर बाद आकाशीय बिजली गिरने से आठ बकरियां मर गई। फोरेस्टर रामनिवास यादव ने बताया कि दोपहर बाद छारदडा में तेज गर्जना के साथ आकाशीय बिजली गिर गई। आकाशीय बिजली गिरने से एक पेड के पास चल रही भीमसिंह धानक व सुखराम कुम्हार की आठ बकरियां मर गई।

बिजली गिरने से व्यक्ति हुआ बेहोश

कोटपूतली|थाना क्षेत्र के रामगढ़ में बुधवार दोपहर बाद आकाशीय बिजली गिरने से एक व्यक्ति बेहोश हो गया। पुलिस के अनुसार प्रकाश (50) पुत्र प्रभाताराम यादव निवासी झीडा की ढाणी तन रामगढ़ खेत में गेहूं की पूली एकत्र कर रहा था तभी कुछ दूरी पर आकाशीय बिजली गिर गई,जिससे वह बेहोश हो गया। बेहोशी की अवस्था में उसे बीडीएम अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसका उपचार चल रहा है।

कोटपूतली.बिजली गिरने से मरी बकरियां।

X
दोपहर तक तेज गर्मी, शाम को हुई बूंदाबांदी किसानों के चेहरे पर खिंची चिंता की लकीरें
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..