• Home
  • Rajasthan News
  • Kotputli News
  • फौजी जहर खुरानी गिरोह का शिकार, पगडी रस्म के लिए जम्मू से आ रहा था कोटपूतली
--Advertisement--

फौजी जहर खुरानी गिरोह का शिकार, पगडी रस्म के लिए जम्मू से आ रहा था कोटपूतली

कोटपूतली | श्रीनगर ड्यूटी पर तैनात बीएसएफ का एक जवान 12 दिन की छुट्टी पर अपने गांव ग्राम चुरी आ रहा था जो एक दिन बाद...

Danik Bhaskar | May 07, 2018, 04:55 AM IST
कोटपूतली | श्रीनगर ड्यूटी पर तैनात बीएसएफ का एक जवान 12 दिन की छुट्टी पर अपने गांव ग्राम चुरी आ रहा था जो एक दिन बाद अचेतावस्था में गाव पहुंचा। परिजनों ने रविवार दोपहर उसे राजकीय बीडीएम अस्पताल में भर्ती कराया। फौजी ने बताया कि मोबाईल व जेब में रखे पैसे गायब है। फौजी के चाचा धर्मवीर ने बताया कि मनोज कुमार यादव निवासी चुरी श्रीनगर बीएसएफ में कांस्टेबल है। घर में पगडी रस्म को लेकर मनोज 4 मई को जम्मू से हवाई जहाज से दिल्ली आया था। रात को उसने अपने भाई कृष्ण को फोन किया कि रात 9 बजे बावल के आसपास आ गया है। बहरोड आ रहा हूं। 5 मिनट बाद फिर फोन आया और कहा कि मैं सीधा कोटपूतली ही उतर जाऊंगा वहां बाइक मंगवाकर घर चला जाऊंगा।

शनिवार को जब बड़ा भाई कृष्ण ने घर आकर पूछा कि मनोज कहां है तब कहा कि मनोज अभी पहुंचा ही नहीं है। उसके दोनों फोन बंद आ रहे थे। हमने रात को कोटपूतली थाने गए जहां से एक सिपाही आया। कहा कि बहरोड से आगे अस्पताल व थानों में पूरी जांच पडताल करना। बावल थाने पर कहा कि रविवार सुबह 10 बजे आ जाना काल डिटेल निकल देंगे। सुबह 9 बजे उसके मोबाइल पर दो बार घण्टी गई बाद में स्विच आॅफ आया। बावल थाने पर गए तो उन्होंने बताया कि शनिवार शाम 6:15 बजे की लोकेशन कोटपूतली की आ रही है। सवेरे एक नई सिम से मनेाज का फोन आया और कहा कि मैं कोटपूतली आ गया हूॅ और नारहेड़ा लेने आ जाओ। घरवाले पहुंचे तो वो अचेतावस्था में था जिसे पहले गांव ले गए फिर वहां से बीडीएम अस्पताल लाए। चिकित्सक जहर खुरानी गिरोह का हाथ बता रहे है। फौजी मनोज कुमार ने बताया कि गुडगांव से एक बस में कोटपूतली के लिए बैठा था। बावल तक होश में था फिर पता नहीं। मोबाइल नहीं मिला और ऊपर की जेब में 500 रुपये थे वो भी नहीं मिले। अभी मैं सही से नहीं बोल पा रहा हॅू। परिजन आज घर पर पगडी रस्म कार्यक्रम होने के कारण मनोज कुमार को अस्पताल से घर ले गए।

सफाई के लिए युवाओं ने किया श्रमदान

अजीतगढ़ | स्थानीय युवाओं द्वारा एक दिन गांव के लिए अभियान के तहत गांव एवं विरासत को साफ-सुथरा रखना हम सबका दायित्व है के अंतर्गत प्रत्येक रविवार को सुबह दो घंटे सफाई के लिए श्रमदान में रविवार को कचहरी परिसर स्थित मैदान में युवाओं ने श्रमदान किया। युवाओं के कार्यों की सराहना करते हुए शिक्षक हरिसिंह मंगावा ने कहा कि युवा राष्ट्र का कर्णधार है, युवाओं को रचनात्मक कार्य करके राष्ट्र उत्थान में योगदान देना चाहिए। उन्होंने युवाओं के सकारात्मक पहल में आमजन को भागीदारी निभाने की अपील की।