--Advertisement--

कंप्यूटर ऑपरेटर्स की समस्याओं का निराकरण करने की मांग

पांच सूत्रीय मांग, चिकित्सामंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली अखिल राजस्थान...

Dainik Bhaskar

Apr 24, 2018, 05:00 AM IST
कंप्यूटर ऑपरेटर्स की समस्याओं का निराकरण करने की मांग
पांच सूत्रीय मांग, चिकित्सामंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली

अखिल राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा एवं जांच योजना कम्प्युटर ऑपरेटर महासंघ राजस्थान की ओर से प्रदेश संरक्षक नरेन्द्र कुमार वैष्णव व प्रदेश संयोजक शरद कुमार के नेतृत्व में कम्प्युटर ऑपरेटर्स ने सोमवार को जयपुर जाकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ के नाम कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड को ज्ञापन सौंपकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत मशीन विद् मैन कम्प्युटर ऑपरेटर्स की समस्याओं का निराकरण करने व पांच सूत्रीय मांगों को पूरा करने की मांग की।

मंत्री राठौड ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख शासन सचिव वीनु गुप्ता को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। महिपाल यादव, राजेश कुमार, राहुल जोशी, देवेन्द्र यादव, रविकान्त यादव आदि कम्प्यूटर ऑपरेटर्स मौजूद रहे।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने जिला कलेक्टर को दिया ज्ञापन

जटवाड़ा।
महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत बस्सी उपखण्ड की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं एवं आशा सहयोगिनियों ने मिलकर सोमवार को संगठन संरक्षक छोटे लाल बुनकर की अध्यक्षता में जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया।

संरक्षक छोटेलाल बुनकर ने बताया कि भाजपा सरकार ने अपने द्वारा किए गए चुनावी वादों को भुला दिया। इस सरकार को अपने ही चुनावी वादे याद दिलाने के लिए जिला कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया कि गत दिनों सरकार ने संघ से समझौता किया था कि दूसरे राज्यों की तुलना करके राज्य में भी मानदेय बढ़ा दिया जाएगा। मगर राजस्थान सरकार इस मामले में अभी तक चुप्पी साधे हुए हैं। ऐसे में अगर हमारी मांगें नहीं मानी गई तो आगामी चुनाव में इसका जवाब दिया जाएगा। सोमवार को ज्ञापन देते समय कृष्णा बैरवा, सरोज बैरवा, सीमा, संतोष आदि मौजूद थी।

शिक्षक समस्याओं के लिए राज्यसभा सांसद को कराया अवगत

कोटपूतली | राजस्थान वरिष्ठ शिक्षक संघ (रेस्टा) के पदाधिकारियों ने प्रदेश उप सभाध्यक्ष मोहरसिंह सलावद के नेतृत्व में राज्यसभा सांसद डा.किरोडीलाल मीणा को ज्ञापन देकर शिक्षकों की समस्याओं से अवगत कराया।

प्रदेश मुख्य संगठन मंत्री उमेश बसवाल ने बताया कि राज्य के 5 हजार नवक्रमोन्नत उच्च माध्यमिक विद्यालय में अनिवार्य हिंदी व अंग्रेजी के पद स्वीकृत करवाने, एनपीएस को बंद कर पुरानी पेंशन शुरू करने, प्रधानाचार्य के 50 फीसदी पदों पर सीधी भर्ती करने, वरिष्ठ शिक्षकों का मूल वेतन 16290 करने, ग्रेड पे 4600 करने, राज्य के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान संकाय खोलने, योग्यता अभिवृद्धि व ट्रांसफर करने सहित मांगों को लेकर दिया गया। पुखराज जीवली,मीठालाल कोलायत, रामचरण मीना,रामनारायण मीना,अविनाश मीना,राजकुमार जेफ, पुष्पेंद्र आदि मौजूद रहे।

पांच सूत्रीय मांग, चिकित्सामंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली

अखिल राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा एवं जांच योजना कम्प्युटर ऑपरेटर महासंघ राजस्थान की ओर से प्रदेश संरक्षक नरेन्द्र कुमार वैष्णव व प्रदेश संयोजक शरद कुमार के नेतृत्व में कम्प्युटर ऑपरेटर्स ने सोमवार को जयपुर जाकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ के नाम कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड को ज्ञापन सौंपकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत मशीन विद् मैन कम्प्युटर ऑपरेटर्स की समस्याओं का निराकरण करने व पांच सूत्रीय मांगों को पूरा करने की मांग की।

मंत्री राठौड ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख शासन सचिव वीनु गुप्ता को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। महिपाल यादव, राजेश कुमार, राहुल जोशी, देवेन्द्र यादव, रविकान्त यादव आदि कम्प्यूटर ऑपरेटर्स मौजूद रहे।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने जिला कलेक्टर को दिया ज्ञापन

जटवाड़ा।
महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत बस्सी उपखण्ड की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं एवं आशा सहयोगिनियों ने मिलकर सोमवार को संगठन संरक्षक छोटे लाल बुनकर की अध्यक्षता में जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया।

संरक्षक छोटेलाल बुनकर ने बताया कि भाजपा सरकार ने अपने द्वारा किए गए चुनावी वादों को भुला दिया। इस सरकार को अपने ही चुनावी वादे याद दिलाने के लिए जिला कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया कि गत दिनों सरकार ने संघ से समझौता किया था कि दूसरे राज्यों की तुलना करके राज्य में भी मानदेय बढ़ा दिया जाएगा। मगर राजस्थान सरकार इस मामले में अभी तक चुप्पी साधे हुए हैं। ऐसे में अगर हमारी मांगें नहीं मानी गई तो आगामी चुनाव में इसका जवाब दिया जाएगा। सोमवार को ज्ञापन देते समय कृष्णा बैरवा, सरोज बैरवा, सीमा, संतोष आदि मौजूद थी।

शिक्षक समस्याओं के लिए राज्यसभा सांसद को कराया अवगत

कोटपूतली | राजस्थान वरिष्ठ शिक्षक संघ (रेस्टा) के पदाधिकारियों ने प्रदेश उप सभाध्यक्ष मोहरसिंह सलावद के नेतृत्व में राज्यसभा सांसद डा.किरोडीलाल मीणा को ज्ञापन देकर शिक्षकों की समस्याओं से अवगत कराया।

प्रदेश मुख्य संगठन मंत्री उमेश बसवाल ने बताया कि राज्य के 5 हजार नवक्रमोन्नत उच्च माध्यमिक विद्यालय में अनिवार्य हिंदी व अंग्रेजी के पद स्वीकृत करवाने, एनपीएस को बंद कर पुरानी पेंशन शुरू करने, प्रधानाचार्य के 50 फीसदी पदों पर सीधी भर्ती करने, वरिष्ठ शिक्षकों का मूल वेतन 16290 करने, ग्रेड पे 4600 करने, राज्य के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान संकाय खोलने, योग्यता अभिवृद्धि व ट्रांसफर करने सहित मांगों को लेकर दिया गया। पुखराज जीवली,मीठालाल कोलायत, रामचरण मीना,रामनारायण मीना,अविनाश मीना,राजकुमार जेफ, पुष्पेंद्र आदि मौजूद रहे।

पांच सूत्रीय मांग, चिकित्सामंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली

अखिल राजस्थान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा एवं जांच योजना कम्प्युटर ऑपरेटर महासंघ राजस्थान की ओर से प्रदेश संरक्षक नरेन्द्र कुमार वैष्णव व प्रदेश संयोजक शरद कुमार के नेतृत्व में कम्प्युटर ऑपरेटर्स ने सोमवार को जयपुर जाकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ के नाम कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड को ज्ञापन सौंपकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत मशीन विद् मैन कम्प्युटर ऑपरेटर्स की समस्याओं का निराकरण करने व पांच सूत्रीय मांगों को पूरा करने की मांग की।

मंत्री राठौड ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख शासन सचिव वीनु गुप्ता को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। महिपाल यादव, राजेश कुमार, राहुल जोशी, देवेन्द्र यादव, रविकान्त यादव आदि कम्प्यूटर ऑपरेटर्स मौजूद रहे।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने जिला कलेक्टर को दिया ज्ञापन

जटवाड़ा।
महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत बस्सी उपखण्ड की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं एवं आशा सहयोगिनियों ने मिलकर सोमवार को संगठन संरक्षक छोटे लाल बुनकर की अध्यक्षता में जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया।

संरक्षक छोटेलाल बुनकर ने बताया कि भाजपा सरकार ने अपने द्वारा किए गए चुनावी वादों को भुला दिया। इस सरकार को अपने ही चुनावी वादे याद दिलाने के लिए जिला कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया कि गत दिनों सरकार ने संघ से समझौता किया था कि दूसरे राज्यों की तुलना करके राज्य में भी मानदेय बढ़ा दिया जाएगा। मगर राजस्थान सरकार इस मामले में अभी तक चुप्पी साधे हुए हैं। ऐसे में अगर हमारी मांगें नहीं मानी गई तो आगामी चुनाव में इसका जवाब दिया जाएगा। सोमवार को ज्ञापन देते समय कृष्णा बैरवा, सरोज बैरवा, सीमा, संतोष आदि मौजूद थी।

शिक्षक समस्याओं के लिए राज्यसभा सांसद को कराया अवगत

कोटपूतली | राजस्थान वरिष्ठ शिक्षक संघ (रेस्टा) के पदाधिकारियों ने प्रदेश उप सभाध्यक्ष मोहरसिंह सलावद के नेतृत्व में राज्यसभा सांसद डा.किरोडीलाल मीणा को ज्ञापन देकर शिक्षकों की समस्याओं से अवगत कराया।

प्रदेश मुख्य संगठन मंत्री उमेश बसवाल ने बताया कि राज्य के 5 हजार नवक्रमोन्नत उच्च माध्यमिक विद्यालय में अनिवार्य हिंदी व अंग्रेजी के पद स्वीकृत करवाने, एनपीएस को बंद कर पुरानी पेंशन शुरू करने, प्रधानाचार्य के 50 फीसदी पदों पर सीधी भर्ती करने, वरिष्ठ शिक्षकों का मूल वेतन 16290 करने, ग्रेड पे 4600 करने, राज्य के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान संकाय खोलने, योग्यता अभिवृद्धि व ट्रांसफर करने सहित मांगों को लेकर दिया गया। पुखराज जीवली,मीठालाल कोलायत, रामचरण मीना,रामनारायण मीना,अविनाश मीना,राजकुमार जेफ, पुष्पेंद्र आदि मौजूद रहे।

X
कंप्यूटर ऑपरेटर्स की समस्याओं का निराकरण करने की मांग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..