कोटपूतली

--Advertisement--

क्रमोन्नत के 6 साल बाद भी चिकित्सकों के पद हैं रिक्त

नारेहड़ा.सीएचसी में स्थित धर्मशाला का भवन। भास्कर न्यूज़| नारेहड़ा कस्बे में स्थित सामुदायिक सामुदायिक...

Dainik Bhaskar

May 06, 2018, 05:15 AM IST
क्रमोन्नत के 6 साल बाद भी चिकित्सकों के पद हैं रिक्त
नारेहड़ा.सीएचसी में स्थित धर्मशाला का भवन।

भास्कर न्यूज़| नारेहड़ा

कस्बे में स्थित सामुदायिक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सकों के अभाव में मरीजों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। इस केंद्र को जुलाई 2012 में तत्कालीन सरकार द्वारा अपने बजट में इसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत किया था। लेकिन क्रमोन्नत होने के 6 साल बाद भी यहां कनिष्ठ विशेषज्ञ मेडिसन, कनिष्ठ विशेषज्ञ सर्जरी, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी व चिकित्सा अधिकारी के पद रिक्त चल रहे है। यहां आने वाले मरीजों को समुचित लाभ नहीं मिल रहा है। डॉ नरसिंह कांवत ने बताया कि यहां कुल 16 का स्टाफ है। इस केंद्र पर रोज 200 से ज्यादा मरीजों का प्रतिदिन आउटडोर है। यहां 30 से 35 प्रसव की संख्या है। इस केंद्र पर आसपास के करीब 20 गांवों के मरीज इलाज करवाने आते है। करीब 2 वर्ष पहले राज्य सरकार द्वारा इस स्वास्थ्य केंद्र में 50 लाख की लागत से एक धर्मशाला का निर्माण किया गया है। जिसमे आसपास के मरीजों को ठहरने की सुविधा सुलभ है। लेकिन विगत दिनों केंद्र के नये भवन का निर्माण कार्य के चलते फिलहाल मरीजों का इसी धर्मशाला में इलाज किया जा रहा है। धर्मशाला का उद्घाटन केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री कर्नल राज्य वर्धन सिंह राठौड़ ने किया था। केंद्र के प्रभारी डॉ.राहुल शर्मा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र का यह सबसे बड़ा अस्पताल है। कोटपूतली नीमकाथाना स्टेट हाईवे पर होने के कारण यहां बड़ी संख्या में मरीज इलाज करवाने आते हैं।

X
क्रमोन्नत के 6 साल बाद भी चिकित्सकों के पद हैं रिक्त
Click to listen..