--Advertisement--

धरती पर मां ईश्वर की सर्वश्रेष्ठ कृति

कोटपूतली. द राजस्थान इंटरनेरशनल स्कूल में मातृ दिवस के उपलक्ष्य में कार्यक्रम में माताएं व अन्य। कार्यालय...

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 05:15 AM IST
धरती पर मां ईश्वर की सर्वश्रेष्ठ कृति
कोटपूतली. द राजस्थान इंटरनेरशनल स्कूल में मातृ दिवस के उपलक्ष्य में कार्यक्रम में माताएं व अन्य।

कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली

द राजस्थान इंटरनेरशनल स्कूल में मातृ दिवस के उपलक्ष्य में विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन हुआ। छात्र-छात्राओं ने कविता, भाषण, एकांकी व अनेक हृदयस्पर्शी नृत्य व गीतों के माध्यम से मां की ममता का गुणगान किया। विद्यालय में अतिथि के तौर विद्यार्थियाें की माताआें को बुलाया गया। आगन्तुक माताआें का गुलाब का फूल भेंट एवं तिलक लगाकर विद्यार्थियाें ने स्वागत किया। माताआें के लिए भी विविधि प्रकार की मनोरंजक प्रतियोगिताए हुई जिसमें सभी ने अपने बच्चाें के साथ उत्साहपूर्वक भाग लिया। प्रधानाचार्य पी.के. भाटी ने कहा कि ममता, स्नेह व त्याग की मूर्ति मां को समर्पित यह दिवस मनाते हुए हम सभी गौरव का अनुभव कर रहे हैं। भाटी ने कहा कि मां इस धरा पर ईश्वर का प्रतिरूप है। मां के त्याग का मूल्य हम कभी नहीं चुका सकते।

शिक्षक राकेश गौड़ व नरेश नूनिया ने मां के सम्मान में कविता प्रस्तुत की। प्रीति अग्रवाल, नीलम त्रिपाठी व विनीति उपाध्याय ने इस आयोजन की सराहना की। विविध प्रतियोगिताआें में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली माताआें को प्रधानाचार्य भाटी ने उपहार देकर सम्मानित किया। संचालन शिक्षिका सौम्या राज व नीतू वर्मा ने किया।

X
धरती पर मां ईश्वर की सर्वश्रेष्ठ कृति
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..