• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kotputli News
  • मुख्यमंत्री जनसंवाद में प्राप्त परिवेदनाओं का त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चत करें:सिन्हा
--Advertisement--

मुख्यमंत्री जनसंवाद में प्राप्त परिवेदनाओं का त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चत करें:सिन्हा

गत दिनों मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के जनसंवाद के दौरान लोगों द्वारा दिए गए शिकायतों को जल्द निस्तारण करने के लिए...

Dainik Bhaskar

Apr 30, 2018, 05:20 AM IST
गत दिनों मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के जनसंवाद के दौरान लोगों द्वारा दिए गए शिकायतों को जल्द निस्तारण करने के लिए सीकर जिला प्रभारी सचिव मुग्धा सिन्हा ने कहा है कि मुख्यमंत्री जनसंवाद मे प्राप्त परिवेदनाओं का त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चत करें । उन्होंने मुख्यमंत्री जनसंवाद में प्राप्त परिवेदनाओं की विभागवार समीक्षा करके सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिला प्रभारी सचिव सिन्हा ने अधीक्षण अभियन्ता जन स्वास्थ्य अभियान्ति्रकी विभाग को निर्देशित किया कि प्राप्त परिवेदनाओं में जो डूएबल परिवेदनाऎं है उनका निस्तारण 15 मई से पूर्व कराना सुनिश्चित करावें। उच्च जलाशय की सीढीयों नहीं होने से सफाई नही होने के प्रकरण में स्वयं को मौका देखकर आवश्यक कार्यवाही करने के लिए निर्देश दिए एवं स्वीकृत कार्यों के कार्यादेश व निविदा प्रक्रिया 3 मई से पूर्व कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। सार्वजनिक निर्माण विभाग की परिवेदनाओं की समीक्षा करते हुए अधीक्षण अभियन्ता को मुख्यमंत्री जनसंवाद में प्राप्त परिवेदनाओं में जिन कार्यों की वित्तीय स्वीकृति प्राप्त हो गई है उनमेंं निविदा आमंत्रित कर मानसून से पूर्व स्वीकृत कार्यों को पूर्ण कराने के निर्देश दिए। सिन्हा ने सभी विभागों की व्यक्तिगत लाभार्थीयों से सम्बन्धित योजनाओं में वित्तीय वर्षवार योजनाओं के लाभार्थीयों की सूची तैयार करावें तथा वर्ष के अन्त में प्रमाण पत्र प्राप्त किया जावें कि कोई भी व्यक्तिगत लाभार्थी लाभ से वंचित नहीं रहा है, यदि व्यक्तिगत लाभार्थी वंचित है तो उसका कारण सहित विवरण प्रस्तुत करावें।

ग्रामीणों को नहीं मिल रही बस सुविधा

कोटपूतली | कोटपूतली से बहरोड के बीच हाईवे पर स्थित दर्जनो गावों के लोगों को कोटपूतली व बहरोड आने-जाने के लिए अपनी जान जोखिम मे डालकर मंजिल तय करनी पडती है। जबकि कोटपूतली रोडवेज डिपो की बस, ग्रामीण परिवहन बस सेवा व लोक परिवहन बस सेवा होने के बावजूद भी उपलब्ध नही है। ग्राम सांगटेडा निवासी समाजसेवी रतनलाल शर्मा ने बताया कि शनिवार सुबह मुझे बहरोड जाना था। लेकिन ग्राम सांगटेडा से बहरोड के लिए घण्टो साधन का इंतजार करने के बाद एक टैम्पों में बैठकर पहले कोटपूतली आना पडा। इसके बाद कोटपूतली से एक्सप्रेस रोडवेज बस मे सवार होकर बहरोड जाना पडा। जिससे समय व धन की बर्बादी हुई। साथ ही गांव से ओर कोटपूतली आने के लिए टैम्पो में लटकर आना पडा। जिससे अपनी जान जौखिम में डालनी पडती है। कोटपूतली से बहरोड के बीच छोटे-बडे सैकडों गांव व ढाणियां पडती है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..