कोटपूतली

--Advertisement--

नल खुले रहने से व्यर्थ बह रहा हजारों लीटर पानी

कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली भीषण गर्मी के मौसम में एक ओर जहां क्षेत्रवासी व जीव-जंतु पानी की बूंद-बूंद के लिए...

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 05:20 AM IST
कार्यालय संवाददाता | कोटपूतली

भीषण गर्मी के मौसम में एक ओर जहां क्षेत्रवासी व जीव-जंतु पानी की बूंद-बूंद के लिए तरस रहे है। वहीं दूसरी ओर कस्बे के सबसे पुराने राजकीय एलबीएस पीजी महाविद्यालय में महाविद्यालय प्रशासन, व्याख्याताओं एवं विघार्थियों की लापरवाही से प्रतिदिन हजारों लीटर पेयजल व्यर्थ बह रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार महाविद्यालय परिसर में मुख्य प्रशासनिक भवन के सामने छात्रों के लिए बनाई गई पानी की टंकी पर लगी हुई टूटियों के खुले रहने से दिन व रात्रि के वक्त हजारों लीटर पानी यूं ही व्यर्थ बह रहा है।

महाविद्यालय कर्मचारियों द्वारा पानी की टंकी खाली होने पर उसे तो मोटर चलाकर पुनः भर दिया जाता है लेकिन पानी की टूटियों को बंद करने के इंतजाम नहीं किये जा रहे है जो कि महाविद्यालय प्रशासन की बडी चूक व लापरवाही का नमूना है। विघार्थियों को अनुशासन व जीवन उपयोगी सिद्धांत एवं नियम सिखाने वाले व्याख्याता ही इस प्रकार की बेहद उपयोगी चीजों के प्रति लापरवाह बने हुए है। देखना यह है कि टूटियों के खराब होने की वजह से पेयजल व्यर्थ में बह रहा है या फिर यह पानी पीकर जाने वाले विघार्थियों या कॉलेज प्रशासन की अनदेखी का नतीजा है। इस संबंध में छात्रसंघ अध्यक्ष संदीप रावत का कहना है कि परीक्षाओं का समय होने से इस चीज की जानकारी नहीं लगी। जल्द से जल्द महाविद्यालय प्रशासन से बात कर टूटियों को बंद करवाया जायेगा।

X
Click to listen..