Hindi News »Rajasthan »Kotputli» अवैध शराब बिक्री या आवंछित गतिविधियां मिली तो बीट कांस्टेबल होंगे सस्पेंड

अवैध शराब बिक्री या आवंछित गतिविधियां मिली तो बीट कांस्टेबल होंगे सस्पेंड

नवनियुक्त जयपुर ग्रामीण एसपी अजय पाल लांबा ने रविवार को कोटपूतली थाने का निरीक्षण किया। उन्हाेंने एक घंटे से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 05:35 AM IST

अवैध शराब बिक्री या आवंछित गतिविधियां मिली तो बीट कांस्टेबल होंगे सस्पेंड
नवनियुक्त जयपुर ग्रामीण एसपी अजय पाल लांबा ने रविवार को कोटपूतली थाने का निरीक्षण किया। उन्हाेंने एक घंटे से अधिक पुलिसकर्मियों की क्लास लेते हुए कहा कि वे किसी भी सूरत में अवांछित गतिविधि व अवैध शराब की बिक्री देखना नहीं चाहते। यदि ऐसा हुआ तो वे संबंधित बीट कांस्टेबल को संस्पेंड कर देंगे, साथ ही एसएचओ के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने थाना स्टॉफ की मीटिंग लेते हुए कहा कि थानों में माहौल सुधरना चाहिए ताकि आने वाले आमजन को डर नहीं लगे। एक घंटे से अधिक पुलिसकर्मियों की रोल कॉल क्लास लेते हुए एसपी एकदम सख्त नजर आए।

उन्होंने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि ईमानदारी के साथ काम करें, कार्यशैली में बदलाव नजर आना चाहिए। उन्होंने चुनावी माहौल को देखते हुए अभी से बीट कांस्टेबल को सख्त हिदायत दी कि वे अभी से अपने- अपने क्षेत्र में प्रलोभन, शराब बांटने वाले, दादागिरी दिखाने वाले लोगों को चिह्नित करे ताकि उन पर समय रहते कार्रवाई की जा सके, ताकि निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव हो सके।

आईओज की मीटिंग में इन बातों पर दिया जोर

कम्युनिकेशन : जनता के साथ कम्युनिकेशन बनाए ताकि आमजन आपको सरलता और विश्वास के साथ अपनी बात कह सके। अधिकांश सूचनाएं जनता से ही मिलती है। अपने काम में पारदर्शिता लेकर आए। थानों में माहौल आमजनता के अनुकूल होना चाहिए।

वेरिफिकेशन : हर सूचना को जनता या अन्य माध्यम से आपको मिलती है। उसे महत्व दे। उसका वेरिफिकेशन करें, हो सकता है कि उस सूचना से आप कोई बड़ा अपराध होने से रोक ले। आपके क्षेत्र में यदि कुछ संदिग्ध हो रहा है तो बिना लापरवाही बरते उसे वेरिफाई करे।

इंवेस्टिगेशन : किसी भी मामले की जांच कम से कम समय में पूरी हो। उसमें सभी तथ्यों और सबूतों को जुटाए। ताकि आरोपी को बचने का अवसर न मिले। पीडित आपकी इंवेस्टिगेशन से संतुष्ट होना चाहिए। जो लोग जांच में पुलिस की मदद करते है। उन्हे पुलिस पर भरोसा होना चाहिए।

सेटिशफिकेशन : पुलिस के काम से प्रत्येक नागरिक को सेटिशफिकेशन यानी संतुष्टि मिलनी चाहिए। शिकायतकर्ता को थाने से यह संतुष्ट करके भेजे कि उसकी शिकायत पर कार्रवाई जरूरी होगी। अपने व्यवहार में सॉरी व थैंक्यू बोलना शामिल करे।

कोटपूतली. जयपुर ग्रामीण एसपी व अन्य अधिकारी।

एसपी ने ये भी दिए निर्देश: थानों में माहौल को सुधारे, वहां आते समय आमजन को डर नहीं लगना चाहिए, बल्कि यह विश्वास होना चाहिए कि पुलिस की मदद जरूर मिलेगी। जरूरी नहीं कि हर काम में हम कानून कायदा लेकर बैठ जाए। अपने छोटे -छोटे प्रयासों से आम नागरिकों की मदद करे। अपने आपको अच्छे कामों का आइडिल बनाए। काम ऐसा होना चाहिए कि नागरिक आपके तबादले के बाद भी आपको याद करे और आपका उदाहरण दे।

सरूंड थाना अगले सप्ताह से

एसपी जयपुर ग्रामीण ने कहा कि यदि सबकुछ ठीक रहा तो अगले सप्ताह सरूंड थाना खोल दिया जाएगा। हाइवे पर जमीन की उपलब्धता के लिए पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए। एसपी लांबा ने आमजन से कहा कि वे किसी भी अवांछित गतिविधि या स्थानीय पुलिस कर्मियों से संतुष्टि नहीं होने पर जयपुर ग्रामीण कंट्रोल रूम 2209741, 2209765 व 8764869049 पर शिकायत कर सकते हैं। इसके बाद एसपी ने एचएम रिकॉर्ड, मालखाना, मैस, महिला डेस्क सहित थाने की बारीकियों का निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kotputli

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×