--Advertisement--

62 करोड़ रुपए से शुरू हुआ जुर्माना 400 करोड़ के पार

कल्याणपुरा में हुए अवैध खनन को लेकर खान विभाग ने ग्राम कल्याणपुरा मैड़ा में संचालित सभी 9 खानों को निरस्त करते हुए...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 05:20 AM IST
कल्याणपुरा में हुए अवैध खनन को लेकर खान विभाग ने ग्राम कल्याणपुरा मैड़ा में संचालित सभी 9 खानों को निरस्त करते हुए कुल 40 लोगों के खिलाफ 414 करोड़ का जुर्माना निर्धारित करते हुए लेंड रेवन्यू एक्ट के तहत कार्रवाई कर जुर्माना राशि वसूले जाने की प्रक्रिया शुरू की। इससे पूर्व भी इन सभी अवैध खनन के दोषियों के खिलाफ खान विभाग ने नोटिस जारी किए थे।

गौरतलब है कि जीवन बचाओ आंदोलन के मुख्य संयोजक नित्येन्द्र मानव की मांग पर कोटपूतली तहसील के ग्राम कल्याणपुरा मैड़ा में पिछले 15 वर्षों से लगातार हो रहे अवैध खनन को लेकर खान विभाग ने लगभग 3 वर्ष पूर्व जांच की गई थी। इसके तहत अवैध खनन में लिप्त लोगों पर कुल 62 करोड़ 20 लाख का जुर्माना लगाया गया था। इसे अत्यधिक कम बताते हुए मानव द्वारा नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल भोपाल के समक्ष जनहित याचिका दायर कर कल्याणपुरा सहित कोटपूतली क्षेत्र के अन्य गांवों में उच्च स्तर पर हो रहे अवैध खनन, अवैध ब्लास्टिंग आदि पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाने, प्रदूषण जनित रोगों पर नियंत्रण पाने तथा ग्राम बुचारा, कल्याणपुरा मैड़ा आदि में हुए अवैध खनन की पुनः जांच करवाने की मांग की गई थी। ट्रिब्यूनल ने खनन विभाग को कार्रवाई के आदेश देने के अलावा उच्च अधिकारियों को भी कार्रवाई के लिए पत्र लिखा था। इनकी पालना में खान विभाग द्वारा ग्राम कल्याणपुरा मैड़ा में अवैध खनन की नाप जोख कर जांच में अत्यधिक उच्च स्तर पर अवैध खनन पाया गया था। पिछले दिनों खान विभाग की प्रमुख शासन सचिव अर्पणा अरोड़ा ने तात्कालिक एएमई को टेलीफोन कर ग्राम कल्याणपुरा में हुए अवैध खनन की बारीकी से जांच कर वास्तविक जुर्माना राशि तय करने के निर्देश दिए थे।

जयपुर जिले की सबसे बड़ी कार्रवाई

मानव ने बताया कि ग्राम कल्याणपुरा में अवैध खनन को लेकर की गई कार्रवाई जयपुर जिले की सबसे बड़ी कार्रवाई है।कोटपूतली खान विभाग के एएमई राकेश समशेरा ने बताया कि यह सही है कि कल्याणपुरा कलां मैडा में अवैध खनन में लिप्त लोगों पर जुर्माना 62 करोड़ से 4 अरब 14 करोड़ हो गया जिसे वसूलने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। साथ ही वहां संचालित 9 खानों को निरस्त कर दिया गया है।