• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kuchaman
  • स्कूल पर ताला लगाकर पीपीपी मोड के फैसले का विरोध जताया
--Advertisement--

स्कूल पर ताला लगाकर पीपीपी मोड के फैसले का विरोध जताया

भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी राज्य सरकार द्वारा शहर के तीन सरकारी विद्यालयों को पीपीपी मोड पर दिए जाने फैसले...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:20 AM IST
स्कूल पर ताला लगाकर पीपीपी मोड के फैसले का विरोध जताया
भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी

राज्य सरकार द्वारा शहर के तीन सरकारी विद्यालयों को पीपीपी मोड पर दिए जाने फैसले के विरोध में गुरुवार को बीएड-एसटीसी के छात्राध्यापकों ने बानूड़ा के राजकीय माध्यमिक विद्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। स्कूलों को पीपीपी मोड पर नहीं दिए जाने की मांग को लेकर एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपा। राज्य सरकार ने प्रदेश भर में 300 सरकारी स्कूलों को पीपीपी मोड पर दिए जाने का फैसला लिया है। जिसमें कुचामन शहरी क्षेत्र के 3 व ग्रामीण क्षेत्र का एक विद्यालय भी शामिल है। जिसके विरोध में बीएड व एसटीसी के छात्राध्यापकों व छात्राध्यापिकाओं के साथ अभिभावक और विद्यार्थियों ने मुख्य द्वार बंद कर नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद एसडीएम रामसुख गुर्जर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि राज्य सरकार ने सरकारी स्कूलों को पीपीपी मोड पर दिए जाने का फैसला नहीं बदला तो आंदोलन तेज किया जाएगा।

मकराना | राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत की एक बैठक गुरुवार शाम को हुई। अध्यक्षता पंकज चौधरी ने की। प्रधानाचार्य शारदा प्रसाद गुप्ता मुख्य अतिथि रहे। इस दौरान गुप्ता ने कहा कि सरकार ने जो लक्ष्य शिक्षकों को दिए थे। उन्हें शिक्षकों ने शत प्रतिशत पूरा किया है। फिर भी सरकारी विद्यालयों को पीपीपी मोड पर निजी हाथों में सौंपना विद्यार्थियों और शिक्षकों के भविष्य को प्रभवित करेगा। उन्होंने पीपीपी मोड के विरोध में रणनीति पर भी चर्चा की। इस मौके पर अब्दुल वहीद खिलजी, चेतन राजपुरोहित, उगमाराम बडारडा, अब्दुल रउफ, देवीलाल बंजार, मगनीराम, रामदेव पारीक, मनान अहमद, अर्जुन गांधी, महेशचंद और कैलाश चंद विश्नोई आदि मौजूद थे।

X
स्कूल पर ताला लगाकर पीपीपी मोड के फैसले का विरोध जताया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..