• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kuchaman
  • नर्सिंग दिवस: मरीज के बाद उसके दर्द का सबसे ज्यादा अहसास नर्सिंग स्टाफ को होता है
--Advertisement--

नर्सिंग दिवस: मरीज के बाद उसके दर्द का सबसे ज्यादा अहसास नर्सिंग स्टाफ को होता है

Kuchaman News - भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी अंतरराष्ट्रीय नर्सेज दिवस पर शनिवार को मरुधर कॉलेज ऑफ नर्सिंग में समारोह का...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 05:15 AM IST
नर्सिंग दिवस: मरीज के बाद उसके दर्द का सबसे ज्यादा अहसास नर्सिंग स्टाफ को होता है
भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी

अंतरराष्ट्रीय नर्सेज दिवस पर शनिवार को मरुधर कॉलेज ऑफ नर्सिंग में समारोह का आयोजन हुआ। समारोह के मुख्य अतिथि एसडीएम रामसुख गुर्जर ने विद्यार्थियों को कहा कि स्वस्थ व्यक्ति ही स्वस्थ परिवार, स्वस्थ समाज के बारे में विचार कर सकता हैं। स्वस्थ नागरिक बनने से पूर्व हर प्रकार के नशे से दूर होना होगा। कॉलेज चेयरमैन डॉ. बीएल गावड़िया ने कहा कि बीमारी के दौरान मरीज के दर्द का अहसास सबसे पहले तो स्वयं मरीज को होता है उसके बाद नर्सिंग स्टाफ ही है जो मरीज के दर्द को अपना दर्द समझते हैं। निदेशक डॉ. रजनी गावड़िया ने कहा कि सेवा का पर्याय ही नर्सिंग कार्य हैं। चिकित्सक रोगी की जांच कर उपचार के लिए परामर्श देता है लेकिन नर्सेज उसके ठीक होने तक देखभाल करती हैं। विशिष्ट अतिथि राजस्थान शिल्प व माटी कला बोर्ड चेयरमैन हरीश कुमावत, भाजपा नेता ज्ञानाराम रणवा, पालिका उपाध्यक्ष मनोहरसिंह रूपपुरा, आईपीएस अधिकारी डॉ. दीपक यादव, पीएमओ डॉ. रघुवीर सिंह र|ू, डॉ. रामलाल चौधरी, डॉ. प्रदीप चौधरी, डॉ. दिनेश चौधरी, भंवरसिंह चौहान, रामेश्वरलाल गावड़िया मौजूद थे। समारोह के दौरान प्राचार्य नितेश शर्मा ने बीएससी व जीएनएम के नए विद्यार्थियों को नर्सिंग को शपथ दिलाई। इस दौरान सुषमा देवी, विनोद कुमार, गजेंद्रसिंह, गोपाल, रूपाराम, मनीष जैन, संतोष जाखड़, मोनिका शर्मा, अबरार अहमद, अब्दुल मन्नान, शाईदा बानो, कमल किशोर, दीपक पारीक, अमित मितल, प्रेमसिंह राठौड़ आदि मौजूद थे।

कुचामन सिटी. नर्सेज दिवस पर सेवा का संकल्प लेते नर्सिंग विद्यार्थी।

लाडनूं नर्सिंग कॉलेज के छात्र राज्य स्तर पर प्रथम व द्वितीय स्थान पर रहे, किया सम्मानित

लाडनूं | लाडनूं के श्री बापूजी नर्सिंग कॉलेज के दो छात्रों ने प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त कर कीर्तिमान स्थापित किया है। कॉलेज निदेशक ओमप्रकाश गुर्जर ने बताया कि महेंद्र सैन निवासी नीमड़ी चांदावता (डेगाना) व गिरीश गुर्जर निवासी डीडवाना जनवरी में आयोजित परीक्षा में शामिल हुए थे। परीक्षा परिणाम में इन्होंने राजस्थान लेवल पर प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त किया। इस अवसर पर दोनों ही छात्रों को अंतरराष्ट्रीय नर्सिंग डे के अवसर पर शनिवार को चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ एवं चिकित्सा राज्य मंत्री बंशीधर बाजिया ने सम्मानित किया। सम्मान समारोह के कार्यक्रम में निदेशक ओमप्रकाश गुर्जर एवं ईशा गुर्जर भी उपस्थित रहे।

X
नर्सिंग दिवस: मरीज के बाद उसके दर्द का सबसे ज्यादा अहसास नर्सिंग स्टाफ को होता है
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..