• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kuchaman
  • 50 साल बाद राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज हुआ सही नाम, ग्रामीणों को मिली राहत
--Advertisement--

50 साल बाद राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज हुआ सही नाम, ग्रामीणों को मिली राहत

Kuchaman News - भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी एसडीएम रामसुख गुर्जर की अध्यक्षता में शनिवार को ग्राम पंचायत चितावा के अटल सेवा...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 05:15 AM IST
50 साल बाद राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज हुआ सही नाम, ग्रामीणों को मिली राहत
भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी

एसडीएम रामसुख गुर्जर की अध्यक्षता में शनिवार को ग्राम पंचायत चितावा के अटल सेवा केंद्र पर न्याय आपके द्वार राजस्व शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान ग्रामीणों ने अपनी समस्याएं बताई। शिविर में विभिन्न सरकारी विभागों के अधिकारी-कार्मिक मौजूद थे। इस दौरान 388 प्रकरणों का मौके पर ही निस्तारण किया गया। एसडीएम ने शिविर के दौरान 2 जनों को बीड़ी और 2 जनों को गुटखा तंबाकू सेवन छोड़ने और भविष्य में नशा नहीं करने का संकल्प लिया। शिविर में चितावा के पर्वतसिंह, ओमसिंह ने एसडीएम को परिवाद पेश कर बताया कि राजस्व रिकॉर्ड में बजरंगसिंह और लक्ष्मणसिंह का नाम करीब 50 बरसों से अंकित है। एसडीएम के निर्देश पर मामले की जांच तहसीलदार महावीरप्रसाद शर्मा ने आरआई और पटवारी के माध्यम से करवाई। जांच के बाद रिकॉर्ड दुरुस्त कर बजरंगसिंह और लक्ष्मणसिंह के नाम की जगह पर्वतसिंह और ओमसिंह के नाम दर्ज किए गए। इसी प्रकार हनुमानराम ने अपने परिवाद में बताया कि नालोट निवासी उनके पूर्वजों ने चितावा में भूमि खरीदी थी। जिसके राजस्व रिकॉर्ड में अब तक उनका नाम नालोट निवासी के तौर पर दर्ज होता आ रहा है। प्रकरण की तहसीलदार के माध्यम से जांच की गई। इसमें सामने आया कि हनुमानराम 50 सालों से चितावा में निवास करता है। जांच के बाद रिकॉर्ड में नालोट की जगह निवासी के रूप में चितावा का नाम दर्ज किया गया।

X
50 साल बाद राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज हुआ सही नाम, ग्रामीणों को मिली राहत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..