• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kuchaman
  • पहले पुलिस ने रखा 15 हजार का इनाम, अब समिति ने कहा जो टीम हत्यारे को पकड़ेगी उसे देंगे 21 हजार
विज्ञापन

पहले पुलिस ने रखा 15 हजार का इनाम, अब समिति ने कहा- जो टीम हत्यारे को पकड़ेगी उसे देंगे 21 हजार

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 05:35 AM IST

Kuchaman News - भास्कर संवाददाता| कुचामन सिटी जस्टिस फोर रश्मि संघर्ष समिति की ओर से उपखंड कार्यालय के बाहर रश्मि गौड़ के...

पहले पुलिस ने रखा 15 हजार का इनाम, अब समिति ने कहा- जो टीम हत्यारे को पकड़ेगी उसे देंगे 21 हजार
  • comment
भास्कर संवाददाता| कुचामन सिटी

जस्टिस फोर रश्मि संघर्ष समिति की ओर से उपखंड कार्यालय के बाहर रश्मि गौड़ के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर रविवार को 7वें दिन भी राजकुमार गौड़ व घनश्याम गौड़ के नेतृत्व में धरना जारी रहा। इस दौरान अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमराराम चौधरी, रोटरी क्लब, महावीर इंटरनेशनल, बागड़ा समाज, पारीक समाज, जैन समाज ने धरने में शामिल होकर अपना समर्थन दिया। धरने में पहुंचे पूर्व विधायक अमराराम ने संघर्ष समिति संयोजक विजय महर्षि से अब तक की कार्यवाही की जानकारी ली। उन्होंने रश्मि के पिता से भी इस बारे में बातचीत की और कहा कि माकपा और किसान सभा इस संघर्ष में सदैव आपके साथ है। धरने में रविवार को उस्मान खान धोद, किशन पारीक धोद, हुडील सरपंच कानाराम, अब्बास खान और माकपा की टीम मौजूद रही। इसी प्रकार रविवार को ज्ञानाराम रणवां, भूराराम शेषमा, दलपतसिंह गच्छीपुरा, एडवोकेट ओमप्रकाश पारीक, सोनू पारीक, जेपी जोशी, जुगलकिशोर, गिरीराज, संपत जोशी, शंकरलाल, नटवरलाल वक्ता, चंपालाल पारीक, सुभाष पहाड़िया, आरिफ खां, अर्जुनराम, भंवरलाल पारीक, तेजपाल, मुकेश जोशी, हेमंत व्यास, प्रदीप, विमल पारीक, विजय पारीक, पालिका उपाध्यक्ष मनोहरसिंह रूपपुरा, पार्षद अहमद खां, मनोज बागड़ा आदि भी धरने पर बैठे। वहीं रश्मि हत्याकांड में संदिग्ध बाइक सवारों की सूचना देने पर पुलिस की ओर से 15000 रुपए के पुरस्कार की घोषणा के बाद अब संघर्ष समिति ने भी पुरस्कार की घोषणा की है। जस्टिस फोर रश्मि संघर्ष समिति के संयोजक विजय महर्षि ने घोषणा करते हुए कहा कि हत्यारों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को समिति की ओर से 21000 रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा।

कुचामन सिटी. धरने में पहुंचकर अब तक की कार्यवाही की जानकारी लेते माकपा नेता अमराराम व अन्य कार्यकता।

भास्कर संवाददाता| कुचामन सिटी

जस्टिस फोर रश्मि संघर्ष समिति की ओर से उपखंड कार्यालय के बाहर रश्मि गौड़ के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर रविवार को 7वें दिन भी राजकुमार गौड़ व घनश्याम गौड़ के नेतृत्व में धरना जारी रहा। इस दौरान अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमराराम चौधरी, रोटरी क्लब, महावीर इंटरनेशनल, बागड़ा समाज, पारीक समाज, जैन समाज ने धरने में शामिल होकर अपना समर्थन दिया। धरने में पहुंचे पूर्व विधायक अमराराम ने संघर्ष समिति संयोजक विजय महर्षि से अब तक की कार्यवाही की जानकारी ली। उन्होंने रश्मि के पिता से भी इस बारे में बातचीत की और कहा कि माकपा और किसान सभा इस संघर्ष में सदैव आपके साथ है। धरने में रविवार को उस्मान खान धोद, किशन पारीक धोद, हुडील सरपंच कानाराम, अब्बास खान और माकपा की टीम मौजूद रही। इसी प्रकार रविवार को ज्ञानाराम रणवां, भूराराम शेषमा, दलपतसिंह गच्छीपुरा, एडवोकेट ओमप्रकाश पारीक, सोनू पारीक, जेपी जोशी, जुगलकिशोर, गिरीराज, संपत जोशी, शंकरलाल, नटवरलाल वक्ता, चंपालाल पारीक, सुभाष पहाड़िया, आरिफ खां, अर्जुनराम, भंवरलाल पारीक, तेजपाल, मुकेश जोशी, हेमंत व्यास, प्रदीप, विमल पारीक, विजय पारीक, पालिका उपाध्यक्ष मनोहरसिंह रूपपुरा, पार्षद अहमद खां, मनोज बागड़ा आदि भी धरने पर बैठे। वहीं रश्मि हत्याकांड में संदिग्ध बाइक सवारों की सूचना देने पर पुलिस की ओर से 15000 रुपए के पुरस्कार की घोषणा के बाद अब संघर्ष समिति ने भी पुरस्कार की घोषणा की है। जस्टिस फोर रश्मि संघर्ष समिति के संयोजक विजय महर्षि ने घोषणा करते हुए कहा कि हत्यारों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को समिति की ओर से 21000 रुपए का नगद पुरस्कार दिया जाएगा।

अमराराम ने प्रशासन को दी चेतावनी, कहा - न्याय के लिए प्रदेश स्तर पर होगा आंदोलन

माकपा नेता अमराराम ने इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि रश्मि के हत्यारे नहीं पकड़े गए तो एक बेटी को न्याय दिलाने के लिए माकपा इस आंदोलन को प्रदेश स्तर पर उग्र आंदोलन में बदल देगी। जिसकी जिम्मेदार सिर्फ सरकार और पुलिस-प्रशासन होगा।

माकपा नेता अमराराम ने कहा कि इस सरकार के राज में प्रदेश में दिन दहाड़े बेटियों को घर में घुसकर मारा जा रहा है, किसान कर्ज के कारण आत्महत्या कर रहे हैं। ऐसे समय में प्रदेश की मुख्यमंत्री गौरव यात्रा निकाल रही है, यह संवेदनहीनता की पराकाष्ठा है। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि न्याय के लिए अब सड़कों पर उतरने में भी कोई कोताही नहीं करेंगे।

दबाव में आकर आत्महत्या को हत्या का रूप देने का प्रयास

माकपा नेता अमराराम ने गत दिनों किसान ने की आत्महत्या मामले में कहा कि चारणवास के किसान मंगलचंद के आत्महत्या प्रकरण में सरकार के दबाव में आकर पुलिस हत्या का रूप देने का प्रयास कर रही है। यह सत्ता पक्ष की खीझ को ही दर्शाता है। उनका कहना है कि खेती की जमीन को रोजीरोटी और माता मानने वाले किसान के लिए कर्ज की स्थिति और ऊपर से नीलामी का आदेश निकाले से आत्महत्या करना एक संस्थानिक हत्या के समान ही है।

पुलिस प्रशासन की सद्बुद्धि के लिए आज अभिषेक

जस्टिस फोर रश्मि संघर्ष समिति की ओर से रश्मि गौड़ के हत्यारों की गिरफ्तारी और पुलिस-प्रशासन की सद्बुद्धि के लिए अभिषेक किया जाएगा। संघर्ष समिति सदस्य श्रीपालसिंह रसाल व गिरिराज खरीट ने बताया कि धरनास्थल के पास स्थित हर-हर महादेव मंदिर में सोमवार को पुलिस प्रशासन की सदबुद्धि के लिए अभिषेक किया जाएगा।

X
पहले पुलिस ने रखा 15 हजार का इनाम, अब समिति ने कहा- जो टीम हत्यारे को पकड़ेगी उसे देंगे 21 हजार
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन