• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kushalgarh
  • नीम हकीम और टेंट लगाकर गांवों में देशी दवाई बेचने वालों के खिलाफ अब एफआईआर होगी

नीम हकीम और टेंट लगाकर गांवों में देशी दवाई बेचने वालों के खिलाफ अब एफआईआर होगी / नीम हकीम और टेंट लगाकर गांवों में देशी दवाई बेचने वालों के खिलाफ अब एफआईआर होगी

Kushalgarh News - बांसवाड़ा| जिले के ग्रामीण अंचल में कार्यरत नीम हकीम और टैंट लगाकर देशी दवाइयां बेचने वालों के खिलाफ अब चिकित्सा...

Bhaskar News Network

Jun 21, 2018, 05:00 AM IST
नीम हकीम और टेंट लगाकर गांवों में देशी दवाई बेचने वालों के खिलाफ अब एफआईआर होगी
बांसवाड़ा| जिले के ग्रामीण अंचल में कार्यरत नीम हकीम और टैंट लगाकर देशी दवाइयां बेचने वालों के खिलाफ अब चिकित्सा विभाग एफआईआर दर्ज कराएगा। बुधवार को जिला प्रमुख रेशम मालवीया की अध्यक्षता में हुई जिला परिषद की प्रशासन एवं स्थापना स्थायी समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया। जिला प्रमुख ने इसके लिए चिकित्सा अधिकारियों को नियमित तौर पर निरीक्षण करने के लिए कहा है। बैठक में आनंदपुरी, कुशलगढ़ व सज्जनगढ़ पीएचसी से प्रसूता को गुजरात रैफर करने की घटनाआें पर तुरंत रोक लगाने और वहां पर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कहा गया। ग्राम स्तर पर पीएचसी-सीएचसी में निर्माण में घटिया सामग्री के उपयेाग का मामला भी उठा, इस पर अब चिकित्सा विभाग निगरानी करेगा। बैठक के दौरान पालनहार योजना के हिताधिकारियों को बार-बार कागजों में कमी बताकर परेशान करने वाले ई-मित्र संचालको पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। तेज बाइक व दो से अधिक सवारी बैठकर चलाने वालों पर संबंघित विभाग कार्रवाई करेगा। जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डाॅ. भंवरलाल ने अधिकारियों से कहा कि वे अपने विभाग से संबंधित कार्यों की पालना रिपोर्ट सदस्यों को भी उपलब्ध कराएं। मालवीया ने कहा कि गढी क्षेत्र में एड्‌स व टीबी के ज्यादा मरीज है। इस पर टीम बनाकर जांच कराने की बात कही गई। जिला परिषद सदस्य गोविन्दिसंह राव ने तीन माह तक राशन नहीं लेने पर जिनके नाम काटे गए है, उनको वापस जोड़ने की मांग की।

स्थाई समिति की बैठक में अधिकारियों को निर्देश देती जिला प्रमुख।

एमजीएच प्रबंधन से चूहों को पकड़ने का प्लान मांगा

सदस्य महावीर पुरी ने नवजातों की मौत के बाद दी गई सहायता राशि के बारे में जानकारी मांगी। इस पर बताया गया है कि 82 लोगों के खाते में राशि जमा करा दी है। पुरी ने बताया कि अस्पताल में भारी मात्रा में चूहे हैं। जो नवजात बच्चों को कुतर जाते हैं। इस पर सीईओ ने चूहों की रोकथाम के लिए एमजी अस्पताल प्रबंधन से प्लान मांगा। उप जिला प्रमुख संगीता त्रिवेदी ने टीएडी के बालिका छात्रावास में कैमरे लगाने की जानकारी मांगी। इस पर अतिरिक्त परियोजना समन्वयक टीएडी अरुणा डिंडोर ने कैमरे नही होने की बात कही। सदस्य हरपाल ने बताया इस बार किसानों को मिलने वाला मूंग का बीज 70 प्रतिशत से ज्यादा खराब था। सीईओ ने कृषि उपनिदेशक भूरालाल पाटीदार को जांच कर जवाब देने के निर्देश दिए।

X
नीम हकीम और टेंट लगाकर गांवों में देशी दवाई बेचने वालों के खिलाफ अब एफआईआर होगी
COMMENT