• Hindi News
  • Rajasthan
  • Kushalgarh
  • नहरों के जीर्णोद्धार में घटिया सामग्री की शिकायत, जेईएन ने काम रुकवाया
--Advertisement--

नहरों के जीर्णोद्धार में घटिया सामग्री की शिकायत, जेईएन ने काम रुकवाया

Kushalgarh News - नगरपालिका कुशलगढ़ क्षेत्र में पिछले 40 साल से कलिंजरा डैम से पानी की सप्लाई की जा रही है। वर्तमान में 6 करोड़ की लागत...

Dainik Bhaskar

Jun 03, 2018, 05:00 AM IST
नहरों के जीर्णोद्धार में घटिया सामग्री की शिकायत, जेईएन ने काम रुकवाया
नगरपालिका कुशलगढ़ क्षेत्र में पिछले 40 साल से कलिंजरा डैम से पानी की सप्लाई की जा रही है। वर्तमान में 6 करोड़ की लागत से क्षतिग्रस्त नहरों के जीर्णोद्धार का काम किया जा रहा है। इस काम को मुख्य ठेकेदार न कर पेटी कोंट्रेक्टर द्वारा करवाया जा रहा है, जो निर्माण कार्य में घटिया सामग्री का इस्तेमाल कर रहा है। डैम के पेटे से अवैध तरीके से मिट्टी की खुदाई की जा रही है। कलिंजरा के मुकेश रावत के नेतृत्व में ग्रामीणों ने घटिया निर्माण कार्य पर नाराजगी जताते हुए इसकी शिकायत जलसंसाधन विभाग के जेईएन से की। सूचना के जेईएन मोहित खज्जा मौके पर पहुंचे और काम बंद करवाया। साथ ही तालाब पेटे में की जा रही अवैध मिट्टी खुदाई की सूचना भी उच्चाधिकारियों को दी। ग्रामीणों ने बताया कि कलिंजरा व खेरदा तालाब की नहरों के जीर्णोद्धार के लिए पक्के निर्माण कार्यों में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिस कारण निर्माण कार्य ज्यादा समय तक नहीं टिक पाएंगे। इस बारे में जलसंसाधन विभाग के कार्यवाहक अधीक्षण अभियंता प्यारेलाल मीणा ने बताया कि उपखंड क्षेत्र में दस से अधिक पक्के काम जलसंसाधन विभाग की देखरेख में इन दिनों प्रगति पर हैं। सीएम के दौर से अब ही फ्री हुए हैं। पूरे काम पारदर्शिता के कराने संबंधित जेईएन को पाबंद कर रखा है। इसके बाद भी लापरवाही की जा रही है तो ठेकेदार के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। कलिंजरा डैम से निकलने वाली 26 किमी नहरों के सुदृढ़ीकरण को लेकर मौके पर कनिष्ठ अभियंता मोहित खज्जा ने बताया कि काली रेती को हटवा दिया गया है। नियमानुसार तराई के निर्देश दिए हैं। फिलहाल किसी भी ठेकेदार को भुगतान नहीं किया है।

निर्माण कार्य में भी घटिया सामग्री का उपयोग

कुशलगढ़. नहर निर्माण के दौरान पड़ी सामग्री।

भास्कर संवाददाता|कुशलगढ़

नगरपालिका कुशलगढ़ क्षेत्र में पिछले 40 साल से कलिंजरा डैम से पानी की सप्लाई की जा रही है। वर्तमान में 6 करोड़ की लागत से क्षतिग्रस्त नहरों के जीर्णोद्धार का काम किया जा रहा है। इस काम को मुख्य ठेकेदार न कर पेटी कोंट्रेक्टर द्वारा करवाया जा रहा है, जो निर्माण कार्य में घटिया सामग्री का इस्तेमाल कर रहा है। डैम के पेटे से अवैध तरीके से मिट्टी की खुदाई की जा रही है। कलिंजरा के मुकेश रावत के नेतृत्व में ग्रामीणों ने घटिया निर्माण कार्य पर नाराजगी जताते हुए इसकी शिकायत जलसंसाधन विभाग के जेईएन से की। सूचना के जेईएन मोहित खज्जा मौके पर पहुंचे और काम बंद करवाया। साथ ही तालाब पेटे में की जा रही अवैध मिट्टी खुदाई की सूचना भी उच्चाधिकारियों को दी। ग्रामीणों ने बताया कि कलिंजरा व खेरदा तालाब की नहरों के जीर्णोद्धार के लिए पक्के निर्माण कार्यों में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिस कारण निर्माण कार्य ज्यादा समय तक नहीं टिक पाएंगे। इस बारे में जलसंसाधन विभाग के कार्यवाहक अधीक्षण अभियंता प्यारेलाल मीणा ने बताया कि उपखंड क्षेत्र में दस से अधिक पक्के काम जलसंसाधन विभाग की देखरेख में इन दिनों प्रगति पर हैं। सीएम के दौर से अब ही फ्री हुए हैं। पूरे काम पारदर्शिता के कराने संबंधित जेईएन को पाबंद कर रखा है। इसके बाद भी लापरवाही की जा रही है तो ठेकेदार के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। कलिंजरा डैम से निकलने वाली 26 किमी नहरों के सुदृढ़ीकरण को लेकर मौके पर कनिष्ठ अभियंता मोहित खज्जा ने बताया कि काली रेती को हटवा दिया गया है। नियमानुसार तराई के निर्देश दिए हैं। फिलहाल किसी भी ठेकेदार को भुगतान नहीं किया है।

ईसरवाला कोहाला पुल के लिए गड्ढे खोदकर काम बंद कर दिया

चिड़ियावासा| बांसवाड़ा डूंगरपुर मार्ग काे जोड़ने के लिए चाप नदी पर पुल बनाने की घोषणा बजट भाषण में की गई थी। इसके बावजूद इस पुल का काम अब तक शुरू नहीं हुआ है। लंबे समय से चाप नदी पर पुल बनाने की मांग घाटोल और गढ़ी क्षेत्र के ग्रामीण कर रहे थे, लेकिन अब तक इसका शिलान्यास नहीं किया। जिस कारण काम रुका पड़ा है। घाटोल विधायक नवनीतलाल निनामा के प्रयास से चाप नदी पर पुल बनाने के लिए बजट स्वीकृत हुआ है। घाटोल उपप्रधान ऋषभ शाह, गौतमलाल चरपोटा, शंकरलाल सुथार, शिवराम मेहता, लालजी पाटीदार, प्रवीण शर्मा ने बताया कि इस पुल का शिलान्यास मुख्यमंत्री के हाथों करवाने के लिए प्रयास किए थे, लेकिन नाकाम रहे। पुल निर्माण के लिए संबंधित विभाग ने गड्ढे खोदकर काम बंद कर दिया।

X
नहरों के जीर्णोद्धार में घटिया सामग्री की शिकायत, जेईएन ने काम रुकवाया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..