• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kushalgarh News
  • अफसरों की लापरवाही से श्रमिकों के 25 हजार बच्चों की सहयोग राशि अटकी
--Advertisement--

अफसरों की लापरवाही से श्रमिकों के 25 हजार बच्चों की सहयोग राशि अटकी

बांसवाड़ा| निर्माण श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा के लिए सरकार नें निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना के तहत...

Dainik Bhaskar

Jun 07, 2018, 05:05 AM IST
बांसवाड़ा| निर्माण श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा के लिए सरकार नें निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना के तहत लाभ पहुंचाना था। लेेकिन ई-मित्र संचालकों व विकास अधिकारी लापरवाही से बच्चों को इसका लाभ मिलने में देरी हो रही हैं। बांसवाड़ा जिले में 31 मार्च 2017 के बाद लगभग 70 हजार हिताधिकारियों ने आवेदन किए।

पूरा सत्र समाप्त व सत्र शुरू होने में मात्र 15 दिन बाकी है। इसके बाद भी लगभग 25 हजार लाभार्थी इस योजना के लाभ से वंचित है। योजना में कक्षा 6 से स्नातकोत्तर तक शिक्षा आईटीआई, पॉलिटेक्निक एवं अन्य डिप्लोमा और इंजीनियरिंग व मेडिकल आदि प्रोफेशनल शिक्षा के लिए छात्रों को 8 हजार से 23 हजार तक छात्रवृत्ति दी जा रही है। इसी प्रकार मेधावी विघार्थियों को कक्षा 8 से स्नातकोत्तर तक 4 से 35 हजार रुपए तक प्रोत्साहन राशि दी जा रही है।

फैक्ट फाइल

कुल आवेदन : 70314

स्वीकृत आवेदन : 44530

वंचित लाभार्थी : 24889

अस्वीकृत आवेदन : 895

सज्जनगढ़ बीडीओ हो चुके है निलंबित

श्रमिक कार्ड बनाने में देरी करने पर गत दिनों बांसवाड़ा दौरे पर आई मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कुशलगढ़ में जनसंवाद के दौरान सज्जनगढ़ बीडीओ जीपी विश्वकर्मा को निलंबित कर दिया था। यहां पर मुख्यमंत्री को ग्रामीणों ने शिकायत की थी कि बीडीओ कार्ड बनाने के लिए बार-बार चक्कर कटवाते हैं। कार्ड नहीं होने के कारण वे कई सरकारी योजनाओं का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है।

योजना की पात्रता







X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..