--Advertisement--

सूर्य आज से कर्क राशि पर भ्रमण करेगा, आएगा बदलाव

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा सूर्य सोमवार 16 जुलाई 2018 से मिथुन राशि से कर्क राशि पर भ्रमण करेगा। जो 16 जुलाई से 17...

Dainik Bhaskar

Jul 16, 2018, 05:05 AM IST
भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा

सूर्य सोमवार 16 जुलाई 2018 से मिथुन राशि से कर्क राशि पर भ्रमण करेगा। जो 16 जुलाई से 17 अगस्त 2018 तक रहेगा। सूर्य के राशि परिवर्तन का विभिन्न राशियों पर अलग-अलग असर पड़ेगा।

ज्योतिषविद पं. हिंदकिशोर जोशी ने बताया कि सूर्य के कर्क राशि पर भ्रमण करने का अशुभ प्रभाव सिंह, धनु, मेष राशि के लोगों पर पड़ेगा। साथ ही इस बदलाव का सामान्य प्रभाव कर्क,वृश्चिक,मीन और शुभ प्रभाव वृषभ, मिथुन, कन्या, तुला, मकर, कुंभ राशि वाले लोगों पर पड़ेगा।

बांसवाड़ा में प्रारंभिक शिक्षा में ढाई दिनों में 250 शिक्षकों को मिली नियुक्ति

बांसवाड़ा| तृतीय श्रेणी अध्यापक सीधी भर्ती 2018 में प्रथम लेवल के शिक्षकों के दस्तावेज सत्यापन से लेकर काउंसलिंग तक की पूरी प्रक्रिया अब पूरी हो चुकी है। अब इंतजार है तो बस ज्वाइंनिंग के आदेशाें का। भर्ती सूची में चयन के बाद इंतजार था तो काउंसलिंग का। जो शुक्रवार से शुरू हुई और रविवार दोपहर में पूरी हो गई। इन ढाई दिनों में प्रारंभिक शिक्षा विभाग ने 977 में 950 अभ्यर्थियों को उनकी पसंद की जगह पर नियुक्ति दी। इनमें सर्वाधिक प्रथम लेवल के शिक्षक कुशलगढ़ और सज्जनगढ़ ब्लॉक को उपलब्ध हुए हैं। इससे इन ब्लॉक में दूर दराज के गांवों में शिक्षकों की कमी दूर होगी। डीईओ प्रारंभिक प्रेमजी पाटीदार ने बताया कि जिले में करीब 1100 सौ पद प्रथम लेवल के रिक्त थे। गुरुवार रात तक रिक्त पदों की सूची जारी कर नव चयनित 977 शिक्षकों को नियुक्ति के लिए दिए गए थे। अब किसी भी स्कूल में रिक्त पदों की समस्या नहीं रहेगी। आरटीई प्रभारी प्रदीप पाटीदार, शैक्षिक प्रकोष्ठ अधिकारी खुशपाल शाह, प्रधानाचार्य नीरज दोसी, बीईईओ कुशलगढ़ जीतमल पणदा, सज्जनगढ़ बीईईओ रुपजी बारिया, गढ़ी ओंकारलाल खांट, एबीईईओ रामलाल डिंडोर प्रधानाचार्य लालनाथ रावल, एमआईएस मैनेजर रितेष चौबीसा, अध्यापक महेंद्र खत्री, वरिष्ठ सहायक कृष्णकांत जोशी, यशवंत जोशी, यशवंत द्विवेदी, एबीईईओ दीनबंधु भट्‌ट और भूपेश पंड्या आदि मौजूद थे।

19 गैर मौजूद, 8 अपात्र

काउंसलिंग प्रक्रिया के तीन दिनों में 19 अभ्यर्थी शामिल नहीं हो सके हैं। जिन्हें दोबारा एक और मौका काउंसलिंग का दिया जाएगा। जिसकी तारीख जल्द ही घोषित कर दी जाएगी। लेकिन उनके लिए शेष विद्यालय ही विकल्प के तौर पर बचेंगे। वहीं 8 अभ्यर्थियों को अपात्र घोषित कर दिया गया है। क्योंकि उनके पास ओपीजेएस की डिग्री थी। सरकार और विभाग द्वारा यूनिवर्सिटी को 2017-19 में मान्यता मिली है। जिसके अनुसार पहली डिग्री 2019 में प्राप्त होगी। अभ्यर्थियों की डिग्री इससे पहले की थी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..