--Advertisement--

शनिदेव को तेल चढ़ाकर मांगी खुशहाली

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा शनिदेव की जयंती पर मंगलवार को जिले भर के शनि मंदिरों में दिनभर धार्मिक आयोजन हुए।...

Dainik Bhaskar

May 16, 2018, 05:10 AM IST
शनिदेव को तेल चढ़ाकर मांगी खुशहाली
भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा

शनिदेव की जयंती पर मंगलवार को जिले भर के शनि मंदिरों में दिनभर धार्मिक आयोजन हुए। शहर के नई आबादी स्थित शनि मंदिर में तेल चढ़ा खुशहाली की कामना की।

कुशलगढ़. शनि जयंती पर बावलियाखाल व घोडादर्रा हनुमान मंदिर पर सैकडों श्रद्धालुओं ने दर्शन लाभ लेकर पूजा की। मंगलवार को शनि जयंती व अमावस्या के संयोग पर कुशलगढ़ नगर में हिरण नदी के किनारे स्थित बावलियाखाल हनुमान व शनि मंदिर पर सुबह से ही श्रद्धालुओं व भक्तों ने तेल का अर्घ्य अर्पित किए। गोवाड़ी के घोड़ादर्रा गांव में स्थित शिव हनुमान मंदिर पर भक्तों का जमावड़ा देखा गया जहां महंत सीताराम बाबा के निर्देशन में हनुमानजी को आकर्षक चोला चढ़ाया गया। मोहकमपुरा,पाटन, बड़ी सरवा, छोटी सरवा सहित आसपास के मंदिरों में आयोजन हुए।

धर्म-समाज-संस्था

सज्जनगढ़ में जयंती पर मेला लगा, शोभायात्रा निकाली

सज्जनगढ़. कस्बे के समीप टांडा रतना में शनि जयंती मनाई गई। जिसको लेकर विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किये गए। शनि जयंती को लेकर मन्दिर की साज सज्जा की गई। दिनभर मैले जैसा माहौल रहा। कस्बे में बैंडबाजों के साथ शनिदेव की शोभायात्रा निकाली गई। झांकी टाण्ड़ा रतना से शुरू हुई जो कस्बे के ईटाला रोड, बस स्टेशन, स्वदेशी ढाबा, राम मंदिर, होली चौक, तांबेसरा रोड़ पीपली चैक, अंबे माता मंदिर से झांकी टांडा रतना पहुंची। इस दौरान सैकड़ों भक्तों की मौजूदगी में महाआरती उतारी गई। राजस्थान के अलावा गुजरात, मध्यप्रदेश व महाराष्ट्र के शनि भक्तों ने भाग लिया। सेवक भारतसिंह टाॅक, कड़वा लबाना, विजयसिंह गोठवाल झुझूनू, राजू लबाना, बलवंत, नरेश, रमेशचंद्र लबाना, विटठ्ल, नवलसिंह सहित सैकड़ों श्रद्धालु मौजुद थे।

मंत्र जापानुष्ठान किए सुंदरकांड भी कराए

तलवाड़ा. कस्बे में मंगलवार को अमावस्या एवं शनि जयंती पर पातेला तालाब किनारे स्थित अभय हनुमान मंदिर पर दिनभर भक्तों की भीड़ रही। भक्तों ने शनि महाराज की वर्ष पर्यंत कृपा बनी रहने की कामना की। दूसरी और श्रद्घालुओं ने अपने घरों एवं अन्य मंदिरों पर दिन में शनि महाराज के मंत्र जापानुष्ठान किए एवं हनुमान चालीसा पाठ, सुंदरकांड भी कराए। इसी प्रकार से सुंदनपुर, कुपड़ा, देवलीया, कोहाला, गामडी आदि जगहों पर भी विविध आयोजन हुए।

शनिदेव को तेल चढ़ाकर मांगी खुशहाली
X
शनिदेव को तेल चढ़ाकर मांगी खुशहाली
शनिदेव को तेल चढ़ाकर मांगी खुशहाली
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..