कुशलगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Kushalgarh News
  • कुशलगढ़ कांग्रेस में गुटबाजी उजागर, ब्लाॅक अध्यक्ष को लेकर हुआ विवाद, पार्टी तोड़ने के लगाए आरोप
--Advertisement--

कुशलगढ़ कांग्रेस में गुटबाजी उजागर, ब्लाॅक अध्यक्ष को लेकर हुआ विवाद, पार्टी तोड़ने के लगाए आरोप

कुशलगढ़| कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र में करीब दो माह पहले ब्लॉक अध्यक्ष बदलने के चलते उपजा असंतोष रविवार को खुलकर...

Dainik Bhaskar

Jul 30, 2018, 05:10 AM IST
कुशलगढ़ कांग्रेस में गुटबाजी उजागर, ब्लाॅक अध्यक्ष को लेकर हुआ विवाद, पार्टी तोड़ने के लगाए आरोप
कुशलगढ़| कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र में करीब दो माह पहले ब्लॉक अध्यक्ष बदलने के चलते उपजा असंतोष रविवार को खुलकर सामने आ गया है। रविवार को थांदला मार्ग स्थित मानवेन्द्र क्लब परिसर में निर्वतमान प्रधान रमीला खडिया की मौजूदगी और प्रदेश कांग्रेस समिति सदस्य हंसमुख सेठ के नेतृत्व में ब्लॉक कांगेस की बैठक हुई।

बैठक का मुख्य एजेंडा विधानसभा चुनाव की तैयारी और संसदीय सचिव भीमा भाई डामोर की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री हरिदेव जोशी पर की गई टिप्पणी का विरोध करना था। बैठक के दौरान ही नए ब्लाॅक अध्यक्ष जयंतीलाल कोवालिया को लेकर विरोध शुरू हो गया। यह विरोध कोवालिया की नियुक्ति के समय से ही शुरू हो चुका था लेकिन अब से पहले तक यह अंदरखाने की चल रहा था। बैठक में घाटा क्षेत्र के कांग्रेस नेता लक्ष्मण दामा व पोटलिया सरपंच छगनलाल सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने कोवालिया के अध्यक्ष पर पार्टी टूटने के हालात बनना बताया। कोवलिया के प्रति नाराजगी इतनी ज्यादा था कि बैठक में मौजूद आधे से ज्यादा कार्यकर्ता बैठक छोड़ कर बाहर निकल गए। हालांकि इस बैठक से कोवालिया, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राघवेश चरपोटा,वरिष्ठ कांग्रेस नेता एडवोकेट हवसिंह कटारा सहित अन्य कई नेता नदारद रहे। बैठक में पूर्व ब्लाॅक अध्यक्ष रजनीकांत खाब्या,महामंत्री रमेश तलेसरा, विजय खडिया मौजूद थे।

कुशलगढ़. कांग्रेस की बैठक को संबोधित करती प्रधान खडिया।

पूर्व ब्लाॅक अध्यक्ष खाब्या कोवालिया पर भड़के

पूर्व ब्लाॅक अध्यक्ष रजनीकांत खाब्या ने कोवालिया के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि रजनीकांत खाब्या बनने में तीन जन्म लेने पडेंगे। कोवालिया के ब्लॉक् अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी में गुटबाजी शुरू हुई है। कार्यकर्ता व पार्टी सें जुडे़ जनप्रतिनिधि नाराज है। इसकी पूरी रिपोर्ट आला नेताओं को भेजी जाएगी। कांग्रेस पार्टी को कुशलगढ में कभी नहीं टूटने दिया जाएगा। उधर, कोवालिया ने बताया कि ब्लॉक स्तरीय कोई बैठक नहीं हुई है। वे बाहर है और ऐसी किसी बैठक की जानकारी नहीं है। मेरा हर कार्यकर्ता से अच्छा व्यवहार है।

इसलिए है विवाद : जिला कांग्रेस अध्यक्ष चांदमल जैन की ओर से ब्लॉक अध्यक्ष बनाने के बाद से ही जिले में विवाद की स्थिति बनी हुई है। जैन ने कुशलगढ़ में खाब्या को हटाकर कोवालिया को अध्यक्ष बनाया। उसी दिन से कुशलगढ़ में कांग्रेस दो गुटों में बंट चुकी है। खाब्या को मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री और कुशलगढ़ के कद्दावर नेता महेश जोशी का समर्थक माना जाता है। इसके स्थान पर कोवालिया को अध्यक्ष बनाया गया है जो बागीदौरा विधायक महेन्द्रजीतिसंह मालवीया और जिलाध्यक्ष के गुट के हैं। इसके चलते यहां पर दो माह से अंदरुनी खींचतान तेज हो चुकी है जो रविवार को सामने आ गई। बैठक में जो शामिल हुए, वह भी एक गुट विशेष के थे और दूसरे गुट के लोग इससे दूर रहे।

उठाए हंै सवाल

प्रधान रमीला खडिया नें बताया कि आगामी चुनाव के लिए रणनीति बनाने के लिए बैठक रखी गई जिसमें ब्लाॅक अध्यक्ष की कार्यशैली कों लेकर भी कुछ सरपंच व कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताई है।

जिलाध्यक्ष बोले, जानकारी नहीं

जिलाध्यक्ष चांदमल जैन से जब इस बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि कुशलगढ़ में कांग्रेस की बैठक की सूचना नहीं है। ब्लॉक अध्यक्ष से जानकारी लेकर ही कुछ कहा जा सकता है।

X
कुशलगढ़ कांग्रेस में गुटबाजी उजागर, ब्लाॅक अध्यक्ष को लेकर हुआ विवाद, पार्टी तोड़ने के लगाए आरोप
Click to listen..