Hindi News »Rajasthan »Kushalgarh» कोतवाली से चल रही हमारी नगर परिषद फर्जीवाड़े की जांच के लिए कमेटी गठित

कोतवाली से चल रही हमारी नगर परिषद फर्जीवाड़े की जांच के लिए कमेटी गठित

भास्कर संवाददाता| बांसवाड़ा पिछले चार दिन से नगर परिषद कोतवाली थाने से चल रही है। शुक्रवार को भी यही से सफाई...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 21, 2018, 05:40 AM IST

कोतवाली से चल रही हमारी नगर परिषद फर्जीवाड़े की जांच के लिए कमेटी गठित
भास्कर संवाददाता| बांसवाड़ा

पिछले चार दिन से नगर परिषद कोतवाली थाने से चल रही है। शुक्रवार को भी यही से सफाई कर्मियों को जाब्ते के साथ काम पर ले जाया गया। लॉटरी में फर्जीवाड़े की शिकायत को लेकर नगर परिषद निशाने पर है।

इधर, बार-बार लॉटरी प्रक्रिया में फर्जीवाड़े की शिकायत और उससे उपजे विवाद को देखते हुए कलेक्टर ने भी जांच कराने के आदेश दिए हैं। एसडीएम की अध्यक्षता में 5 सदस्यीय टीम लॉटरी में फर्जीवाड़े के मामले की जांच करेगी। गौरतलब है कि इस प्रक्रिया में अपात्र को मौका और अपात्र को वंचित रखने और नगर परिषद के अधिकारी कर्मचारियों द्वारा अपने रिश्तेदारों और परिजनों को नियुक्त देने के भी आरोप लगे हैं। इस बंद कमरे में की गई इस प्रक्रिया के लेकर कुशलगढ़ नगर पालिका अध्यक्ष रेखा जोशी भी आपत्ति जता चुकी हैं और कलेक्टर से जांच कराने की मांग की है। शुक्रवार को पुराना बस स्टैंड क्षेत्र में सफाईकर्मी से हाथापाई की करने का मामला भी सामने आया है।

वहीं गुपचुप तरीके से कोतवाली में नियुक्ति पत्र लेने भी चयनित पहुंचे। पूरे मामले को लेकर अब वंचित अभ्यर्थी आयुक्त भोमाराम सैनी को ही जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। पार्षद देवबाला राठौड़ ने आयुक्त पर सफाईकर्मियों से काम करवाने में भी भेदभाव और मनमानी के भी गंभीर आरोप लगाए।

काेतवाली से पुलिस जाब्ते के साथ शहर में सफाई करने जाते सफाईकर्मी।

आयुक्त मनमाने तरीके से चलवा रहे जेसीबी-टीपर

देवबाला राठौड़ ने कहा कि 219 कर्मचारियों की सिर्फ सफाई कराने के लिए भर्ती हुई है। जबकि आयुक्त अपने मनमाने तरीके से कुछ से जेसीबी और टीपर चलवा रहे हैं। बताया जा रहा है कि पहले भी कई सफाई कर्मचारी अपने प्रभाव से कार्यालय में सेवाएं दे रहे हैं। ऐसे में इस आदेश के बाद उन्हें भी अब फिल्ड में सफाई करने जाना होगा।

दूसरे काम कराने के लिए भी लेनी होगी स्वीकृति

संयुक्त सचिव पवन अरोड़ा ने आदेश में कहा कि यदि सफाई कर्मचारी विशेष परिस्थिति में गैर सफाई कार्य पर लगाया जाता है तो उसकी पहले निदेशालय से अनुमति लेनी होगी। कर्मचारियों से दूसरे काम लेने की आ रही शिकायतों को गंभीर बताया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kushalgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×