Hindi News »Rajasthan »Kushalgarh» जिस पुलिया से पिछले साल एसडीएम बह गए थे, उसी मार्ग पर 3 पुलिया की रेलिंग ही नहीं

जिस पुलिया से पिछले साल एसडीएम बह गए थे, उसी मार्ग पर 3 पुलिया की रेलिंग ही नहीं

पिछले साल तेज बारिश के दौरान बांसवाड़ा कुशलगढ़ टिमेड़ा मार्ग पर भोयन घाटी के पास बागड़ी नदी की पुलिया से बहकर तत्कालीन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 26, 2018, 04:50 PM IST

जिस पुलिया से पिछले साल एसडीएम बह गए थे, उसी मार्ग पर 3 पुलिया की रेलिंग ही नहीं
पिछले साल तेज बारिश के दौरान बांसवाड़ा कुशलगढ़ टिमेड़ा मार्ग पर भोयन घाटी के पास बागड़ी नदी की पुलिया से बहकर तत्कालीन एसडीएम रामेश्वरदयाल मीणा की मौत हो गई थी। उसी रास्ते पर तीन पुलिया ऐसी है, जिस पर रेलिंग ही नहीं है, ऐसे में इस साल भी बारिश के दौरान बड़ा हादसा होने की आशंका बढ़ गई। फिर भी जनप्रतिनिधि, प्रशासन और पीडब्ल्यूडी नहीं चेता है। बारिश से पहले सड़कों और पुलियाओं का रखरखाव करने की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी की है, लेकिन उसका गैर जिम्मेदाराना रवैया लोगों की जान का दुश्मन बना हुआ है। 24 घंटे वाहनों की आवाजाही वाले इस मार्ग पर बनी पुलिया पर हर पल हादसे का डर बना हुआ है।

घाटी की दूरी 25 किमी है, ऐसे में इस मार्ग टिमेड़ा के दोनों तरफ दो पुलिया और बागड़ी नदी के पुलिया पर बारिश में कभी भी बड़ा हादसा होने की संभावना है। ये तीनों पुलिया बहुत पहले बने हैं, जिन पर न रेलिंग है और न ही किसी प्रकार की सुरक्षा दीवार। क्षेत्रवासियों ने मानसून पूर्व इन तीनों पुलिया पर रेलिंग और सुरक्षा दीवार बनवाने की मांग की है ताकि हादसों से बचा जा सके।

कुशलगढ़ बांसवाड़ा मार्ग पर बागड़ी नदी का पुलिया, जिसकी रेलिंग नहीं है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kushalgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×