• Home
  • Rajasthan News
  • Ladnu News
  • 2 अप्रैल को लाडनूं बंद रखे जाने को लेकर विभिन्न समाजों की बैठक, किया जनसंपर्क
--Advertisement--

2 अप्रैल को लाडनूं बंद रखे जाने को लेकर विभिन्न समाजों की बैठक, किया जनसंपर्क

रेगर बस्ती स्थित शीतला माता मंदिर चौक में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति समाज के लोगों की एक बैठक हुई। जिसमें 2...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:10 AM IST
रेगर बस्ती स्थित शीतला माता मंदिर चौक में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति समाज के लोगों की एक बैठक हुई। जिसमें 2 अप्रैल को भारत बंद आह्वान के तहत लाडनूं बंद रखने जाने को लेकर चर्चा की गई। साथ ही कार्यक्रम की पूरी रूप रेखा बनाई गई। बैठक में रेगर, हरिजन, खटीक, सांसी सहित अनेक दलित समाज के लोग मौजूद रहे। इस मौके पर भोमराज नायक, ईश्वर मेघवाल, हरीश मेहरड़ा, हरेन्द्र जेवरिया, ओमप्रकाश गांधी, कन्हैयालाल मौर्य, जसकरण सूर्या, जयनारायण रैगर, विनोद परिहार, अंकित सूर्या, हड़मान प्रसाद फुलवारिया ने विचार व्यक्त किए। इस दौरान समाज अध्यक्ष हनुमान मल फुलवारिया, रामसिंह रेगर, मदनलाल पटवारी, रामलाल धौलपुरिया, अशोक मौर्य, महावीर नवल, प्रकाशचंद मौर्य, मुकेश फुलवारिया आदि मौजूद रहे। वहीं अखिल भारतीय अनुसूचित जाति परिषद प्रदेश सचिव कालूराम गेनाणा, ईश्वर मेघवाल, फूलचंद मालकसर सहित समाज के लोगों ने जसवंतगढ़, कसूंबी, लेड़ी, डाबड़ी, बाकलिया, दूजार सहित कई गांवों का दौरा कर जनसंपर्क किया।

मौलासर| एससी-एसटी एक्ट में किए बदलाव के विरोध में 2 अप्रैल को मौलासर बंद रखने के लिए युवाओं ने थानाधिकारी को ज्ञापन दिया। इस दौरान युवा ऋषि रोहलन, गणेश कुमार, कमल किशोर, गोपीराम, मुकेश कुमार, गोपालराम, हेमाराम बारूपाल, धर्माराम, रामनारायण, नंदकिशोर, पवन कुमार, भवानी सहित अनेक युवाओं ने एससी-एसटी एक्ट के साथ छेड़छाड़ के विरोध में 2 अप्रैल को भारत बंद को लेकर मौलासर को भी बंद रखने के लिए प्रशासन से सहयोग मांगा है। इस दौरान अनेक युवा भी उपस्थित रहे।