Hindi News »Rajasthan »Ladnu» खानपुरा पहुंची शहीद सम्मान यात्रा, भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए ग्रेनेडियर राठौड़ के घर पहुंच परिजनों को किया सम्मानित

खानपुरा पहुंची शहीद सम्मान यात्रा, भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए ग्रेनेडियर राठौड़ के घर पहुंच परिजनों को किया सम्मानित

शहीद सम्मान यात्रा मंगलवार को खानपुरा पहुंची। भारत-पाक युद्ध में शहीद होने वाले ग्रेनेडियर तेज सिंह राठौड़ के घर...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 30, 2018, 04:55 AM IST

खानपुरा पहुंची शहीद सम्मान यात्रा, भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए ग्रेनेडियर राठौड़ के घर पहुंच परिजनों को किया सम्मानित
शहीद सम्मान यात्रा मंगलवार को खानपुरा पहुंची। भारत-पाक युद्ध में शहीद होने वाले ग्रेनेडियर तेज सिंह राठौड़ के घर पहुंचकर परिजनों का सम्मान किया गया। इस मौके पर राज्य सैनिक कल्याण बोर्ड एवं सैनिक सलाहकार समिति के अध्यक्ष प्रेमसिंह बाजोर ने कहा कि देश की रक्षा के लिए शहीद होने वाले जवान भगवान से कम नहीं होते। उन्होंने कहा कि शहीद सम्मान यात्रा में हर शहीद के घर जाकर शहीदों के परिजनों का सम्मान किया जा रहा है। उनकी समस्याएं सुनकर तत्काल निस्तारण भी किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि शहीद के परिवार से एक सदस्य को सरकारी नौकरी, शहीद के नाम से स्कूल अथवा कॉलेज का नामकरण, मूर्ति बनवाने, मूर्ति लगाने के लिए स्थान चिह्नित कर जमीन आवंटन व पट्टा जारी करवाने और चारदीवारी बनवाने के लिए सरकार कटिबद्ध है। नरपतसिंह गौड़ ने कहा कि शहीद तेजसिंह खानपुर गांव में भोमियाजी के रूप में पूजे जाते हैं। यहां उनका देवरा बना हुआ है। उनका बलिदान युवाओं को प्रेरणा देता रहेगा। अतिथियों ने शहीद तेजसिंह के देवरा पर धोक लगाकर पुष्पांजलि अर्पित की।

शहीद तेजसिंह के इकलौते पुत्र राजेंद्र भी सेन में दे चुके हैं सेवा

विधायक मनोहरसिंह, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल मदनसिंह जोधा, शहीद सम्मान यात्रा समिति के सदस्य कर्नल जगदेवसिंह, एसडीएम रामसिंह राजावत आदि ने शहीद के इकलौते पुत्र राजेंद्र सिंह राठौड़ का सम्मान किया। राजेंद्र सिंह भी सेना में सेवा देकर रिटायर्ड हो चुके हैं। हर्षिता कंवर ने स्वागत गीत पर नृत्य किया। रोहित भोजक एंड पार्टी ने देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति दी। राजेंद्र सिंह ने गांव के होनहार विद्यार्थियों को गिफ्ट पैक देकर प्रोत्साहित किया। शहीद के परिवार की तरफ से एक मांग-पत्र भी दिया गया। इस मौके पर पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष कैप्टन असगर खां, सरपंच हरदयाल रूलानिया, एसआई लालचंद, गजेंद्र सिंह ओडिंट और रघुवीरसिंह खानपुुर आदि मौजूद रहे।

लाडनूं

बाजौर ने किया शहीदों के परिजनों का सम्मान

डीडवाना| शहीदों का सम्मान एवं देश की रक्षा करने वालो सैनिकों का हित भाजपा सरकार ने ही किया हैं, पूर्व में अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने शहीदों की शहादत को सैन्य सम्मान के साथ विशेष पैकेज के साथ किए जाने का फैसला किया था जो आज भी जारी हैं। आज बोर्डर पर हमारे सैनिक सीना तानकर दुश्मनों से लोहा ले रहे हैं यह बात सैनिक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष राज्यमंत्री प्रेमसिंह बाजौर ने शहीदों के परिजनों के सम्मान समारोह के दौरान कही। राज्य मंत्री बाजौर मंगलवार को सरकार द्वारा दिए निर्देशों की पालना के तहत शहीद सम्मान यात्रा कार्यक्रम के अनुसार शहीदों की मूर्ति जहां लगी हुई है वहां पुष्प अर्पित करना, जहां मूर्ति नहीं है वहां शहीदों के घर जाकर विरांगनाओं, आश्रितों व परिजनों का सम्मान कर उनकी समस्याएं सुनकर मौके पर ही उपस्थित अधिकारियों को समाधान करने के निर्देश भी दिए। इस दौरान बाजौर ने लाडनूं में शहीद अजीम खां, शहीद सवाई खां, शहीद दौलत खां, शहीद अलादीन खां, मंगलपुरा में शहीद मोहनसिंह, सुनारी में शहीद मोडाराम, हुड़ास में किशोर सिंह, ढ़िगसरी में शहीद मूलाराम, खामियाद में शहीद नंदकिशोर, सींवा में शहीद सुगनसिंह के परिजनों का सम्मान किया व केन्द्र व राज्य सरकार की शहीद सैनिकों के परिजनों को देय सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। इस दौरान सैनिक कल्याण सलाहकार समिति सदस्य कर्नल जगदेव सिंह, लाडनूं विधायक मनोहर सिंह, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल मदनसिंह जोधा, एसडीएम लाडनूं रामसिंह राजावत ने भी सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ladnu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×