लाडनू

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Ladnu News
  • लाडनूं के जैन मंदिर में चातुर्मास: एक साथ 108 जैन श्रावकों ने दिगंबर मुनियों को आहारचर्या कराकर बनाया रिकॉर्ड
--Advertisement--

लाडनूं के जैन मंदिर में चातुर्मास: एक साथ 108 जैन श्रावकों ने दिगंबर मुनियों को आहारचर्या कराकर बनाया रिकॉर्ड

यहां बड़ा जैन मंदिर में चातुर्मास प्रवास कर रहे दिगंबर जैन मुनि द्वय मुनिश्री संबुद्ध सागर महाराज व सक्षम सागर...

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 05:40 AM IST
लाडनूं के जैन मंदिर में चातुर्मास: एक साथ 108 जैन श्रावकों ने दिगंबर मुनियों को आहारचर्या कराकर बनाया रिकॉर्ड
यहां बड़ा जैन मंदिर में चातुर्मास प्रवास कर रहे दिगंबर जैन मुनि द्वय मुनिश्री संबुद्ध सागर महाराज व सक्षम सागर महाराज को एक साथ 108 जैन श्रावकों ने आहारचर्या करवा कर एक रिकॉर्ड किया है। मुनि द्वय को स्थानीय बड़ा जैन मंदिर से गाजे-बाजे और जुलूस के साथ नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए बस स्टैंड स्थित जैन भवन लाया गया। जहां वे आहार चर्या के लिए पहुंचे। जैन भवन में उनका बड़ी संख्या में जैन श्रावकों ने विधिपूर्वक पड़गाहन किया। लाडनूं के दिगंबर जैन समाज में एक साथ इतने श्रावकों द्वारा मुनि महाराज को आहार देने का यह पहला अवसर है। इस दौरान आहार चर्या देखने वाले जैन श्रावकों व शहर के नागरिकों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। गौरतलब है कि दिगंबर जैन संत दिन में केवल एक ही बार आहार लेते हैं व बाकी समय में पानी भी ग्रहण नहीं करते हैं। श्रावकों द्वारा उनके लिए शुद्धतम सामग्री व तरीके से आहार बनाया जाता है व आहार के समय बाल आदि अशुद्ध वस्तु के आते ही वे उसी समय खाना छोड़ देते हैं व अगले दिन ही आहार लेते हैं। जैन भवन में इस आहर चर्या के समापन के बाद दिगंबर जैन समाज द्वारा स्नेह भोज का आयोजन किया गया।



बस स्टैंड पर जैन भवन में हुआ कार्यक्रम, मुनि द्वय को मंदिर से गाजे-बाजे के साथ लाया गया समाज के भवन

ज्ञान के साथ आचरण भी श्रेष्ठ बने

इससे पहले मुनिश्री संबुद्ध सागर महाराज ने बड़ा जैन मंदिर में अपने प्रवचन में कहा कि सर्वज्ञ भगवान भव्य जीवों को उपदेश देते हैं, परंतु वे स्वयं रागद्वेष से रहित होते हैं। इन कार्यक्रमों में जैन समाज के अध्यक्ष सुरेश कासलीवाल, उप मंत्री राज पाटनी, मुनि संघ कमेटी के अध्यक्ष लादूराम जैनाग्रवाल, मंत्री महेंद्र गंगवाल, डॉ. सुरेंद्र जैन, धर्मचंद, डाॅ. योगेश जैन, सुमेरमल ठोल्या, चांद कपूर सेठी, भागचंद, महेंद्र सेठी, रोबिन बड़जात्या, सुभाष, अंकुश सेठी, सुभाष सेठी, भागचंद, संजय कासलीवाल, नरेंद्र, टिंकू कासलीवाल, शांतनु कासलीवाल, बाबू पांड्या, रजनीश मच्छी, संतोष गंगवाल, सुरेंद्र सेठी, प्रकाश पाण्ड्या, र|ीदेवी बड़जात्या, सुशीला कासलीवाल, सुशीला सेठी, प्रेम सेठी, रंजू पाण्ड्या आदि इन कार्यक्रमों में उपस्थित थे।

इससे पहले मुनिश्री संबुद्ध सागर महाराज ने बड़ा जैन मंदिर में अपने प्रवचन में कहा कि सर्वज्ञ भगवान भव्य जीवों को उपदेश देते हैं, परंतु वे स्वयं रागद्वेष से रहित होते हैं। इन कार्यक्रमों में जैन समाज के अध्यक्ष सुरेश कासलीवाल, उप मंत्री राज पाटनी, मुनि संघ कमेटी के अध्यक्ष लादूराम जैनाग्रवाल, मंत्री महेंद्र गंगवाल, डॉ. सुरेंद्र जैन, धर्मचंद, डाॅ. योगेश जैन, सुमेरमल ठोल्या, चांद कपूर सेठी, भागचंद, महेंद्र सेठी, रोबिन बड़जात्या, सुभाष, अंकुश सेठी, सुभाष सेठी, भागचंद, संजय कासलीवाल, नरेंद्र, टिंकू कासलीवाल, शांतनु कासलीवाल, बाबू पांड्या, रजनीश मच्छी, संतोष गंगवाल, सुरेंद्र सेठी, प्रकाश पाण्ड्या, र|ीदेवी बड़जात्या, सुशीला कासलीवाल, सुशीला सेठी, प्रेम सेठी, रंजू पाण्ड्या आदि इन कार्यक्रमों में उपस्थित थे।

X
लाडनूं के जैन मंदिर में चातुर्मास: एक साथ 108 जैन श्रावकों ने दिगंबर मुनियों को आहारचर्या कराकर बनाया रिकॉर्ड
Click to listen..