--Advertisement--

ट्रकों की टक्कर में एक की मौत, एक घायल

रविवार शाम को नेशनल हाईवे 65 पर बाटड़ानाऊ के पास दो ट्रकों की भिड़ंत में ट्रक चालक पंजाब निवासी युवक की मौत हो गई तथा...

Danik Bhaskar | May 07, 2018, 05:00 AM IST
रविवार शाम को नेशनल हाईवे 65 पर बाटड़ानाऊ के पास दो ट्रकों की भिड़ंत में ट्रक चालक पंजाब निवासी युवक की मौत हो गई तथा खलासी घायल हो गया। दूसरे ट्रक के चालक काे मामूली खरोंच आई। भिड़ंत इतनी जबरदस्त थी कि एक ट्रक पलट गया तथा दूसरे के आगे का हिस्सा चकनाचूर हो गया। मामले के अनुसार पंजाब से लोहे के एंगल भरकर जोधपुर की ओर जा रहे ट्रक की तारानगर जा रहे टाइल्स से भरे ट्रक की आमने सामने की टक्कर हो गई। इससे लोहे के एंगल से भरे ट्रक का अगला हिस्सा पूरी तरह चकनाचूर हो गया एवं टाइल्स से भरा ट्रक पलट गया। हादसे में पंजाब के पटियाला निवासी चालक गुरमित सिंह पुत्र महल सिंह घायल हो गया तथा उसके साथी की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।108 एंबुलेंस की सहायता से घायल को फतेहपुर के धानुका अस्पताल ले जाया गया एवं मृतक का शव लक्ष्मणगढ़ सीएचसी में रखवाया गया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बताया कि मृतक की शिनाख्त नहीं हुई है। ट्रक पर लिखे गए मोबाइल नंबरों के आधार पर पटियाला पंजाब निवासी ट्रक के मालिक को सूचना दी गई है जो रवाना हो गए हैं। हादसे के बाद हाईवे पर वाहनों की कतार लग गई।

निगेटिव न्यूज

सिर्फ वही नकारात्मक खबर, जो अापको जानना जरूरी है।

एक दर्जन लोगों पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज

रींगस| नीमकाथाना निवासी महिला ने नीमकाथाना थाने में करीब एक दर्जन लोगों के खिलाफ उसके साथ छेड़छाड़ व मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया। नीमकाथाना पुलिस ने जीरो नंबरी एफआईआर काटकर रींगस पुलिस थाने में रविवार को भेजी। रींगस पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी। पुलिस ने बताया कि ढाणी नारायण सिंह वाली तन हीरानगर-नीमकाथाना निवासी 28 वर्षीय महिला ने मुकदमा दर्ज कराया है वह अपने पति के साथ पांच मई की शाम सवा सात बजे जयपुर से नीमकाथाना आने के लिए बस में सवार हुई थी। रींगस में करीब एक दर्जन लोग बस में सवार हुए। वे उसे अश्लील गालियां देने लगे। उसने व उसके पति ने विरोध किया तो दोनों के साथ मारपीट की। बस में सवार लोगों ने इसका विरोध किया तो उन्हें डरा धमकाकर चुप कर दिया। यह सिलसिला करीब 35 किलोमीटर तक चला। उनके साथ मारपीट करने वाले लोग अपने आपको सरकारी पद होने की भी धमकियां दे रहे थे। इसके बाद चला ग्राम आने पर सभी आरोपी बस से उतर गए। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करके जांच प्रारंभ कर दी।

नीमकाथाना पुलिस ने जीरो नंबरी एफआईआर काटकर भेजी रींगस पुलिस थाने