Hindi News »Rajasthan »Laxmangarh» सहकारी समिति क्रय-विक्रय केंद्र पर चना व सरसों खरीद में अनियमितता का आरोप, किसान बोले-कांटे में गड़बड़ी

सहकारी समिति क्रय-विक्रय केंद्र पर चना व सरसों खरीद में अनियमितता का आरोप, किसान बोले-कांटे में गड़बड़ी

क्रय विक्रय सहकारी समिति के चना व सरसों खरीद केंद्र पर अनियमितता व अनाज छनाई के नाम पर अवैध वसूली तथा तौलने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 05:25 AM IST

सहकारी समिति क्रय-विक्रय केंद्र पर चना व सरसों खरीद में अनियमितता का आरोप, किसान बोले-कांटे में गड़बड़ी
क्रय विक्रय सहकारी समिति के चना व सरसों खरीद केंद्र पर अनियमितता व अनाज छनाई के नाम पर अवैध वसूली तथा तौलने के कांटे में गड़बड़ी के खिलाफ काश्तकारों ने सोमवार को एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। किसानों की शिकायत पर त्वरित कार्रवाई करते हुए एसडीएम अनिल महला सीकर रोड स्थित सहकारी क्रय विक्रय केंद्र पर पहुंचे तथा वहां तैनात कर्मचारियों, ठेकेदार के आदमियों तथा तुलाई एवं अनाज बेचने आए काश्तकारों से बात करते हुए पूरी जानकारी ली। एसडीएम ने वहां तैनात सहकारी विभाग के कर्मचारियों एवं अधिकारियों को चना एवं सरसों खरीद, तुलाई, टोकन जारी करने सहित सभी प्रक्रिया में पारदर्शिता बरतने तथा काश्तकारों के साथ शालीन व्यवहार करने की हिदायत दी। एसडीएम ने वहां तुलाई के लिए रखे इलेक्ट्रॉनिक्स कांटों की भी जांच की।

एसडीएम ने कहा कि केंद्र में कुछ बाहरी व्यक्तियों का हस्तक्षेप है जो किसानों के साथ दुर्व्यवहार करते हैं तथा अवैध रूप से वसूली की शिकायतें भी मिली हैं। उन्होंने स्टाफ को सख्त हिदायत देते हुए केंद्र में तैनात सरकारी स्टाफ एवं ठेकेदार द्वारा नियुक्त व्यक्ति का नाम एवं मोबाइल नंबर केंद्र पर चस्पा करने को कहा तथा किसी भी बाहरी व्यक्ति के हस्तक्षेप की शिकायत मिलने पर उच्चाधिकारियों को कार्रवाई के लिए लिखने की चेतावनी दी।

100 रुपए प्रति क्विंटल देने पर बिना छाने भी चल जाता है चना

एसडीएम को ज्ञापन सौंपने वाले काश्तकारों खातीपुरा निवासी नेमीचंद, मदनलाल, मुकेश, लक्ष्मण, विनोद व मामराज आदि ने बताया कि क्रय विक्रय केंद्र पर किसानों से अवैध वसूली की जा रही है। किसानों के चने छानने का दबाव बनाया जाता है। ऐसा नहीं करने की एवज में 100 रुपए प्रति क्विंटल किसानों से वसूला जा रहा है। जो किसान रुपए नहीं देते हैं, उनका अनाज छानकर छंटनी कर दिया जाता है। इसके अलावा जो कांटा लगा है, उसमें वजन में गड़बड़ी है। काश्तकारों ने 50 किलो के बाट कांटे पर रखे तो उसमें वजन 49 किलो 290 ग्राम ही आता है। मतलब किसान को प्रति क्विंटल एक किलो 420 ग्राम का सीधा नुकसान हो रहा है। किसानों ने पल्लेदारी, बरदाना, लोडिंग, अनलोडिंग के नाम पर भी अवैध वसूली की बात एसडीएम से कही।

लक्ष्मणगढ़ में अवैध वसूली की शिकायत पर एसडीएम ने किया निरीक्षण, पारदर्शिता रखने के निर्देश दिए

लक्ष्मणगढ़. क्रय-विक्रय केंद्र पर अनियमितता की जांच करने पहुंचे एसडीएम।

किसानों की शिकायत पर निरीक्षण किया : एसडीएम

काश्तकारों की शिकायत पर त्वरित कार्रवाई करते हुए क्रय विक्रय केंद्र का औचक निरीक्षण किया। कांटे की गड़बड़ी की शिकायत पर वजन करवा कर देखा तो एक कांटे में 80 से 90 ग्राम तथा दूसरे में 20 से 30 ग्राम का अंतर आ रहा था। उसे ठीक करने के लिए कहा है। केंद्र पर तैनात विभागीय कर्मचारियों एवं अधिकारियों के अलावा ठेकेदार के आदमियों के भी नाम और मोबाइल नंबर की सूची चस्पा करने के निर्देश दिए गए हैं। तुलाई केंद्र परिसर में किसी भी अनधिकृत व्यक्ति के पाए जाने वाले सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है। गड़बड़ी रोकने के लिए मैं स्वयं, तहसीलदार, गिरदावर, पटवारी समय समय पर औचक निरीक्षण करेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Laxmangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×