लक्ष्मणगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Laxmangarh News
  • दो दिन से नहीं आया घरों में पानी, महिलाओं ने किया प्रदर्शन, शाम को ही सप्लाई आ गई
--Advertisement--

दो दिन से नहीं आया घरों में पानी, महिलाओं ने किया प्रदर्शन, शाम को ही सप्लाई आ गई

दो दिनों से घरों में एक बूंद भी पानी नहीं आने से परेशान वार्ड सात व 15 के निवासियों ने जलदाय विभाग कार्यालय पर...

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 05:25 AM IST
दो दिन से नहीं आया घरों में पानी, महिलाओं ने किया प्रदर्शन, शाम को ही सप्लाई आ गई
दो दिनों से घरों में एक बूंद भी पानी नहीं आने से परेशान वार्ड सात व 15 के निवासियों ने जलदाय विभाग कार्यालय पर प्रदर्शन कर अधिकारियों का घेराव किया। महिलाओं के आक्रोश को देखते हुए विभागीय अधिकारी वार्डों में पहुंचे, जहां लोगों के आक्रोश को देखते हुए तहसीलदार एवं पुलिस भी मौके पर पहुंची। तहसीलदार गुरुप्रसाद तंवर, जलदाय विभाग के एईएन जितेन्द्र सेकसरिया व एएसआई प्रभुसिंह कालिया ने वार्डवासियों को शीघ्र समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। एईएन सेकसरिया ने शाम को घरों में पानी सप्लाई का भरोसा दिलाया। इसके बाद वार्डवासी शांत हुए। देर शाम विभाग ने ज्यादा समस्या वाले क्षेत्र के घरों में पेयजल सप्लाई शुरू की।

अपर्याप्त बिजली, चार स्त्रोत नकारा, इसलिए आई समस्या : सोमवार को आई तेज आंधी व बरसात की वजह से विभाग की आधा दर्जन पानी के स्त्रोतों की मोटरें जल गई तथा चार ओपन वेल भी डेड हो गए। जगह जगह बिजली के तार व पोल टूटने की वजह से पानी का दोहन कम हुआ तथा स्टोरेज टंकियों में पानी नहीं पहुंचाया जा सका। इसकी वजह से दूर के कुछ इलाकों में पानी सप्लाई नहीं हुआ। विभाग के एईएन जितेन्द्र सेकसरिया के अनुसार बिजली कटौती से भी जलदाय विभाग को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

लक्ष्मणगढ़. जलदाय अधिकारियों से समस्या के समाधान की मांग करती महिलाएं।

कारंगा छोटा में 150 घरों की बस्ती पानी को तरसी

फतेहपुर| ग्राम कारंगा छोटा की हरिजन बस्ती में पेयजल के लिए ग्रामीणों ने बुधवार को जलदाय विभाग के ग्रामीण कार्यालय पर प्रदर्शन किया। महिलाओं ने मटका फोड़ प्रदर्शन कर विभाग को चेतावनी दी कि यदि शीघ्र ही पेयजल व्यवस्था नहीं की गई तो अनिश्चितकालीन घेराव करेंगे। ग्रामीणों ने सीटू के बैनर तले जलदाय विभाग कार्यालय पर प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में लिखा है कि बस्ती में 150 घर हैं। यहां जलदाय विभाग ने हैंडपंप लगाया है और पंचायत ने पानी की टंकी भी बनाई है, लेकिन काफी अर्सा बीत जाने के बाद भी हैंडपंप के कनेक्शन नहीं जोड़ा गया। हरिजन बस्ती के लोगों का कहना है कि आजादी के बाद से ही उनके सामने पेयजल की समस्या है। अब हैंडपंप बन जाने के बाद भी विभागीय अधिकारियों की लापरवाही और राजनीति के कारण हैंडपंप का बिजली कनेक्शन टंकी से नहीं जोड़ा जा रहा है। माकपा नेता हेमेंद्र महला, रामप्रसाद जांगिड़, विद्याधर आदि के नेतृत्व में प्रदर्शन किया और चेतावनी दी। एईएन की अनुपस्थित में उन्होंने जेईएन को ज्ञापन दिया।

X
दो दिन से नहीं आया घरों में पानी, महिलाओं ने किया प्रदर्शन, शाम को ही सप्लाई आ गई
Click to listen..