Hindi News »Rajasthan »Laxmangarh» गोचर भूमि से अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर धरना जारी

गोचर भूमि से अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर धरना जारी

अतिक्रमण हटाने के लिए धरने पर बैठे ग्रामीण। भास्कर न्यूज | लक्ष्मणगढ़ गांव की गोचर एवं सार्वजनिक भूमि को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 04, 2018, 05:55 AM IST

गोचर भूमि से अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर धरना जारी
अतिक्रमण हटाने के लिए धरने पर बैठे ग्रामीण।

भास्कर न्यूज | लक्ष्मणगढ़

गांव की गोचर एवं सार्वजनिक भूमि को अतिक्रमण मुक्त करने की मांग को लेकर आंदोलनरत भूमा बड़ा के युवक का धरना शुक्रवार को 31वें दिन भी जारी रहा। गांव के राजेश खीचड़ ने दो जुलाई को उपखंड कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल शुरू की थी। हड़ताल के तीसरे दिन प्रशासन एवं साधु-संतो की मध्यस्थता एवं समझाइश के बाद राजेश ने भूख हड़ताल समाप्त कर दी, लेकिन गांव की पूरी गोचर भूमि को अतिक्रमण मुक्त होने तक धरना जारी रखने का ऐलान किया जो लगातार जारी है। राजेश खीचड़ ने बताया कि भूख हड़ताल समाप्त करवाते समय प्रशासन की ओर से गांव में उसी दिन अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया भी था तथा कुछ अतिक्रमण हटाए भी, लेकिन उसके बाद प्रशासन ने कुछ नहीं किया। इससे गांव में आपसी मनमुटाव की स्थिति पैदा हो गई। राजेश ने बताया कि जब तक प्रशासन गांव के चिन्हित सभी अतिक्रमण नहीं हटाता है, तब तक धरना जारी रहेगा। धरना स्थल पर राजेश के साथ प्रतिदिन भूमा बड़ा के ग्रामीणों के अलावा आसपास के अन्य गांवों के लोग भी समर्थन के लिए पहुंच रहे हैं। दूसरी ओर धरने के बावजूद प्रशासन ने अभी तक गंभीरता से नहीं लिया है। इससे ग्रामीणों में रोष है।

भास्कर न्यूज | लक्ष्मणगढ़

गांव की गोचर एवं सार्वजनिक भूमि को अतिक्रमण मुक्त करने की मांग को लेकर आंदोलनरत भूमा बड़ा के युवक का धरना शुक्रवार को 31वें दिन भी जारी रहा। गांव के राजेश खीचड़ ने दो जुलाई को उपखंड कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल शुरू की थी। हड़ताल के तीसरे दिन प्रशासन एवं साधु-संतो की मध्यस्थता एवं समझाइश के बाद राजेश ने भूख हड़ताल समाप्त कर दी, लेकिन गांव की पूरी गोचर भूमि को अतिक्रमण मुक्त होने तक धरना जारी रखने का ऐलान किया जो लगातार जारी है। राजेश खीचड़ ने बताया कि भूख हड़ताल समाप्त करवाते समय प्रशासन की ओर से गांव में उसी दिन अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया भी था तथा कुछ अतिक्रमण हटाए भी, लेकिन उसके बाद प्रशासन ने कुछ नहीं किया। इससे गांव में आपसी मनमुटाव की स्थिति पैदा हो गई। राजेश ने बताया कि जब तक प्रशासन गांव के चिन्हित सभी अतिक्रमण नहीं हटाता है, तब तक धरना जारी रहेगा। धरना स्थल पर राजेश के साथ प्रतिदिन भूमा बड़ा के ग्रामीणों के अलावा आसपास के अन्य गांवों के लोग भी समर्थन के लिए पहुंच रहे हैं। दूसरी ओर धरने के बावजूद प्रशासन ने अभी तक गंभीरता से नहीं लिया है। इससे ग्रामीणों में रोष है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Laxmangarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×