Hindi News »Rajasthan »Losal» पीड़ित ने खुद कबूल लिया झूठ नहीं हुई Rs.एक लाख की लूट

पीड़ित ने खुद कबूल लिया झूठ नहीं हुई Rs.एक लाख की लूट

लोसल इलाके में पांच दिन पहले करीब एक लाख की लूट का मामला झूठ साबित हो गया है। पीड़ित ने खुद पुलिस को लिखकर दे दिया कि...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 05:45 AM IST

लोसल इलाके में पांच दिन पहले करीब एक लाख की लूट का मामला झूठ साबित हो गया है। पीड़ित ने खुद पुलिस को लिखकर दे दिया कि उसके साथ कोई लूट नहीं हुई। मामले के अनुसार 27 जनवरी को लोसल निवासी आदिल ने पुलिस को सूचना दी कि कार सवार तीन बदमाश उससे करीब 72 हजार की चांदी व 28 हजार रुपए लूटकर फरार हो गए। सूचना मिलने के एक घंटे बाद सीकर शहर में कार सवार युवकों को पुलिस ने पकड़ लिया। ये युवक नागौर निवासी दाऊसर-खानड़ी निवासी कादर खान, धनकोली निवासी विनाेद सिंह राजपूत व रामनिवास जाट थे। लोसल थाने में दोनों पक्षों से पुलिस ने पूछताछ की। इसमें युवकों ने साबित किया वे निर्दोष हैं, लेकिन आदिल लूट साबित नहीं कर सका। आखिरकार बाद में आदिल ने सच स्वीकार कर लिया और लिखकर दिया कि कोई लूट नहीं हुई है। इसके बाद पुलिस ने आदिल को छोड़ दिया, लेकिन आदिल ने फर्जी लूट की कहानी क्यों रची, यह अब भी जांच का विषय है। थानाधिकारी अभय सिंह का कहना है कि आदिल ने लिखकर दिया था कि लूट नहीं हुई है। इसके बाद उसे व तीनों युवकों को छोड़ दिया गया।

पहले से झूठ लग रही थी लूट, फिर जांच में सच आया सामने

लूट के बाद पुलिस जांच में आदिल ने बताया कि अारोपियों ने बगैर मारपीट किए लूट की वारदात को अंजाम दिया। जबकि ऐसा नहीं होता कि सीधे तौर पर हल्के तरीके से लूट हो जाए। आदिल ने स्वयं के मोबाइल से परिजनों व पुलिस को लूट की सूचना दी। सवाल यह था कि लुटेरे वारदात के समय मोबाइल कैसे छोड़कर चले गए। क्योंकि- अपराधी वारदात के समय अधिकांश तौर पर मोबाइल छीन लेता है। इन सवालों की जांच की गई तो आदिल फंस गया और लिखकर दिया कि लूट नहीं हुई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Losal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×